महंगा-सस्ता छोड़िए, GST से जुड़ी ये 12 अनसुनी बातें पढ़िए

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। लंबे इंतजार के बाद आखिरकार 30 जून यानी शुक्रवार आधी रात को 'एक राष्ट्र एक टैक्स' सिस्टम के तहत जीएसटी देश में लागू हो गया। राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सिनेमा व उद्योग जगत और राजनीति से जुड़े लोगों के बीच संसद के सेंट्रल हॉल में जीएसटी को लॉन्च किया। जीएसटी लागू होने के बाद रोजमर्रा की कौन सी चीजें सस्ती हुईं और कौन सी महंगी, ये तो आपको पता चल गया होगा, लेकिन लॉन्चिंग के दौरान संसद भवन में कुछ ऐसा भी हुआ, जो शायद आपको किसी ने नहीं बताया होगा। आइए जानते हैं ऐसी ही 12 बातें, जो आपने मिस कर दी।

 

'द्रौपदी' ने छुए रतन टाटा के पैर

'द्रौपदी' ने छुए रतन टाटा के पैर

1:- संसद भवन के सेंट्रल हॉल में कार्यक्रम के दौरान भाजपा की सांसद रूपा गांगुली (महाभारत की द्रौपदी) ने बिजनेसमैन रतन टाटा के पैर छुए। हालांकि रतन टाटा इससे अनजान थे और जैसे ही रूपा गांगुली ने आशीर्वाद लेने के लिए उनके पैर छुए, वो चौंक गए।

2:- राष्ट्रपति चुनाव में बेशक एनसीपी अध्यक्ष शरद पवार भाजपा के उम्मीदवार रामनाथ कोविंद को समर्थन नहीं दे रहे, लेकिन जीएसटी लॉन्च के कार्यक्रम में उन्हें आगे की पंक्ति में वरिष्ठ भाजपा नेता लालकृष्ण आडवाणी के साथ बिठाया गया।

लॉन्च के दौरान बिगड़ी रामगोपाल की तबीयत

लॉन्च के दौरान बिगड़ी रामगोपाल की तबीयत

3:- सपा सांसद रामगोपाल यादव जीएसटी लॉन्च के कार्यक्रम में तो पहुंचे थे लेकिन वो सपा के प्रतिनिधि के तौर पर नहीं गए थे। अरुण जेटली ने निजी तौर पर रामगोपाल यादव से समारोह में आने की गुजारिश थी, इसलिए वो कार्यक्रम में शामिल हुए थे।

4:- लॉन्च के दौरान रामगोपाल यादव की तबीयत अचानक खराब हो गई। उन्हें बेचैनी हुई, जिसके बाद केंद्रीय मंत्री राजीव प्रताप रूडी उन्हें सेंट्रल हॉल से बाहर लेकर गए। कुछ देर बाद जब उनकी तबीयत सही हुई तो रामगोपाल दोबारा हॉल में आए।

कार्यक्रम से पहल क्यों पहुंचे ये दो मंत्री

कार्यक्रम से पहल क्यों पहुंचे ये दो मंत्री

5:- संसदीय कार्य मंत्री अनंत कुमार और मुख्तार अब्बास नकवी जीएसटी लॉन्च से काफी पहले सेंट्रल हॉल पहुंच गए थे। दोनों ने यह सुनिश्चित किया कि कार्यक्रम के लिए सारी तैयारियां सही रूप में हैं या नहीं।

6:- वित्त मंत्री अरुण जेटली को यह जिम्मेदारी दी गई थी कि वह सुनिश्चित करें कि सभी राजनीतिक दलों ने अपने प्रतिनिधि जीएसटी लॉन्च के कार्यक्रम में भेजे हैं। इसी वजह से अरुण जेटली कार्यक्रम में चाहकर भी जल्दी नहीं पहुंच पाए।

राष्ट्रपति ने मिलाया यशवंत सिन्हा से हाथ

राष्ट्रपति ने मिलाया यशवंत सिन्हा से हाथ

7:- कांग्रेस ने जीएसटी लॉन्च कार्यक्रम का बहिष्कार किया था लेकिन केरल के पूर्व वित्त मंत्री और कांग्रेस नेता करिंगोझक्काल मणि इस कार्यक्रम में शामिल हुए।

8:- राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने अपने संबोधन में जीएसटी के लिए पूर्व वित्त मंत्री यशवंत सिन्हा के योगदान का जिक्र किया। यही नहीं, सेंट्रल हॉल से बाहर निकलते समय उन्होंने यशवंत सिन्हा से हाथ भी मिलाया।

एचडी देवेगौड़ा को मंच पर स्थान

एचडी देवेगौड़ा को मंच पर स्थान

9:- बॉलीवुड अभिनेता अमिताभ बच्चन, गायिका लता मंगेशकर और दिग्गज बिजनेसमैन रतन टाटा भी इस कार्यक्रम में मौजूद थे।

10:- चार्टर्ड अकाउंटेंट एस गुरुमूर्ति को केंद्रीय ऊर्जा मंत्री पीयूष गोयल के बिल्कुल बगल में जगह दी गई थी।

11:- जीएसटी लॉन्च के कार्यक्रम में पूर्व प्रधानमंत्री एचडी देवेगौड़ा को मंच पर स्थान दिया गया।

12:- पश्चिम बंगाल के पूर्व वित्त मंत्री असीम दासगुप्ता भी जीएसटी लॉन्च के कार्यक्रम में शामिल हुए।

ये भी पढ़ें-GST लॉन्च के साथ हुए ये 10 बड़े बदलाव, क्या आपने पढ़े

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
GST launch: 12 things you have missed last night.
Please Wait while comments are loading...