• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

3 मई के बाद भी एक बार फिर से सरकार लॉकडाउन पर कर रही है विचार

|

नई दिल्ली। कोरोना वायरस संक्रमण को रोकने के लिए सरकार ने 3 मई तक लॉकडाउन की घोषणा की है, लेकिन जिस तरह से संक्रमण के मामले थमने का नाम नहीं ले रहे हैं, उसने सरकार की मुश्किल को बढ़ा दिया है। कयास लगाए जा रहे हैं कि 3 मई के बाद सरकार अलग-अलग हिस्सों में चरणबद्ध तरीके से लॉकडाउन को हटा सकती है, लेकिन इस बात पर विचार किया जा रहा है कि लॉकडाउन को एक बार फिर से आगे बढ़ाया जा सकता है। सोमवार को स्वास्थ्य मंत्रालय ने ने कहा कि इस महामारी से संक्रमण के मामले दोगुने होने की अवधि कम हुई है। लॉकडाउन से की वजह से संक्रमण के मामले 3.4 दिन की बजाए 7.5 दिनों में हो रहे हैं। सरकार को उम्मीद है कि अगर वह लॉकडाउन को कुछ दिनों के लिए और बढ़ाती है तो संक्रमण को रोकने में मदद मिल सकती है।

कोरोना वैक्सीन: ऑक्सफोर्ड ही नहीं, ये 6 वैक्सीन भी पहुंच चुकी हैं थर्ड फेज के ट्रायल में

एक बार फिर से बढ़ सकता है लॉकडाउन

एक बार फिर से बढ़ सकता है लॉकडाउन

सूत्रों के अनुसार हमारे बुरे दौर में भी संक्रमण के मामले 3.4 दिनों में दोगुने हो रहे थे। हम उम्मीद कर रहे हैं कि अप्रैल माह खत्म व मई की शुरुआत में 12 दिन तक पहुंच सकता है। हम धीरे-धीरे लॉकडाउन में रियायत देने की कोशिश करेंगे, लेकिन यह निश्चित है कि लॉकडाउन को एकदम से नहीं खत्म किया जाएगा, बल्कि इसे धीरे-धीरे खत्म किया जाएगा। मई अंत या जून की शुरुआत तक संक्रमण के मामलों में फिर से तेजी से बढ़ोतरी हो सकती है। लेकिन अब लोगों में जबरदस्त जागरूकता है और लोग सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कर रहे हैं, हम उम्मीद करते हैं कि संक्रमण के दोगुने होने की दर 5 दिन से नीचे जा सकती है।

जून में स्थिति बेहतर हो सकती है

जून में स्थिति बेहतर हो सकती है

सरकार का मानना है कि आने वाले समय में पीपीई, अस्पताल में बेड और वेंटिलेटर की स्थिति बेहतर होगी, लिहाजा हम मार्च की तुलना में जून में कहीं ज्यादा बेहतर स्थिति में होंगे। हालांकि अभी तक यह साफ नहीं है कि 3 मई के बाद किस तरह से लॉकडाउन को हटाया जाएगा, स्वास्थ्य मंत्रालय जिलों को रेड, ऑरेंज और ग्रीन जोन में बांट रही है और इसपर करीब से नजर रख रही है। स्वास्थ्य मंत्रालय की सचिव प्रीति सूडान ने पिछले हफ्ते राज्यों को जो पत्र लिखा था उसमे उन्होंने कहा था कि सामान्य चीजों की अनुमति तभी दी जा सकती है जब 28 दिन तक कोई भी मामला सामने ना आए।

क्या है देशभर का हाल

क्या है देशभर का हाल

रेड जोन का मतलब है जहां देश के 80 फीसदी मामले हैं, या राज्य के 80 फीसदी मामले हैं और जहां पर संक्रमण के दोगुने होने की दर 4 दिन से कम है। मौजूदा समय में 321 जिले ऐसे हैं जहां पर संक्रमण के एक भी मामले नहीं हैं। 77 जिलों में पिछले 7 दिनों में एक भी मामला सामने नहीं आया है, 62 जिलोलं में 14 दिनों में एक भी मामला सामने नहीं आया है, 17 जिलों में 21 दिनों में एक भी मामला सामने नहीं आया है, 3 जिलों में पिछले 28 दिनों में एक भी मामला सामने नहीं आया है।

इसे भी पढ़ें- Covid 19: चेतावनी देते हुए बोले WHO प्रमुख- 'इससे भी बुरा वक्त अभी आने वाला है'

12 अगस्‍त को रूस से आ रही है पहली कोरोना वायरस वैक्‍सीन, जानिए इसके बारे में सबकुछ

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Government set to plan second wave of lockdown in may end.
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X