• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

Big News: मोबाइल यूजर्स को एक बार फिर से झटका, 30% बढ़ सकता है फोन का बिल, रिचार्ज प्लान होंगे महंगे!

|

नई दिल्ली। हाल ही में टेलिकॉम कंपनियों ने अपने टैरिफ प्लान की कीमतों में इजाफा कर दिया। दिसंबर 2019 में आइडिया, वोडाफोन, एयरटेल, रिलायंस जियो ने अपने प्लान में बढ़ोतरी कर दी। लगातार हो रहे घाटे को वजह बताते हुए टेलिकॉम कंपनियों ने अपने टैरिफ प्लान में बढ़ोतरी कर दी। Airtel, Vodafone-Idea के प्लान जहां 40 से 50 फीसदी तक महंगे हो गए तो वहीं Reliance Jio ने भी अपने प्लान में बढ़ोतरी कर दी। लोग इस झटके से उबरे भी नहीं थे कि टेलिकॉम कंपनियों ने एक और झटका दे दिया।

Jio का एक और धमाका, पेश किया Budget प्लान, मात्र 98 रुपए में Free कॉलिंग, 2GB डेटा के साथ...Jio का एक और धमाका, पेश किया Budget प्लान, मात्र 98 रुपए में Free कॉलिंग, 2GB डेटा के साथ...

 टेलिकॉम कंपनियों ने दिया झटका

टेलिकॉम कंपनियों ने दिया झटका

मोबाइल यूजर्स को एक बार फिर से झटका लगा है। एक बार फिर से रिचार्ज प्लान महंगे हो सकते हैं। टेलिकॉम कंपनियां एक बार फिर से टैरिफ प्लान में बढ़ोतरी कर सकती है। आपको मोबाइल बिल का 30% तक बढ़ने की उम्मीद है। इकॉनोमिक टाइम्स में छपी रिपोर्ट के अनुसार इंडस्ट्री एग्जिक्यूटिव्स और ऐनालिस्ट्स का मानना है कि टेलिकॉम कंपनियां एक बार फिर से मोबाइल टैरिफ में 25-30 % की बढ़ोतरी कर सकती है। टेलिकॉम कंपनियों के ऐवरेज रेवेन्यू पर यूजर (ARPU) में ज्यादा बढ़ोतरी नहीं हुई है। कंपनियां अपने घाटे से उबरने के लिए एक बार फिर से यूजर्स को झटका दे सकती है।

 एक बार फिर से बढ़ेगा टैरिफ चार्ज

एक बार फिर से बढ़ेगा टैरिफ चार्ज

टेलिकॉम कंपनियों के एआरपीयू में ज्यादा की बढ़ोतरी नहीं हुई है। भारत में टेलिकॉम सर्विसेज़ पर सब्सक्राइबर्स का कुल खर्च अन्य देशों की तुलना में काफी कम है। कंपनियों को अपने घाटे को कम करने के लिए एक बार फिर से टैरिफ प्लान के बारे में सोचना पड़ रहा है। वहीं सुप्रीम कोर्ट से मिले आदेस के तहत वोडाफोन-आइडिया और भारती एयरटेल को अजस्टेड ग्रॉस रेवेन्यू (AGR) की बकाया रकम के तौर पर बड़ा भुगतान करना है। ऐसे में ये कंपनियां अपने वित्यची कंडीशन में सुधार के लिए टैरिफ बढ़ाने बढ़ाने की तैयारी कर रही है।

 मुश्किल में वोडाफोन-आइडिया

मुश्किल में वोडाफोन-आइडिया

एजीआर चार्ज के भुगतान का सबसे ज्यादा तनाव वोडाफोन-आइडिया पर है। उनके लिए मुश्किलें और भी ज्यादा अधिक हैं। सूत्रों की माने तो वोडाफोन ने टेलिकॉम बिजनेस से बाहर होने की संभावना भी जताई है। अगर वोडाफोन भारत में अपना कारोबार समेटती है तो इसका सीधा लाभ एयरटेल और रिलायंस, जियो को मिलेगा। टेलिकॉम कंपनियां इस सैल टैरिफ में 30 फीसदी बढ़ोतरी की तैयारी कर रही है।

 पहले भी दे चुके हैं झटका

पहले भी दे चुके हैं झटका

आपको बता दें कि इससे पहले दिसंबर 2019 में भारती एयरटेल, वोडाफोन-आइडिया और रिलायंस जियो ने अपने टैरिफ प्लान में बढ़ोतरी कर यूजर्स को झटके दिए। इन कंपनियों ने टैरिफ प्लान में 30 से 50 फीसदी के बीच बढ़ोतरी की। हालांकि टैरिफ प्लान में बढ़ोतरी के बावजूद रिलांयंस जियो के प्लान बाकी कंपनियों के प्लान से सस्ते हैं। जियो के तीन साल पहले मार्केट में आने के बाद से मोबाइल इंटरनेट के इस्तेमाल में बढ़ोतरी हुई है।

English summary
Big News: Telecom companies again raise Traffic plan charge, Your Mobile bill may rise up to 30%, Here is the reason.
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X