दिसंबर 2017 तक 18.2 फीसदी ज्यादा जमा हुआ प्रत्यक्ष कर

Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। बीते साल 2017 के दिसंबर के अनंतिम आंकड़ों के अनुसार पूरे साल में 6.56 लाख करोड़ के प्रत्यक्ष कर जमा किया गया है। यह आंकड़ा बीते साल 18.2 फीसदी ज्यादा है। केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड की ओर से जारी किए गए आंकड़ों के अनुसार दिसंबर 2017 तक 3.18 लाख करोड़ रुपए एडवांस टैक्स के रूप में मिले जो बीते साल के पेमेंट से 12.7 फीसदी ज्यादा है। इतना ही नहीं कॉर्पोरेट इनकम टैक्स के एडवांस टैक्स में 10.9 फीसदी ज्यादा बढ़ोत्तरी दर्ज की गई वहीं पर्सनल इनकम टैक्स में एडवांस टैक्स 21.6 फीसदी की बढ़ोत्तरी दर्ज की गई है। वित्तीय वर्ष साल 2017-18 के लिए कुल 67 फीसदी शुद्ध प्रत्यक्ष कर जमा होने का अनुमान लगाया गया था। अप्रैल से दिसंबर, 2017 के दौरान सकल संग्रह (धनवापसी के समायोजन से पहले) में 12.6% की वृद्धि हुई जो 7.68 लाख करोड़ रुपए है। इसके अलावा, अप्रैल से दिसंबर, 2017 तक 1.12 लाख करोड़ रुपये का रिफंड जारी किया गया है।

1.7 प्रतिशत लोगों ने आयकर चुकाया

1.7 प्रतिशत लोगों ने आयकर चुकाया

इससे पहले आयकर विभाग द्वारा जारी आंकड़ों के मुताबिक, 2 करोड़ से अधिक भारतीय या कुल आबादी के 1.7 प्रतिशत लोगों ने निर्धारण वर्ष 2015-16 में आयकर चुकाया है। आयकर रिटर्न भरने वालों की संख्या मूल्यांकन वर्ष 2015-16 (वित्त वर्ष 2014-2015) में पिछले वर्ष 3.65 करोड़ से बढ़कर 4.07 करोड़ हो गई, लेकिन वास्तव में केवल 2.06 करोड़ रूपए का भुगतान किया गया। उससे पहले साल 2014-15 में, 1.91 करोड़, रिटर्न भरने वाले 3.65 करोड़ में से आयकर का भुगतान किया था।

3 फीसदी से ज्यादा लोगों ने रिटर्न फाइल किया

3 फीसदी से ज्यादा लोगों ने रिटर्न फाइल किया

व्यक्तियों द्वारा प्राप्त कुल आय कर 2015-15 में 1.91 लाख करोड़ रुपये से 2015-16 में 1.88 लाख करोड़ रुपये रह गया। पिछले हफ्ते जारी आंकड़ों के मुताबिक 120 करोड़ आबादी में 3 फीसदी से ज्यादा लोगों ने रिटर्न फाइल किया। इनमें से 2.01 करोड़ ने आयकर नहीं दिया , 9,690 ने 1 करोड़ रुपये से अधिक का कर दिया और एक व्यक्ति ने 100 करोड़ रुपये से अधिक कर का भुगतान किया।

1.84 करोड़ रिटर्न दाखिल किए गए

1.84 करोड़ रिटर्न दाखिल किए गए

19,9 31 करोड़ रुपए, 2.80 करोड़ टैक्स भरने वालों से एकत्र किया गया था जो में 5.5 लाख रुपये से 9.5 लाख रुपये के बीच कर का भुगतान करते हैं। 1.5 लाख रुपये से कम या औसत 24,000 रुपये की आयकर के भुगतान के लिए 1.84 करोड़ रिटर्न दाखिल किए गए थे।

1.37 करोड़ ने 0 या से 2.5 लाख से कम की आय दिखाई

1.37 करोड़ ने 0 या से 2.5 लाख से कम की आय दिखाई

वर्ष 2015-16 में 4.07 करोड़ टैक्स रिटर्न फील्ड में, 82 लाख के करीब शून्य या 2.5 लाख रुपये से कम आय दिखाई है। वर्तमान में, आयकर 2.5 लाख तक की आय के लिए नहीं है। 2014-15 में, 3.65 करोड़ रुपये में टैक्स रिटर्न दर्ज किया गया, जिसमें 1.37 करोड़ ने 0 या से 2.5 लाख से कम की आय दिखाई।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Direct Tax collected up to 2017 registers 18.2 percent growth

Oneindia की ब्रेकिंग न्यूज़ पाने के लिए
पाएं न्यूज़ अपडेट्स पूरे दिन.