• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

दिल्ली हिंसा को लेकर सुप्रीम कोर्ट में दायर याचिका, कल होगी सुनवाई

|

नई दिल्ली। सीएए को लेकर दिल्ली में जिस तरह से हिंसा भड़की उसने 7 लोगों की जान ले ली, जबकि तकरीबन 50 लोग इसमे घायल हो गए हैं। दिल्ली हिंसा को लेकर अब सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की गई है, जिसपर सुप्रीम कोर्ट की दो जजों की बेंच सुनवाई करेगी। जस्टिस एसके कौल और जस्टिस केएम जोसेफ इस याचिका पर सुनवाई करने के लिए आज राजी हो गए हैं और इसे सूचिबद्ध कर लिया गया है। अब इस मामले पर कल सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई होगी। दिल्ली की हिंसा को लेकर भीम आर्मी के चीफ चंद्रशेखर आजाद, वजाहत हबीबुल्लाह और बहादुर अब्बास नकवी ने कोर्ट में याचिका दायर की है। उन्होंने याचिका दायर करके अपील की है कि कोर्ट दिल्ली पुलिस को निर्देश दे कि 24 फरवरी की हिंसा को लेकर जो शिकायतें आ रही हैं उसके आधार पर एफआईआर दर्ज करे। इसके अलावा याचिकाकर्ताओं ने यह भी अपील की है कि शाहीन बाग के प्रदर्शनकारियों को समुचित सुरक्षा व्यवस्था मुहैया कराई जाए।

sc

वहीं एक एनजीओ ने भी दिल्ली हाई कोर्ट में उत्तर पूर्वी दिल्ली में हुई हिंसा को लेकर याचिका दायर की गई है। इस याचिका में हिंसा में शामिल लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज करके गिरफ्तारी की मांग की गई है। इस बीच गृहमंत्री अमित शाह ने भी दिल्ली के हालात को लेकर बैठक की, जिसमे मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल, दिल्ली के एलजी अनिल बैजल सहित तमाम राजनीतिक दल के नेता, वरिष्ठ अधिकारियों, पुलिस कमिश्नर अमूल्य पटनायक मौजूद हैं। बता दें कि हिंसा के चलते कई जगहों पर मेट्रो ट्रेन के प्रवेश और निकास द्वार को बंद कर दिया गया है। हिंसा को देखते हुए संवेदनशील इलाको में मेट्रो स्टेशन को बंद कर दिया गया है। जिन मेट्रो स्टेशन को बंद किया गया है उसमे जाफराबाद, मौजपुर-बाबरपुर, गोकुलपुरी, जौहरी इन्कलेव और शिव विहार शामिल हैं। इसके अलावा वेलकम मेट्रो स्टेशन पर ट्रेन का संचालन बंद कर दिया गया है।

बता दें कि दिल्ली में पिछले दो दिनों से नागरिकता संशोधन कानून का विरोध और समर्थन कर रहे लोगों के बीच हिंसा भड़की हुई। लेकिन सोमवार को प्रदर्शनकारियों ने उग्र रूप धारण कर लिया। सोमवार को हुई हिंसा में 7 लोगों की मौत हो गई, जबकि कई लोग इस हिंसा में घायल हो गए हैं। दिल्ली हिंसा में हेड कॉन्स्टेबल रतन लाल की मौत हो गई है। उन्हें गोकुलपुरी में सिर पर पत्थर लग गया था, जिसके बाद उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया था, जहां उनकी मौत हो गई। वह हिंसक भीड़ पर काबू पाने की कोशिश कर रहे थे, इसी दौरान पत्थरबाजी कर रहे लोगों ने उनके सिर पर पत्थर मार दिया। इसके अलावा डीसीपी शाहदरा अमित शर्मा भी हिंसा में घायल हो गए।

इसे भी पढ़ें- Delhi Violence: अरविंद केजरीवाल ने लोगों से शांति बनाए रखने की अपील की

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Delhi Violence: Supreme court to hear petition filed different people.
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X