• search
भोपाल न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

मध्य प्रदेश: प्रज्ञा ठाकुर के विरोध के आगे झुकी शिवराज सरकार, वापस लिया सांडों की नसबंदी का फैसला

|
Google Oneindia News

भोपाल, 13 अक्टूबर। भाजपा सांसद प्रज्ञा ठाकुर के विरोध के बाद मध्य प्रदेश सरकार ने देसी सांडों की नसबंदी कराने का फैसला वापस ले लिया है। प्रज्ञा ठाकुर ने सरकार के इस फैसले का विरोध जताते हुए कहा था कि इससे गोवंश खत्म हो जाएगा। इससे पहले प्रज्ञा ठाकुर ने सीएम शिवराज सिंह चौहान से बात कर इस प्रोग्राम को तत्काल प्रभाव से रोकेने को कहा था, उन्होंने पशुपालन मंत्री प्रेम सिंह पटेल से भी इस बारे में बात की थी। दोनों ने उन्हें मामले पर संज्ञान लेने का आश्वासन दिया था।

Pragya Thakur

इसके बाद पशुपालन और डेयरी विभाग ने एक संक्षिप्त आदेश जारी करते हुए कहा कि बैलों की नसबंदी को लेकर जो आदेश जारी किया गया था, उसे अगले आदेश तक तत्काल प्रभाव से वापस लिया जाता है। बता दें कि यह अभियान राज्य में 4 से 23 अक्टूबर के बीच चलाया जाना था। नसबंदी कराने के आदेश में सांडों के लिए जो निक्रिष्ट शब्द इस्तेमाल किया गया था, प्रज्ञा ठाकुर की आपत्ति के बाद नए आदेश में इस शब्द का इस्तेमाल नहीं किया गया।

यह भी पढ़ें: अपने बेटे के दोस्तों के लिए शराब, सेक्स पार्टी आयोजित करती थी मां, कंडोम देकर लड़कियों के....

बता दें कि प्रज्ञा ठाकुर ने सांडों की नसबंदी को प्रकृति के साथ खिलवाड़ बताया था और कहा था कि यदि ऐसा किया गया तो नस्ल ही खत्म हो जाएगी। प्रज्ञा ठाकुर ने कहा था-हम गाय को नंदिनी और माता कहते हैं। मध्य प्रदेश में गोवंश को खत्म करने का षड्यंत्र चल रहा है। मैं इस आदेश के बारे में जानने के बाद बहुत दुखी हुई। इस आदेश का मकसद गोवंश को पूरी तरह खत्म करने का है।

English summary
Madhya Pradesh government withdrew the decision to sterilize bulls
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X