• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

Must Read: PAN कार्ड धारकों को आयकर विभाग ने दी खास चेतावनी, नहीं करें ऐसा वरना...

|

नई दिल्ली। अगर आपके पास PAN कार्ड है तो ये खबर बेहद अहम है। आयकर विभाग ने परमानेंट अकाउंट नंबर (PAN) कार्ड धारकों को लेकर अहम चेतावनी जारी की है। विभाग की ओर से कहा गया है कि कोई भी पैनकार्ड रखने वाला अपने PAN नंबर यानी परमानेंट अकाउंट नंबर को सोशल मीडिया पर शेयर नहीं करे। अगर कोई ऐसा करता है और अपने निजी डिटेल्स सार्वजनिक करता है तो कोई इसका गलत इस्तेमाल भी कर सकता है। आयकर विभाग की ओर से ये चेतावनी उस समय जारी की गई जब कई यूजर्स की ओर से ट्विटर पर सवाल पूछे गए थे।

सोशल मीडिया पर नहीं करें PAN का खुलासा

सोशल मीडिया पर नहीं करें PAN का खुलासा

दरअसल, आयकर रिटर्न भरने, आयकर रिटर्न रिफंड संबंधी कई मामले को लेकर बहुत सारे करदाताओं ने ट्विटर पर कई तरह के प्रश्न पूछे हैं। इस दौरान कई यूजर्स ने अपने PAN डिटेल्स भी ट्विटर पर शेयर कर दिए। जिसके बाद आयकर विभाग की सोशल मीडिया टीम ने टैक्सपेयर्स को ये अहम चेतावनी जारी की। इसमें विभाग की ओर से उन यूजर्स को अपनी डिटेल्स शेयर नहीं करने और ऐसे डिटेल्स ट्विटर या फिर सोशल मीडिया साइट से हटाने के निर्देश जारी किए गए हैं। आयकर विभाग की सोशल मीडिया टीम ऐसे सभी करदाताओं को चेतावनी देती रहती है या मूल्यांकन करती है जो ट्वीट में अपने पैन का उल्लेख करते हैं।

इसे भी पढ़ें:- महाराष्ट्र में कांग्रेस-NCP के बीच सीटों का फॉर्मूला तय, जानिए कितनी सीटों पर लड़ेंगे दोनों दल

आयकर विभाग ने जारी की ये चेतावनी

सोशल मीडिया साइट खास तौर से ट्विटर पर जिन यूजर्स ने अपने PAN का खुलासा किया है, उन सभी करदाताओं को जवाब देते हुए आयकर विभाग ने स्टैंडर्ड रिस्पॉन्स दिया है। आयकर विभाग ने आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर लिखा, '...हम आपसे यह अनुरोध करते हैं कि आप सोशल मीडिया पर PAN जैसे व्यक्तिगत विवरण साझा नहीं करें जिससे कोई इसका दुरुपयोग नहीं कर सके!' पैन समेत व्यक्तिगत डिटेल्स शेयर करने से आपकी निजी जानकारियों का गलत इस्तेमाल हो सकता है। कोई बदमाश आपकी जानकारी के बिना आपके नाम पर लेनदेन कर सकता है।

आयकर विभाग से कोई भी सवाल के लिए है ऑनलाइन फार्म

आयकर विभाग से कोई भी सवाल के लिए है ऑनलाइन फार्म

आयकर विभाग की ओर से बताया गया कि जो भी लोग इनकम टैक्स डिपार्टमेंट से कोई सवाल पूछना चाहते हैं तो उनके लिए विभाग की तरफ से एक ऑनलाइन क्वेरी फॉर्म लाया गया है, जहां कोई भी प्रश्न पूछ सकता है और इसका उत्तर सीधे आई-टी विभाग के अधिकारियों से प्राप्त किया जा सकता है। इस फॉर्म में आपको अपना नाम, पैन, मूल्यांकन वर्ष बताना होगा, साथ ही जिस समस्या की वजह से ये रिपोर्ट की गई है उसकी जानकारी देनी होगी। इसके अलावा मोबाइल नंबर, ईमेल आईडी, आपकी विस्तृत क्वेरी और सोशल मीडिया यूजर आईडी भी बतानी होगी।

AADHAR को लेकर भी UIDAI ने भी जारी किया अहम निर्देश

AADHAR को लेकर भी UIDAI ने भी जारी किया अहम निर्देश

ये फॉर्म मुख्य रूप से आयकर रिटर्न (ITR) के ई-फाइलिंग, प्रसंस्करण और कर वापसी का दावा करने से संबंधित प्रश्नों का उत्तर देने के लिए है। एक बार जब आप फॉर्म भर देंगे तो आयकर विभाग जल्द ही आपके सवालों का जवाब देगा या आपकी चिंताओं का समाधान करेगा। बता दें कि यूनीक आइडेंटिफिकेशन अथॉरिटी ऑफ इंडिया (UIDAI) ने भी आधार कार्ड धारकों से कहा है कि वे अपनी 12 अंकों की पहचान संख्या को सार्वजनिक रूप से साझा नहीं करें क्योंकि यह व्यक्तिगत रूप से बेहद संवेदनशील जानकारी है। आधार न केवल आपके पैन कार्ड से बल्कि बैंक खातों और यहां तक कि पासपोर्ट से भी जुड़ा हुआ है।

इसे भी पढ़ें:- भारतीय हैकर ने Uber ऐप में खोजी बड़ी खामी, मिला लाखों का इनाम

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Must Read: Income Tax department warns all PAN card holders Do not reveal PAN on social media
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X