• search
गोरखपुर न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
Oneindia App Download

गोरखपुर में फंदे से लटका मिला शिक्षक की पत्नी का शव, ससुरालियों पर हत्या का आरोप

गोरखपुर में आत्महत्या का क्रम जारी है। पिछले चार दिनों में छह आत्महत्याएं हो चुकी हैं। पांच हत्याओं की वजह आर्थिक तंगी थी तो एक की वजह महिला का उत्पीड़न। गोरखनाथ क्षेत्र के सुमेर सागर में महिला का शव शुक्रवार को लटकता मि
Google Oneindia News

Gorakhpur News: गोरखपुर में आत्महत्या का क्रम जारी है। पिछले चार दिनों में छह आत्महत्याएं हो चुकी हैं। पांच हत्याओं की वजह आर्थिक तंगी थी तो एक की वजह महिला का उत्पीड़न। गोरखनाथ क्षेत्र के सुमेर सागर में महिला का शव शुक्रवार को लटकता मिला। महिला एक शिक्षक की पत्नी थी। दो साल पहले ही उनकी शादी हुई थी। बहन की मौत पर भाई ने ससुराल वालों पर गंभीर आरोप लगाए हैं। पुलिस शिक्षक को गिरफ्तार कर पूछताछ कर रही है।

dead body

अंदर का दृश्य देख सबके होश उड़ गए ज्योति शुक्रवार को खाना खाने के बाद सोने चली गयी थी। पति मनोज जब घर आए तो पत्नी के कमरे का दरवाजा बंद था। आवाज देने पर जब वह नहीं निकली तब पति ने दरवाजा बंद तोड़ा। अंदर का दृश्य देख सबके होश उड़ गए। ज्योति का शव फंदे से लटक रहा था। उसकी मौत हो चुकी थी। पुलिस व ज्योति के घर वालो को इसकी जानकारी दी गयी। मौके पर पहुंची पुलिस ने छानबीन शुरु की। पति को गिरफ्तार कर लिया गया है। ज्योति के भाई ने इसके ससुराल वालों पर हत्या का आरोप लगाया है।

शादी के दो साल में ही उजड़ गयी ज्योति की जिंदगी
शादी के दो साल बाद ही ज्योति की जिंदगी उजड़ गई। भविष्य के कई सपने मर गए। मनोज से उसकी शादी 2020 में हुई थी।वह मानबेला के झुंगीया की रहने वाली थी ज्योति।

ससुराल वालों ने बहन को मार डाला ज्योति के भाई ने उसके ससुराल वालों पर हत्या का आरोप लगाया है। भाई का कहना है कि ससुराल के लोग उसे रोज मारते पीड़ते थे। हर वक्त ताना देते रहते थे। मायके वालों से बात तक नहीं करने देते थे।

नहीं मिलता था समय पर खाना
ज्योति ने मौत से कुछ दिन पूर्व अपनी मां से फोन पर बात की थी। तब उसकी तबियत खराब थी। उसकी मां का कहना है कि ससुराल वाले तबियत खराब होने पर न ही उसे देखने जाते थे और न ही समय पर खाना देते थे।

जेठानी का व्यहवार करती थी फुफेरी बहन
ज्योति की बुआ की लड़की की शादी भी उसी घर में हुई थी। मायके वालों ने फुफेरी बहन पर आरोप लगाया है कि वह जेठानी की तरह रहती थी और ज्योति का उत्पीड़न भी करती थी।

Gorakhpur : एक बेटी पायलेट तो दूसरी बनना चाहती थी सांइटिस्ट, पिता के साथ लगाया मौत को गले, रुला देगी ये कहानी
महज चार दिनों में गोरखपुर में छह आत्महत्याएं
पिछले चार दिनों पर नजर डाले तो गोरखपुर में छह आत्महत्याएं हो चुकी हैं। पांच हत्याओं की वजह जहां आर्थिक तंगी रही वह एक की वजह बहू का उत्पीड़न नजर आ रहा है। सोमवार को शाहपुर के घोसीपुरवा में आर्थिक तंगी झेल रहे पिता ने अपनी दो बेटियों के साथ आत्महत्या कर ली थी। वहीं गोरखनाथ क्षेत्र में मां और बेटे ने जहर खाकर जान दे दी थी।

Comments
English summary
woman dead body founded in her room in gorakhanth gorakhpur
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X