जानिए, 500 और 1000 के नोट बंद करने पर क्या बोले अमित शाह

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। मोदी सरकार द्वारा 500 और 1000 रुपए के नोट बंद करने की घोषणा के बाद आज यानी 11 नवंबर को अमित शाह ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस की और सवालों के जवाब दिए। इस प्रेस कॉन्फ्रेंस में उन्होंने विपक्षी पार्टियों पर भी जमकर निशाना साधा।

amit shah

शाह बोले कि ड्रग और हवाला का काम करने वालों को इस फैसले से बड़ा आघात लगा है। पूरी दुनिया मानती है कि कालाधन रखने वाले, नक्सली, आतंकी और कालेधन का कारोबार करने वालों के लिए यह फैसला पीड़ा देने वाला है।

उन्होंने यह भी कहा कि देश भर के लोगों ने सरकार के इस फैसले का स्वागत किया है। इस फैसले से किसी भी प्रामाणिक करदाता को नुकसान नहीं होगा। बहुत सोच समझकर सरकार ने यह फैसला किया है।

500-1000 रुपये के नोट बैन के करने के सीक्रेट का खुलासा, जानिए कैसे हुई थी प्लानिंग

जनता से की अपील

जो भी मध्यम वर्ग के लोग हैं या छोटे व्यापारी हैं उन्हें किसी दिक्कत का सामना नहीं करना पड़ेगा। अमित शाह ने भारतीय जनता पार्टी की ओर से बैंकों और उनके कर्मचारियों को धन्यवाद कहा। सरकार के इस फैसले में बैंकों द्वारा किए जा रहे सहयोग की सराहना की।

शाह ने देश की जनता से अपील करते हुए कहा कि इस कठोर कदम से देश की अर्थव्यवस्था को बहुत बड़ा फायदा होगा। शुरुआत में लोगों को कुछ परेशानी हो सकती है, इसलिए इसमें सरकार का साथ दें।

ATM से नए नोट निकालने के लिए उमड़ी भीड़, मशीन नहीं चलने से फूटा लोगों का गुस्सा

राजनीति पार्टियों पर साधा निशाना

राजनीति पार्टियों पर निशाना साधते हुए अमित शाह बोले कि कल तक जो मोदी सरकार से पूछते थे कि आपने कालेधन पर लगाम लगाने के लिए क्या किया? अब वे सरकार के इस कदम से बौखलाए हुए हैं।

उन्होंने कहा कि सभी राजनीतिक दलों को इस बात का जवाब देना चाहिए कि वह कालेधन, हवाला ऑपरेटर, कालाबाजारी करने वाले लोगों के साथ हैं या खिलाफ? शाह ने कहा कि आप, सपा, बसपा और कांग्रेस को प्रेस कॉन्फ्रेंस करके इन सवालों का जवाब देना चाहिए।

महंगाई होगी कम

शाह ने कहा कि इससे अर्थव्यवस्था तेजी से आगे बढ़ेगी और महंगाई कम होगी। उन्होंने मीडिया से अनुरोध करते हुए कहा कि वह भी लोगों का हौंसला बढ़ाएं और लोगों के बीच में फैली अफवाहों से मुक्त कराने का काम करे।

कूड़े में पड़े मिले 500-1000 के नोट, बोरी में भरकर फेंका था किसी ने

एटीएम काम न करने पर क्या कहा

अमित शाह ने कहा कि एटीएम से नोट निकालने का काम पूरी तरह से कम्प्यूटरीकृत होता है। इसमें नोट का वजन और नोट का आकार काफी मायने रखता है। जो नए नोट आए हैं उनका वजन और आकार पहले के नोट से छोटा है, जिसके चलते कुछ दिनों तक एटीएम से पैसे मिलने की दिक्कत आ सकती है।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
amit shah given answers to questions over ban of 500 and 1000 rupees
Please Wait while comments are loading...