• search
गाजियाबाद न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

गाजियाबाद: पानी बर्बाद करने के आरोप में DM ने अपने स्टाफ पर लगाया 10 हजार का जुर्माना

|

गाजियाबाद। गाजियाबाद जिले के जिलाधिकारी अजय शंकर पांडेय ने खुद पर और स्टाफ के अन्य सदस्यों पर 10 हजार रुपए का जुर्माना लगा दिया है। उन्होंने ये जुर्माना पानी की बर्बादी को लेकर लगाया है। अजय शंकर पांडेय ने मीडिया को जानकारी देते हुए बताया कि कलेक्ट्रेट ऑफिस के वाटर टैंक से बहते पानी को देखने के बाद ये सख्त फैसला लिया गया।

Ghaziabad district magistrate penalty on his staff

देशभर में जल संरक्षण को लेकर लगातार अभियान चलाया जा रहा है। ऐसे में गाजियाबाद के जिलाधिकारी अजय शंकर पांडेय ने कलेक्ट्रेट ऑफिस की छत पर टंकी से पानी ओवरफ्लो होने के चलते अधिकारियों व कर्मचारियों पर 10 हजार रुपए का अर्थदंड लगाया है। दरअसल, डीएम जब ऑफिस पहुंचे तो उन्होंने वाटर टैंक के ओवरफ्लो होने के चलते उससे बाहर गिरते पानी की आवाज सुनी।

ये जगह उनके रिटाइरिंग रूम के पीछे ही थी। टैंक से पानी ओवरफ्लो के लिए पूरे स्टाफ को दोषी ठहराया गया है। जिला मजिस्ट्रेट संजय पांडे ने कलेक्ट्रोरेट स्टाफ और सभी अधिकारियों को चेतावनी दी है कि भविष्य में पानी की बर्बादी बर्दाश्त नहीं की जाएगी। उन्होंने कहा कि जल संरक्षण देश की पहली जरूरत है।

English summary
Ghaziabad district magistrate penalty on his staff
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X