• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

इंसानों से अब जानवरों में फैला कोरोना वायरस, अमेरिका में एक साथ मरे 10,000 मिंक, जानें इनकी खासियत

|

नई दिल्‍ली। संयुक्त राज्य अमेरिका कोरोनोवायरस (कोविद -19) से सर्वाधिक प्रभावित देशों में एक है। यहां अब तक सात मिलियन से अधिक मामले दर्ज हो चुके हैं। वहीं अब अमेरिका में मनुष्‍यों के बाद कोरोना जानवरों के लिए कहर बनता जा रहा है। मनुष्‍यों से ये कोरोना वायरस अब जानवरों में फैल रहा है। अमेरिका के उटाह और विस्कॉन्सिन में 10 हजार की संख्या में Mink की मौत हो गई है। अधिकारियों के अनुसार ये वायरस मनुष्यों से जानवरों में फैला है।

mink
अमेरिका में फर फार्म हाउस में लगभग 10,000 मिंक की मौत के बाद विशेषज्ञों ने अब संकेत दिया है कि वायरस मनुष्यों से इन जानवरों में फैल गया था जिसके कारण यूटा और विस्कॉन्सिन में फर फार्म हाउस में मिंक की मौत हो गई है। सीएनएन की एक रिपोर्ट के अनुसार, कोविद -19 में अकेले यूटा में कम से कम 8,000 मिंक मारे गए हैं।
जानें क्या होते हैं मिंक और क्या होती है इनकी खासियत

जानें क्या होते हैं मिंक और क्या होती है इनकी खासियत

बता दें मिंक देखने में ऊदबिलाव जैसा लगता है। ऊदबिलाव की तरह ये भी जल और थल दोनों पर रहता है। यह एक स्तनपायी जीव है, जो उत्तरी अमेरिका और यूरोप के बहुत से भागों में पाया जाता है। यह प्राणी देखने में ही सुंदर और शरारती लगता है। मिंक ऐसे जानवर हैं जो अपने फर के लिए जाने जाते हैं। सीएनएन ने बताया, "वायरस पहली बार अगस्त में मिंक में दिखाई दिया था, इसके तुरंत बाद फार्मवर्कर्स जुलाई में बीमार हो गए थे।" इनके सुंदर फरों के कारण इनका शिकार भी किया जाता है। फर के लिए इन्‍हें फार्म हाउस में पाला भी जाता है। इनके फरो से शॉल और कम्बल जैसे गर्म वस्त्र बनाने के काम आते हैं। जिन्‍हें ओढ़ कर आपको जरा भी ठंड नहीं लगेगी। अमेरिका में पाये जाने वाले मिंक के फर ज्यादातर हल्के या गहरे भूरे होते हैं, जबकि यूरोपीयन मिंक, खासकर फार्म हाउसों में भूरे, काले और कहीं-कहीं सफेद फर वाले होते हैं। अमेरिकन प्रजाति यूरापियन मिंक से आकार में थोड़ा बड़ी होती हैं। नर की लम्बाई 24 इंच तक होती है, लेकिन मादा मिंक 20 इंच तक ही होते हैं। ये अपने पूंछ की लम्बाई 5 से 8 इंच तक और बढ़ा सकते हैं।

अमिताभ बच्‍चन से शख्‍स ने पूछा- आप दान क्यों नहीं करते, तो बिग बी ने दिया ये करारा जवाब

'मनुष्यों से मिंक में फैला वायरस'

'मनुष्यों से मिंक में फैला वायरस'

