• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

दिल्ली के जिस होटल अर्पित पैलेस में जिंदा जल गए थे 17 लोग, वहां हाथ थामे मिले शव

|

नई दिल्ली। दिल्ली के करोलबाग स्थित अर्पित पैलेस होटल में लगी भीषण आग में फंसे लोगों ने मंगलवार तड़के के मंजर को भयावह बताया है। होटल में मौजूद रहे लोगों के साथ-साथ पड़ोस के कुछ लोगों ने भी बताया है कि लोगों बुरी तरह से चीख रहे थे, जिससे उनकी आंख खुली। करोल बाग के गुरुद्वारा रोड स्थित होटल अर्पित पैलेस की दूसरी मंजिल पर मंगलवार आग तड़के साढ़े तीन बजे आग लगी। इसमें 17 लोगों की जान चली गई है, जबकि 35 लोग घायल हैं।

आंख खुली तो जो देखा वो भयावह था

आंख खुली तो जो देखा वो भयावह था

अहमदाबाद के डॉक्टर दिलीप त्रिवेदी मंगलवार रात को अर्पित होटल में ठहरे हुए थे। वो बताते हैं, कुछ हलचल और चीखने-चिल्लाने की आवाज सुनकर मेरी आंख खुली। मैंने देखा कि पहले माले पर मेरे कमरे में धुआं हैं। मैंने दरवाजा खोला तो देखा कि भगदड़ मची हुई है। कुछ लोग नीचे फर्श पर गिरे हुए हैं। ये ऐसा आलम था जिसे बयान करना मुश्किल है। बाहर आ जाने के बाद मैंने अपनी आंखों से देखा कि जान बचाने के लिए एक शख्स ने चौथी मंजिल से छलांग लगा दी।

मैंने देखा कि लाशें बिखरी हुई थीं

मैंने देखा कि लाशें बिखरी हुई थीं

अर्पित होटल के किचन सुपरवाइजर लालचंद के बेटे 22 साल के बेचे सुबह आठ बजे होटल पहुंचे। वो बताते हैं कि जब मैं पहुंचा तो भारी भीड़ होटल में थी। अभी भी लाशें जमीन पर थीं। पुलिस लाशों को इमारत से निकालने में जुटी थी। पुलिस ने बताया है कि हर फ्लोर पर हमें लाशें मिली हैं।कई लाशों के हाथ में हाथ थे। ऐसा लगता है कि लोग जलते हुए भागे लेकिन एक-दो मंजिल उतरकर गिर गए।

करोलबाग आग हादसा: घटनास्थल पर पहुंचे केंद्रीय मंत्री ने बताया, इमरजेंसी गेट पर लगा था ताला

इमरजेंसी गेट पर ताला लगा रखा था

इमरजेंसी गेट पर ताला लगा रखा था

मंगलवार को घटनास्थल का दौरा करने के बाद केंद्रीय पर्यटन मंत्री अल्फोंस ने बताया कि अगर लोग आपातकालीन गेट पर आए भी होते तो शायद ही वो बच पाते क्योंकि इस पर ताला लगा था। अल्फोंस ने कहा कि उन्हें लगता है कि नियमों का उल्लंघन हुआ है। महापौर से बात करके यह पता करने को कहा है कि सभी नियमों का पालन हो रहा था या नहीं और अगर होटल प्रबंधन द्वारा कोई लापरवाही बरती गई तो तत्काल कार्रवाई की जाए।

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने करोलबाग अर्पित होटल में आग लगने सेमरने वाले लोगों के परिजन को पांच लाख रुपए का मुआवजा देने का ऐलान किया है। केजरीवाल ने घटनास्थल का दौरा करने के बाद मुआवजे का ऐलान किया। घटना स्थल पर पहुंचे दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने दिल्ली सरकार ने मामले में मजिस्ट्रेट जांच के आदेश दिए हैं। उन्होंने कहा कि जो भी लोग दोषी होंगे सख्त कार्रवाई की जाएगी।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
delhi Arpit Palace hotel fire Screams woke up guests, charred bodies every floor
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X