• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

मौसम विभाग ने बताया- इस बार कब पड़ेगी हाड़ कंपाने वाली सर्दी

|
Google Oneindia News

नई दिल्ली। सर्दी का मौसम आ चुका है, ऐसे में ज्यादातर लोगों ने जोरदार ठंड से बचने के लिए जरूरी तैयारियां करनी शुरू कर दी है। इस बार सर्दी का मौसम कैसा रहेगा, कितनी ठंड पड़ेगी इसको लेकर मौसम विभाग ने बड़ा पूर्वानुमान जताया है। इंडियन एक्सप्रेस की खबर के मुताबिक, भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने शुक्रवार को बताया कि इस बार सर्दी का मौसम देश भर में सामान्य से अधिक गर्म होगा। मौसम विभाग ने दिसंबर और फरवरी के बीच की अवधि के लिए जारी किए गए अपने बयान में बताया कि इस बार औसत न्यूनतम तापमान सामान्य से एक डिग्री सेल्सियस अधिक होगा। नॉर्दर्न मोस्ट रीजन को छोड़कर ये पूर्वानुमान देश के सभी हिस्सों के लिए है।

इस बार कैसी पड़ेगी ठंड, मौसम विभाग ने बताया

इस बार कैसी पड़ेगी ठंड, मौसम विभाग ने बताया

इस बार अगर कड़ाके की सर्दी को लेकर परेशान हैं तो आपके लिए थोड़ी राहत भरी खबर है। मौसम विभाग ने जिस तरह का पूर्वानुमान जताया है इससे ये साफ है कि इस बार हाड़ कंपाने वाली सर्दी से कुछ राहत जरूर मिल सकती है। इंडियन एक्सप्रेस के मुताबिक, मौसम विभाग ने पूर्वानुमान जताया है कि इस बार सर्दी का मौसम देश भर में सामान्य से अधिक गर्म होगा। यही नहीं आईएमडी ने अगले तीन महीनों के दौरान जबरदस्त शीत लहर चलने वाले क्षेत्र (कोर कोल्ड वेव जोन) में भी कड़ाके की शीत लहर चलने की किसी भी संभावना से इनकार किया है।

कड़ाके ठंड से मिल सकती है राहत: IMD

कड़ाके ठंड से मिल सकती है राहत: IMD

कड़ाके की शीत लहर चलने वाले क्षेत्र (कोल्ड वेव जोन) के अंतर्गत आने वाले क्षेत्रों में पंजाब, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, दिल्ली, हरियाणा, राजस्थान, उत्तर प्रदेश, गुजरात, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, बिहार, झारखंड, पश्चिम बंगाल, ओडिशा, तेलंगाना और जम्मू और कश्मीर, लद्दाख, मध्य महाराष्ट्र, मराठवाड़ा, विदर्भ और सौराष्ट्र के मौसम संबंधी उप-विभाग शामिल हैं। मौसम विभाग की ओर से बताया गया कि कोल्ड वेव जोन के दौरान दिसंबर से फरवरी में न्यूनतम तापमान सामान्य से अधिक रहेगा।

2019 अब तक का दूसरा सबसे गर्म कैलेंडर वर्ष

2019 अब तक का दूसरा सबसे गर्म कैलेंडर वर्ष

मिनिस्ट्री ऑफ अर्थ साइंस (MoES) के सचिव, एम राजीवन ने हाल ही में बताया कि 2019 अब तक का दूसरा सबसे गर्म रिकॉर्ड किया गया कैलेंडर वर्ष बन गया है। इंडियन एक्सप्रेस में छपी खबर के मुताबिक, उन्होंने कहा कि अल नीनो की स्थिति बनी हुई है और इससे तापमान सामान्य से अधिक हो सकता है। वर्तमान में, भूमध्यरेखीय प्रशांत महासागर पर गर्म ENSO-तटस्थ स्थितियां बनी हुई हैं। कुल मिलाकर मौसम विभाग की ओर से जारी पूर्वानुमान के अनुसार, देश के अधिकांश हिस्सों में शुष्क लेकिन गर्म हालात बने रहेंगे।

कड़ाके की ठंड को लेकर बड़ा अपडेट

कड़ाके की ठंड को लेकर बड़ा अपडेट

28 नवंबर को जारी किए गए मौसम विभाग के पूर्वानुमान के मुताबिक, 'न्यूनतम तापमान पूरे देश में सामान्य से अधिक रहेगा, और यह स्थिति 11 दिसंबर तक ऐसे ही चलेगी। हालांकि, मध्य भारत और पश्चिमी क्षेत्रों के साथ-साथ कर्नाटक, हिमाचल प्रदेश, पंजाब, हरियाणा और दक्षिणी जम्मू और कश्मीर के कुछ इलाके में इस अवधि के दौरान अधिकतम तापमान सामान्य से 2 डिग्री से 5 डिग्री कम रह सकता है।'

इसे भी पढ़ें:- पाकिस्तान में 'सरफरोशी की तमन्ना...' गाकर सोशल मीडिया पर वायरल हुई ये लड़की आखिर कौन है?

English summary
IMD says Winter season this year would be warmer than usual over Country
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X