पैराडाइज पेपर्स की जांच पर CBDT, ED और RBI रखेंगी निगरानी

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। पनामा पेपर्स के बाद पैराडाइज लीक ने देश की सियासत में हलचल मचा दी है। पैराडाइज पेपर्स ने सोमवार को कई ताकतवर शख्सियतों और सेलिब्रिटीज की टैक्स चोरी का खुलासा किया है, जिनमें 700 से ज्यादा भारतीयों के नाम हैं। रिपोर्ट में उन फर्मों और कंपनियों के बारे में खुलासा किया गया है जिन्हें विदेशों में टैक्स बचाने के मकसद से खोला गया। ताजा खुलासे के बाद सेंट्रल बोर्ड ऑफ डायरेक्ट टैक्सेस CBDT, ED और RBI सक्रिय हो गए हैं। सरकार ने मल्टी एजेंसी ग्रुप बनाकर पैराडाइज लीक की मॉनिटरिंग करने के लिए कहा है।

पैराडाइज पेपर्स की जांच पर CBDT, ED और RBI रखेंगी निगरानी

बाजार नियामक सेबी विभिन्न सूचीबद्ध कंपनियों और उनके प्रवर्तकों द्वारा कोष की कथित हेराफेरी और कंपनी संचालन में खामी की जांच करेगा। इसमें विजय माल्या से जुड़े प्रवर्तक शामिल है।पैराडइज पेपर में माल्या का नाम भी शामिल है।वरिष्ठ अधिकारियों ने कहा कि माल्या से जुड़ी कुछ इकाइयों की जांच पहले ही सेबी और अन्य एजेंसियां कर रही हैं। अब अगर इंटरनेशनल कंसोर्टियम आफ इनवेस्टिगेटिव जर्नलिस्ट्स (आईसीआईजे) द्वारा सार्वजनिक किए गए दस्तावेज में कोई नया खुलासा किया गया है तो उस पर विस्तार से गौर किया जाएगा।

मोदी सरकार द्वारा एंटी ब्लैक मनी डे मनाए जाने से दो दिन पहले खुलासा हुआ है, जिसमें बहुत से भारतीयों के नाम हैं। इसके जरिए विदेशी कंपनियों और 19 टैक्स हैवेन देशों के बारे में बताया गया है। इन दस्तावेजों में भारतीयों के भी नाम शामिल हैं। 1.34 करोड़ दस्तावेजों के इस सेट को 'पैराडाइज पेपर्स' नाम दिया गया है। यह खुलासा पनामा पेपर्स के खुलासे के 18 महीनों बाद हुआ है। दोनों ही खुलासे जर्मनी के एक न्यूजपेपर Suddeutsche Zeitung ने किए हैं। इन खुलासों को करने के लिए इंटरनेशनल कंसोर्टियम ऑफ इंवेस्टिगेटिव जर्नलिस्ट्स (ICIJ) की ओर से छानबीन की गई है। आपको बता दें कि यह कंसोर्टियम 96 मीडिया ऑर्गेनाइजेशन के साथ पार्टनरशिप करके यह काम करता है।

विजय माल्या के प्रत्यर्पण पर ब्रिटिश मंत्री ने दिए सकारात्मक संकेत, बोले किरण रिजिजू

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Cbdt says Paradise Papers will be monitored through a reconstituted Multi Agency Group,Government has directed
Please Wait while comments are loading...