• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

COVID-19 के 601 अस्पतालों में 1 लाख से अधिक बेड, रोजाना हो रहे 15 हजार से ज्यादा टेस्ट: स्वास्थ्य मंत्रालय

|

नई दिल्ली। देश और दुनिया में कोरोना वायरस का कहर बढ़ता ही जा रहा है। इस वैश्विक महामारी से दुनियाभर में अब तक 17 लाख से ज्यादा संक्रमित हो चुके हैं जबकि मरने वालों का आंकड़ा भी 1 लाख को पार कर गया है। अकेले अमेरिका में ही कोरोना वायरस के 5 लाख से ज्यादा मरीजों की पुष्टि हुई है। भारत में भी कोरोना वायरस के मरीजों की संख्या में तेजी से बढ़ोतरी हो रही है। देशभर में कुल मरीजों की सख्या 8356 हो गई है। केंद्र और राज्य सरकारें मिलकर कोरोना वायरस पर काबू पाने की लड़ाई लड़ रही हैं।

1.5 lakh beds in 601 hospitals of COVID-19 more than 15 thousand tests daily says Ministry of Health

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की डेली अपडेट में संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने जानकारी दी है कि रविवार तक 8356 मामले देशभर में पाए गए हैं, शनिवार से आज तक 909 नए मामले सामने आए हैं, अभी तक 273 मौत दर्ज की गई हैं। कुल 716 मामले ठीक हो चुके हैं। उन्होंने आगे कहा, COVID19 से बचने के लिए भारत ने तेजी से तैयारी की है। देश में 601 COVID19 समर्पित अस्पताल और 1 लाख से अधिक आइसोलेशन बेड और 11,500 ICU बेड हैं।

लव अग्रवाल ने कहा, 29 मार्च तक हमारे पास 979 सकारात्मक मामले थे अब यह बढ़कर देशभर में कुल 8356 मामले हो चुके हैं। इनमें से 20% मामलों को ICU सपोर्ट की आवश्यकता है वहीं, दूसरी ओर 1671 रोगियों को ऑक्सीजन सहायता और महत्वपूर्ण देखभाल उपचार की आवश्यकता है। यह आंकड़ा इसलिए जरूरी है ताकि पता चल सके कि सरकार तैयार होने में चीजों की योजना बना रही है। उन्होंने आगे कहा, 9 अप्रैल के आंकड़ों के अनुसार, अगर हमें 1,100 बेड की आवश्यकता थी, तो हमारे पास 85,000 बेड थे। आज जब हमें 1,671 बेड की आवश्यकता है, तब हमारे पास 601 कोविड समर्पित अस्पतालों में 1 लाख 5 हजार बेड हैं।

भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद के डॉ मनोज मुहरेकर ने बताया कि रविवार तक 1,86,906 टेस्ट किए गए हैं जिसमें से 7953 पॉजिटिव पाए गए हैं, पिछले 5 दिनों में 15,747 प्रति दिन टेस्ट किए गए हैं। उन्होंने आगे बताया कि 40 से अधिक टीके विकास के अधीन हैं लेकिन कोई भी अगले चरण में नहीं पहुंचा है। अभी तक कोरोना वायरस के खिलाफ कोई टीका नहीं है। वहीं, गृह मंत्रालय की संयुक्त सचिव पुण्य सलिला श्रीवास्तव के कहा, गृह मंत्रालय ने आज राज्यों और केंद्र सरकारों को स्पष्ट किया है कि इंटर स्टेट या इंट्रा स्टेट कार्गो की आवाजाही पर कोई रोक नहीं है। चाहे आवश्यक वस्तु या किसी भी तरह का सामान ट्रांसपोर्ट हो रहा हो।

मेरठ के 9 मरीजों ने जीती कोरोना से जंग, डॉक्टरों ने बताया कौन सी दवा आई काम

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
1.5 lakh beds in 601 hospitals of COVID-19 more than 15 thousand tests daily says Ministry of Health
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X