• search
छत्तीसगढ़ न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
Oneindia App Download

दिखा दो मुंह वाला दुर्लभ सांप, पूजा करने लगे लोग,जानिए इस सांप से जुड़ी रोचक जानकारी !

गुरुवार की दोपहर छत्तीसगढ़ के जांजगीर-चांपा जिले में दो मुह वाला एक दुर्लभ प्रजाति का सांप देखा गया । इस सांप के 2 मुंह और चार आंख थीं।
Google Oneindia News

जांजगीर-चांपा, 17 जून। दुर्लभ और अनोखे जीव जंतु कभी-कभी अचानक आबादी वाले क्षेत्रों में दिखाई दे जाते हैं,जिन्हे देखने के बाद गज़ब का कौतुहल पनपता है।गुरुवार की दोपहर छत्तीसगढ़ के जांजगीर-चांपा जिले में दो मुह वाला एक दुर्लभ प्रजाति का सांप देखा गया । इस सांप के 2 मुंह और चार आंख थीं। लोगों ने जैसे ही इस जीव को रेंगते हुए देखा ,भीड़ इकठ्ठा हो गई और जेब से मोबाइल फोन निकल आये। बहुत से लोगों ने इसकी तस्वीरें उतार ली, तो कुछ ने सांप की पूजा अर्चना करके पैसे भी चढ़ाए ।

भगवान का रूप मानकर की पूजा अर्चना

भगवान का रूप मानकर की पूजा अर्चना

गुरुवार दोपहर को जांजगीर चांपा जिले के बलौदा वन परिक्षेत्र के ग्राम शनिचरीडीह में जब ग्रामीण अपनी दिनचर्या में व्यस्त थे, तभी गांव में एक खबर तैरने लगी कि ग्रामीण परदेशी कंवर के घर में दोमुहा सांप देखा गया। ग्रामीण जब परदेशी के घर पहुंचे तो उन्होंने देखा कि उसके आंगन में एक दोमुह वाला सांप रेंग रहा था। पहले तो परदेसी कंवर और ग्रामीण सांप को देखकर अचरज में पड़ गए और घबराये। फिर बाद में उसे बिना नुकसान पहुंचाए जाने दिया।

दो मुंह वाले दुर्लभ सांप के निकलने की चर्चा गांव में फैल गई। जिसके बाद बड़ी संख्या में ग्रामीण परदेशी के घर पहुंचने लगे। आहिस्ता-आहिस्ता भीड़ जम हो गई। दुर्लभ जीव को देखकर ग्रामीणों ने उसे भगवान का रूप मानकर उसकी पूजा अर्चना भी की । एक ग्रामीण ने सांप को उठाकर तश्तरी में भी रख दिया था।

सैंड बोआ प्रजाति का है सांप

सैंड बोआ प्रजाति का है सांप

दो मुंह वाला सांप का नाम सैंड बोआ है ,जो बेहद दुर्लभ प्रजाति के होते हैं । यह सांप विलुप्ति की कगार पर है,इनकी संख्या घटती जा रही है। छोटे आकर के इन सांपो का जीवनकाल भी बहुत छोटा है। यह जीव जहरीले भी नहीं होते हैं। दूसरे सांपो की तरह यह भी एक शिकारी सरीसृप ही है। स्थान के आधार पर इनके शिकार बदलते हैं। आमतौर पर यह सांप चूहे, छिपकली, मेढक, खरगोश जैसे छोटे जानवरों को अपना शिकार बनाते हैं।

अंतर्राष्ट्रीय बाजार में है करोड़ो में कीमत

अंतर्राष्ट्रीय बाजार में है करोड़ो में कीमत

अंतराष्ट्रीय बाजार में इन सांपो की कीमत करोड़ो में आंकी जाती है, इसलिए आये दिन इनकी तस्करी की खबरे सुनाई देती हैं। यह सांप इसलिए उपयोगी है क्योंकि इससे कैंसर के इलाज और सेक्स पावर बढ़ाने की दवाएं बनाई जाती जाता हैं । माना जाता है कि लिंग में उत्तेजना न होने की समस्या के निदान में में यह काफी कारगर है। इसके अतिरिक्त दवा और जोड़ों के दर्द की दवाई बनाने में भी इसका उपयोग होता है। मलेशिया के लोगों के बीच मान्यता है कि लाल बोआ किस्मत चमकाने मददगार होता है।

इस दुर्लभ प्रजाति वाले दो मुंह के सांप को कई स्थानों पर चकलोन सांप भी कहा जाता है।हालांकि इसका सेंड बोआ नाम अधिक प्रचलित है। एक जानकारी के मुताबिक है कि तंत्र मंत्र से जुड़े लोग इस सांप का इस्तेमाल तंत्र क्रियाओं में भी करते हैं। सेक्स पावर बढ़ाने वाली दवाइयां बनाने में उपयोग आने के कारण इसकी कीमत अंतर्राष्ट्रीय बाजार में 4 करोड़ रुपए तक होती है। हाल में कई बार इसकी तस्करी करते हुए लोगों को भी पकड़ा जा चुका है।

यह भी पढ़ें अंग्रेज़ों के ज़माने के तालाब में मिला 100 साल पुराना कछुआ, ग्रामीण रह गए दंग ,फिर हुए मायूस !

Comments
English summary
Show me a rare snake with a mouth, people started worshiping, know the information related to this snake
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X