आम बजट पर चर्चा: कांग्रेस GST नहीं ला पाई, हम लाए तो विरोध में उतर आई, जेटली ने दिया जवाब

Written By:
Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। लोकसभा में बजट पर चर्चा के दूसरे दिन वित्त मंत्री अरुण जेटली विपक्ष के आरोपों का जवाब दिया। सदन में बजट चर्चा पर जवाब देते हुए कहा कि हमारी सरकार आने के बाद अर्थव्यवस्था ने लगातार बढ़ोतरी हासिल की और हमने वित्तीय घाटे को लगातार कम करने का काम किया। वित्त मंत्री ने कहा कि कांग्रेस सरकार देश में जीएसटी लाने की कवायद कर रही थी और वह ला नहीं पाई। अब जब हमारी सरकार उसे लाने में सफल हुई है तो कांग्रेस उसके विरोध में खड़ी है। जेटली ने कहा कि कांग्रेस अपने कार्यकाल के दौर में 31 फीसदी टैक्स लेती थी और अब 18 फीसदी के नीचे लाने की दलील दे रही है।

 वित्त मंत्री ने दिया जवाब

वित्त मंत्री ने दिया जवाब

वित्त मंत्री ने लोकसभा में बजट चर्चा के दौरान संबोधन देने वाले 36 सांसदों का भी आभार जताया। एक उदाहरण देते हुए वित्त मंत्री जेटली ने कहा कि सिंगापुर में खाने पर भी 7 फीसदी जीएसटी और मर्सिडीज गाड़ी पर भी 7 फीसदी जीएसटी है। लेकिन क्या भारत में ऐसा संभव है। वहीं जीएसटी को लाने में जल्दबाजी दिखाने पर जेटली ने कहा कि बंगाल और तृणमूल कांग्रेस हमेशा जीएसटी के पक्ष में थी। इस सदन ने जीएसटी को पास किया और 16 सितंबर 2016 को संविधान संशोधन के तहत इसे पास किया गया और पुराने टैक्स ढांचे को महज एक साल तक चलाया जा सकता था। संविधान द्वारा बताए गए समय सीमा में ही केन्द्र सरकार ने इसे लागू किया है। इसलिए विपक्ष द्वारा जल्दबाजी के आरोप का कोई मतलब नहीं है।

आधार पर जेटली ने दिया जवाब

आधार पर जेटली ने दिया जवाब

आधार पर बोलेते हुए वित्त मंत्री ने कहा कि कांग्रेस बिना किसी कानून के आधार लेकर आई थी लेकिन हमारी सरकार ने इसमें प्राइवेसी का प्रावधान जोड़कर इसे मजबूती दी है। जेटली ने कहा कि जब कांग्रेस ने आधार का विचार शुरू किया तो क्यों आज वह आधार के विरोध में सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटा रहा है। अरुण जेटली सदन में कहा कि हमारी सरकार ने चार साल से वित्तीय अनुशासन का पालन किया है और आने वाले वर्षों में भी करते रहेंगे।

आर्थिक सुधारों का फायदा हो रहा है

आर्थिक सुधारों का फायदा हो रहा है

वित्त मंत्री ने कहा सभी बड़े आर्थिक सुधारों को करने के बाद भी कोर सेक्टर ग्रोथ, डिमांड, इंडस्ट्रियल डेटा, एक्सपोर्ट डेटा में अब सुधार आना शुरू हो चुका है। इससे पहले बुधवार को कांग्रेस सांसद वीरप्पा मोइली ने सदन में बजट पर चर्चा की शुरुआत की थी। मोइली ने निवेश, बैंकिग प्रणाली जैसे मुद्दों पर सरकार को घेरने की कोशिश की। कांग्रेस से अलग सत्ताधारी दलों के सांसदों ने बजट की तारीफ करते हुए इसे जनता के लिए कल्याणकारी बताया था।

श्रीनगर हॉस्पिटल हमला: आतंकी को भगाने के आरोप में 6 लोग गिरफ्तार

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Budget Session 2018: Arun Jaitley’s dig at Congress, Suggestion to postpone GST was ‘charter to anarchy’,

Oneindia की ब्रेकिंग न्यूज़ पाने के लिए
पाएं न्यूज़ अपडेट्स पूरे दिन.