शुरुआती शोध से पता चला है कि कोरोनोवायरस "मनुष्यों से जानवरों तक" फैल चुका है। रिपोर्ट में कहा गया है कि विशेषज्ञों ने अभी तक किसी भी मामले की पहचान नहीं की है, जहां यह पाया गया कि वायरस जानवरों से मनुष्यों में प्रेषित होता है। सीएनएन ने डॉ डीन टेलर के हवाले से कहा, "यूटा में हमने जो कुछ भी देखा है, वह यह बताता है कि यह (वायरस) इंसानों से जानवरों तक चला गया है।" उन्होंने कहा, "यह एक यूनिडायरेक्शनल पथ की तरह लगता है" लेकिन कहा कि आगे का परीक्षण जारी है। विस्कॉन्सिन में, अधिकारियों का कहना है कि कोरोनोवायरस से लगभग 2,000 मिंक हैं। ये समस्या सिर्फ उटाह में नहीं है। स्थानीय प्रशासन ने फर खेत को अस्थायी रूप से अलग कर दिया है, जहां मौतों की सूचना मिली है। इससे पहले नीदरलैंड, स्पेन और डेनमार्क में ऐसे मामलों का पता चला है। अमेरिकी एजेंसी ने पुष्टि की कि जानवरों को कोविड -19 अपनी गिरफ्त में ले सकते हैं।

मिलिए सोनीपत के मोहित से जिसका कैंसर की वजह से 11 साल की उम्र में कट गया था पैर,अब बना बॉडी बिल्‍डर

मिंक ऐसे लक्षण दिखा रहे हैं जो मनुष्यों के लिए सामान्य हैं

मिंक ऐसे लक्षण दिखा रहे हैं जो मनुष्यों के लिए सामान्य हैं

सीएनएन ने बताया अमेरिकी कृषि विभाग की राष्ट्रीय पशु चिकित्सा सेवा प्रयोगशालाओं ने कोविड 19 के मामलों की पुष्टि की है। वायरस जो कोविद -19 का कारण बनता है। दर्जनों अन्य जानवरों में, जिनमें दर्जनों कुत्ते, बिल्लियां, एक शेर और एक बाघ शामिल हैं।।रिपोर्ट में कहा गया है कि ऐसा प्रतीत होता है कि कोरोनावायरस से संक्रमित मिंक ऐसे लक्षण दिखा रहे हैं जो मनुष्यों के लिए सामान्य हैं। उन्‍हें सांस लेने में कठिनाई और आंखों के चारों ओर पपड़ी पड़ रही है।

जानिए 78 की उम्र में अमिताभ बच्चन कितने घंटे करते हैं KBC की शूटिंग, लिखा- बिना मेहनत कुछ मिलता नहीं

नीदरलैंड में 60,000 मिंक मारे गए

नीदरलैंड में 60,000 मिंक मारे गए

सीएनएन ने एक अधिकारी के हवाले से कहा, "वायरस तेजी से आगे बढ़ता है और अगले दिन तक ज्यादातर संक्रमित मिंक मृत हो जाते हैं।"

अब तक, कोविड -19 के मामले मिंक में फैलने से यूटा में नौ खेतों में फैल गए हैं। हालांकि, अधिकारियों का मानना ​​है कि प्रकोप फैल सकता है, "हम अभी भी प्रकोप के बीच में हैं"। जून में, नीदरलैंड के मिंक फार्म में श्रमिकों ने 10,000 से अधिक मादा मिंक और लगभग 50,000 पबियों को इस डर से मार डाला कि वे मनुष्यों को कोरोनावायरस से संक्रमित कर सकते हैं। यह कुछ मिंक कोविद -19 के लिए सकारात्मक परीक्षण के बाद किया गया था। रायटर ने एक रिपोर्ट में कहापशु संचालकों, जो मानव संचालकों से उत्पन्न हुए थे, पहली बार अप्रैल में देखे गए थे। रिपोर्ट में कहा गया है, "मई में, डच सरकार ने दो मामलों की रिपोर्ट की, जिसमें मिंक ने मनुष्यों को बीमारी का संक्रमण किया, जो कि चीन में वैश्विक प्रकोप शुरू होने के बाद से रिकॉर्ड पर केवल जानवर से मानव मामले हैं।"

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Corona virus spread from humans to animals, 10,000 minks died in America simultaneously, know their specialty
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X