मिड-डे मील खाकर 100 छात्र बीमार, रसोइए ने बताया दाल में गिर गई थी छिपकली

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

पटना। बिहार के मिड-डे मील में लगातार गड़बड़ी का मामला सामने आ रहा है। कभी खराब खाने को लेकर छात्र और उनके अभिभावक हंगामा करते हैं तो कभी खाने में जहरीले कीड़े पाए जाते हैं। इसी तरह का फिर एक मामला बिहार के समस्तीपुर जिले में सामने आया है, जहां मिड-डे मील की बनी दाल में छिपकली गिर गई लेकिन रसोइया की लापरवाही की वजह से उसे नहीं निकाला गया और वैसे ही दाल छात्रों को खिला दी गई। मिड-डे मील का खाना खाने के बाद अचानक छात्र बीमार होने लगे और जब बीमारी की सूचना उनके परिजनों को मिली तो स्कूल पहुंचकर बीमार होने का कारण पूछा, जिस के बाद उन्हें पता चला की दाल में छिपकली गिरी हुई थी। फिर अभिभावकों ने विद्यालय परिसर में जमकर हंगामा किया। हंगामे की सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने किसी तरह मामला शांत किया और दोषी के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने की बात कही।

खाना खाते ही बच्चों की बिगड़ने लगी तबीयत

खाना खाते ही बच्चों की बिगड़ने लगी तबीयत

जानकारी के मुताबिक मामला बिहार के समस्तीपुर जिले के विभूतिपुर इलाके का है, जहां विभूतिपुर थाना क्षेत्र के भरपुरा चोचाही स्थित अपग्रेड मिडिल स्कूल में मिड-डे मील की बनी दाल में छिपकली गिर गई, जिसे खाने से 100 से ज्यादा बच्चे बीमार हो गए। बच्चों के बीमार होने की सूचना मिलने के बाद गांव के लोग आक्रोशित होकर स्कूल पहुंचे और जमकर हंगामा करने लगे। वहीं बीमार बच्चों को इलाज के लिए पीएचसी भेजा गया। परिजनों को हंगामे की सूचना मिलने के बाद मौके पर पहुंचे सीओ शिव चंद्र मिश्र ने कहा कि स्कूल में बच्चों के बीच मिड-डे मील परोसा गया। बच्चों ने खाना शुरू किया कि उन लोगों को मिचली आने लगी।

रसोइया ने बताया कि दाल में गिर गई थी छिपकली

रसोइया ने बताया कि दाल में गिर गई थी छिपकली

इसकी जानकारी जब शिक्षकों को मिली तब रसोइया मीना कुमारी ने बताया की खाना बनाने के दौरान दाल में छिपकली गिर गई थी और इस बात की जानकारी तब हुई जब बच्चों को दाल खाने के लिए दी गई थी। खाने के बाद बच्चे बीमार होने लगे और इसकी जानकारी मिलते ही स्कूल पहुंचे उनके अभिभावकों ने मामले की जांच और कार्रवाई की मांग की। तो अभिभावकों के हंगामे को देखते हुए विद्यालय शिक्षा समिति के अध्यक्ष ब्रह्मदेव सिंह, माकपा के पूर्व अंचल मंत्री सियाप्रसाद यादव, प्रखंड राजद अध्यक्ष गंगा प्रसाद यादव, आदि ने मामले की जांच व कार्रवाई की मांग की।

फिर जांच, कार्रवाई और सजा का दिया जा रहा है आश्वासन

फिर जांच, कार्रवाई और सजा का दिया जा रहा है आश्वासन

इस घटना के बाद पूरे गांव में अफवाह फैल गई की सभी बीमार बच्चों की हालत गंभीर है। इससे गांव में अफरातफरी मच गई। सभी स्कूल की ओर दौड़ गए। बच्चों की मां और परिजन जमा हो गए और रोने लगे। प्रखंड कार्यालय स्थित पीएचसी लेकर चोचाही गांव तक भीड़ जमा हो गई। वहीं जब इस लापरवाही की वजह मिड-डे मील प्रभारी दिनेश से पूछी गई तो उन्होंने कहा कि घटना की जानकारी हमें भी मिली है और विभागीय स्तर पर जांच व कार्रवाई की जा रही है।

Read more:मुंबई में जोरदार बारिश, मौसम विभाग की चेतावनी- ना जाएं समुद्र किनारे

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Bihar: Hundred students fell ill from Mid day meal, Lizard found into food
Please Wait while comments are loading...

Oneindia की ब्रेकिंग न्यूज़ पाने के लिए
पाएं न्यूज़ अपडेट्स पूरे दिन.