• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

अमित शाह ने कांग्रेस पर साधा निशाना, मुस्लिम समाज के फायदे के लिए ट्रिपल तलाक कानून, कांग्रेस ने वोट बैंक के लिए किया विरोध

|

नई दिल्ली। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने तीन तलाक बिल को लेकर विपक्ष पर हमला बोला। अमित शाह ने कहा कि वोट बैंक की राजनीति के तहत तीन तलाक बिल का विरोध किया गया। उन्होंने कहा कि कुछ राजनीतिक पार्टियों को वोट बैंक की आदत पड़ गई है। वो हर चीज को वोट बैंक से जोड़ कर देखते हैं। अमित शाह ने कहा कि ऐसे ही राजनीतिक दलों की तुष्टिकरण की राजनीति के चलते इतने सालों तक तीन तलाक चलता रहा।

 Amit Shah attack congress on Triple Talaq said Congress has no shame, they say they are in favour of triple talaq & it should stay.

अमित शाह ने विपक्षी दलों और कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि कई लोग बीजेपी सरकार पर आरोप लगाते हैं कि यह काम मुस्लिम विरोधी है। उन्होंने कहा कि ये बताना जरूरी है कि तीन तलाक बिल केवल और केवल मुस्लिम समाज के फायदे के लिए है। उन्होंने कहा कि भगवान ने महिलाओं को समानता का अधिकार दिया है, जिसे ये तीन तलाक बिल स्थापित करता है। उन्होंने कहा कि तीन तलाक दुनिया के सामने भारत पर बड़ा धब्बा था, जिसे खत्म करना जरूरी था।

उन्होंने कहा कि इस कुप्रथा के लिए मुस्लिम महिलाओं ने लंबी लड़ाईयां लड़ी है। अमित शाह ने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि 23 अप्रैल 1985 को शाह बानो जी के पक्ष में फैसला आया और उस वक्त केंद्र में 400 के बहुमत के साथ राजीव गांधी की सरकार थी, लेकिन वोटबैंक के दवाब में राजीव गांधी ने कानून बनाकर सुप्रीम कोर्ट के फैसले को निरस्त करके तीन तलाक को मुस्लिम महिलाओं पर थोप दिया। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार ने मुस्लिम महिलाओं को समानता का अधिकार दिया है जो उन्हें मिलना चाहिए।

English summary
Union Home Minister Amit Shah: Even today, Congress has no shame, they say they are in favour of triple talaq & it should stay. Why? They have no answer. They didn't give a single justification for their stand & argued just to register protest so their vote bank stays intact.
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X