अरुण जेटली का कांग्रेस पर पलटवार, बोले- लूट तो 2G,CWG और कोल आवंटन में हुई

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। नोटबंदी के एक साल पूरे होने से ठीक एक दिन पहले वित्त मंत्री ने कहा कि नोटबंदी के बाद भारत एक साफ, पारदर्शी और ईमानदार वित्तीय व्यवस्था की ओर बढ़ा है। वहीं नोटबंदी के असर पर बोलते हुए उन्होंने कहा कि कैश कम होने से करप्शन खत्म तो नहीं हुआ लेकिन मुश्किल जरूर हुआ है।उन्होंने कहा कि सरकार की ओर से उठाया गया यह कदम समाज के एक बड़े तबके से भ्रष्टाचार को खत्म करने और कालेधन पर अंकुश लगाने की दिशा में एक बड़ा कदम था।

कैश कम होने करप्शन करना मुश्किल हुआ- अरुण जेटली

वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कहा कि देश की अर्थव्यवस्था और देश के व्यापक हित के लिए देश में स्टेटस को बदलना था। जेटली ने कहा कि पूरे जीडीपी का पूरा 12 प्रतिशत का हिस्सा कैश हो और इसका भी 86 फीसदी बड़ी करेंसी थी। उन्होंने कहा कि जो टैक्स देता है उस पर बोझ ज्यादा रहता है। जो नहीं दे रहा उसका भी खर्चा उसे उठाना पड़ता है क्योंकि देश के चलाने के लिए पैसा तो चाहिए। ऐसे में यह एक प्रकार का अन्याय है। जो साधन गरीब के कल्याण के लिए खर्च होना है वह साधन संपन्न व्यक्ति अपनी जेब में रख लेता है। कैश पर आधारित अर्थव्यवस्था में यह भ्रष्टाचार का एक केंद्र और कारण भी होता है।

इस दौरान जेटली ने कांग्रेस पर भी निशाना साधा उन्होंने कहा कि कांग्रेस का मकसद परिवार सेवा है लेकिन हमारा मकसद देश सेवा है। हमारी और कांग्रेस की नैतिकता में बहुत अंतर है।वहीं अरुण जेटली ने कांग्रेस पर पलटवार करते हुे कहा है कि लूट  तो 2G,CWG और कोल आवंटन में हुई थी।

आपको बता दें कि आठ नवंबर पूरे देश के नौ राज्यों की राजधानियों में बीजेपी प्रेस कॉन्फ्रेंस करेगी। इसमें नोटबंदी के फायदे और कालेधन को लेकर चर्चा होगी। आठ नवंबर को यूपी की राजधानी लखनऊ में केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी प्रेस कॉन्फ्रेंस करेंगी तो चेन्नई में रक्षामंत्री निर्मला सीतारमण, प्रेस कॉन्फ्रेस करेंगी।

कमल हासन ने बर्थडे पर लॉन्च किया ऐप, राजनीतिक पारी की आगाज का पहला स्टेप

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
finance minister arun jaitely on one year of demonetization
Please Wait while comments are loading...