• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

फिलिप ह्यूज: 27 नवंबर को मौत, 30 को था जन्मदिन

|

सिडनी। आस्ट्रेलियाई बल्लेबाज फिलिप ह्यूज इस तरह से दुनिया को अलविदा कह जायेंगे इस बात की कल्पना भी किसी ने नहीं की थी। मात्र 25 साल की उम्र में क्रिकेट में अपना लोहा मनवाने वाले फिलिप ह्यूज का तीस नवंबर को जन्मदिन था।

Australian Top Order Batsman Philip Hughes was born on 30th November Died in Hospital on 27th November

और शायद उनके जन्मदिन को यादगार बनाने के लिए ही आस्ट्रेलिया क्रिकेट समिति की ओर से भारत-आस्ट्रेलिया सीरीज के खिलाड़ियों की घोषणा नहीं की गई थी क्योंकि समिति 30 नवंबर को टीम का ऐलान करने वाली थी जिसमें वो फिलिप को टीम में शामिल करके उन्हें जन्मदिन का तोहफा देने वाली थी।

मौत के बाउंसर ने छीना फिलिफ से 30 नवंबर के जन्मदिन का जश्न

कहा जा रहा था कि क्लार्क की जगह 25 साल के नौजवान फिलिप को मिल सकती है, लेकिन किसे मालूम था कि मौत का बाउंसर फिलिप को दुनिया से ही ले जायेगा। क्रिकेट के मैदान में खिलाड़ियों को चोट लगना तो आम बात है, लारा, तेंदुलकर, कुंबले जैसे सभी महान खिलाड़ी गंभीर चोटों से दो चार हो चुके हैं लेकिन कोई चोट किसी को दुनिया से रूखसत कर सकती है यह किसी ने कभी नहीं सोचा था।

मत भूलों रमण लांबा और नारी कंट्रेक्टर से जुड़े हादसे

मात्र 25 साल के फिलिप ने बेहद ही छोटे अपने क्रिकेट करियर में वो धमाल मचा दिया था जिससे उनकी तुलना क्रिकेट के महानतम खिलाड़ी सर डॉन ब्रैडमैन से होने लगी थी। ह्यूज ने 26 टेस्ट और 25 अंतर्राष्ट्रीय एकदिवसीय मैचों में आस्ट्रेलिया का प्रतिनिधित्व किया था। टेस्ट मैचों में उन्होंने तीन जबकि एकदिवसीय में दो शतक लगाए।

ह्यूज ने 26 टेस्ट और 25 अंतर्राष्ट्रीय एकदिवसीय मैंच खेले थे

अपने पहले मैच में ही उन्होंने शतक लगाया था। न्यू साउथ वेल्स के अग्रणी रन स्कोरर ह्यूज के नाम प्रथम श्रेणी क्रिकेट में 26 शतक हैं। साल 2009 में फिलिप ने अपने करियर की शुरूआत की थी। इंटरनेशनल टेस्ट में उनका सर्वाधिक स्कोर 160 और वनडे इंटरनेशनल में उनका सर्वाधिक स्कोर 138 था।

काश फिलिप ने ना खेला होता मौत का बाउंसर

मालूम हो कि घरेलू मैच के दौरान बल्लेबाजी करते हुए सर में गेंद लगने से घायल हुए ह्यूज का इलाज के दौरान अस्पताल में गुरुवार को निधन हो गया। सीन एबॉट की बाउंसर गेंद ह्यूज के हेलमेट के नीचे से उनके सिर में लगी, जिससे उनकी खोपड़ी में फ्रैक्चर हो गया और मस्तिष्क की नस फट गई। चोट लगने के कुछ ही सेकंड के अंदर ह्यूज वहीं पिच पर गिर गए और उसके बाद मौत होने तक होश में नहीं आ सके।

बाउंसर गेंद ह्यूज के हेलमेट के नीचे से उनके सर में लगी

ह्यूज को सेंट विसेंट अस्पताल में भर्ती कराया गया था, जहां उन्हें सघन चिकित्सा कक्ष (आईसीयू) में रखा गया था। ह्यूज के मस्तिष्क का ऑपरेशन किया गया और बुधवार को उनके सिर का स्कैन भी हुआ था। मंगलवार को चोटिल होने के बाद वह (ह्यूज) होश में नहीं आए। मौत से पहले ह्यूज को किसी तरह का कष्ट नहीं था और उनके परिवार के सदस्य एवं निकट मित्र उनके पास ही थे।"

मौत कब आयेगी, कैसे आयेगी, किसे पता है

कहते हैं ना जिंदगी के लिए तो सभी रोते हैं लेकिन मौत कब आयेगी, कैसे आयेगी, किसे पता है। 26 नवंबर, 2009 को ह्यूज शेफील्ड शील्ड टूर्नामेंट के  साउथ आस्ट्रेलिया और न्यू साउथ वेल्स के बीच सिडनी क्रिकेट ग्राउंड पर जब अपना मैच खेल रहे थे तो आखिरी मौत का बाउंसर खेलने से पहले उनके जेहन में भी नहीं आया होगा कि यह मैदान, यह पिच और उनकी ओर से लगाया गया शॉट सब कुछ आखिरी है और वो दुनिया को, अपने फैंस को, अपने परिवार को छोड़कर दूर बहुत दूर जाने वाले हैं, कभी भी वापस ना आने के लिए...।

जीवनसंगी की तलाश है? भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें - निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Philip Hughes was born on 30th November, 1988. He played his first match in 2009. His last test was against England that was played on July 13 in 2013.Australian cricketer Philip Hughes who was hit by the ball on head in a match died in the hospital on 27th November,.
For Daily Alerts

Oneindia की ब्रेकिंग न्यूज़ पाने के लिए
पाएं न्यूज़ अपडेट्स पूरे दिन.

Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X
We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Oneindia sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Oneindia website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more