• search
अमेठी न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

कस्टडी में मौत: अमेठी पुलिस का दावा- व्यापारी ही था लूटकांड का मास्टरमाइंड

|

अमेठी। पुलिस हिरासत में व्यापारी की संदिग्ध मौत के बाद फजीहत झेल रही पुलिस ने चौंकाने वाला खुलासा किया है। व्यापारी के अंतिम संस्कार के बाद बुधवार की शाम प्रेस कॉन्फ्रेंस कर अमेठी की एसपी ख्याति गर्ग ने दावा किया कि व्यापारी ही प्रतापगढ़ में हुई 26 लाख की लूट का मास्टरमाइंड था।

कस्टडी में व्यापारी की मौत का मामला

कस्टडी में व्यापारी की मौत का मामला

एसपी ख्या​ति गर्ग ने बताया कि 5 अक्टूबर को यूको बैंक के शाखा प्रबंधक मनीष गौतम ने मामले की शिकायत करते हुए आरोप लगाया था कि बदमाशों ने पीपरपुर थाना क्षेत्र में बदमाशों ने लगभग 26 लाख रुपए से भरा बैग फायरिंग करते हुए लूट लिया। मामले में पुलिस टीम ने प्रतापगढ़ के जाकिर को गिरफ्तार किया। जाकिर के पास एक तमंचा और लूटा गया लगभग डेढ़ लाख रुपए भी बरामद हुआ। दूसरा आरोपी मोहम्मद अनीस को गिरफ्तार किया गया, जिसके पास से 1 लाख रुपए लूट की रकम बरामद हुई। तीसरे आरोपी साजिद अली के पास से 95 हजार रुपए लूट की रकम मिली। अमेठी पुलिस के मुताबिक, इस मामले में दो आरोपी नदीम और साहब और एक अज्ञात फरार हैं। पुलिस का दावा है कि सत्य प्रकाश शुक्ला उर्फ साजन शुक्ला को लूटकांड का मास्टरमाइंड था। एसपी के मुताबिक, सत्य प्रकाश शुक्ला को लूट की रकम में लगभग 3 लाख रुपए मिला था।

क्या है पूरा मामला

क्या है पूरा मामला

बता दें, 28 अक्टूबर की रात पीपरपुर पुलिस और एसओजी टीम ने अमेठी के बाबूगंज बाजार में रहने वाले 45 वर्षीय कारोबारी सत्य प्रकाश शुक्ला को हिरासत में लिया था। 29 अक्टूबर की सुबह पुलिस सत्य प्रकाश को सुल्तानपुर अस्पताल लेकर पहुंची, जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। मृतक सत्य प्रकाश शुक्ला के भाई का आरोप है कि पुलिस की थर्ड डिग्री से उनके भाई की मौत हुई है। वहीं, सत्य प्रकाश के बेटे ने बताया कि 10 से 12 पुलिसकर्मियों ने थाने ले जाने से पहले रास्ते में ही पिता की पिटाई शुरू कर दी थी। बेरहमी से पिटाई की वजह से उनके पिता की मौत हो गई।

प्रियंका-अखिलेश ने की थी निष्पक्ष जांच की मांग

प्रियंका-अखिलेश ने की थी निष्पक्ष जांच की मांग

परिजनों के पुलिस पर थर्ड डिग्री देने के आरोपों के बाद विपक्षी दल प्रदेश की योगी सरकार पर हमलावर हो गए। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने यूपी सरकार पर झूठी दलीलें देकर मामले को दबाने की साजिश का आरोप लगाया है।​ प्रियंका ने मामले की निष्पक्ष जांच कराने और पीड़ित परिवार को तत्काल राहत राशि देने की मांग की है। वहीं, यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री और समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश ने भी मामले की निष्पक्ष जांच के कराने की मांग की है

अमेठी: लूट के आरोप में पकड़े गए कारोबारी की कस्टडी में मौत, पुलिस पर थर्ड​ डिग्री देने का आरोपअमेठी: लूट के आरोप में पकड़े गए कारोबारी की कस्टडी में मौत, पुलिस पर थर्ड​ डिग्री देने का आरोप

English summary
amethi police disclosure on businessman death in police custody
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X