• search
अलीगढ़ न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

आरोपी संदीप ने हाथरस एसपी को लिखा पत्र, परिजनों ने कहा- पहले पीड़िता को चुपके से जलाया, अब हमें भी जहर दे दो

|

अलीगढ़। चर्चित हाथरस कांड मामले में अलीगढ़ जिला जेल में बंद आरोपियों ने हाथरस एसपी को चिट्ठी लिखी है, जिसने इस मामले ट्विस्ट को और बढ़ा दिया है। तो वहीं, अब गुड़िया (पीड़िता) के परिवार ने एक न्यूज़ चैनल को दिए बयान में कहा कि हमारे खिलाफ साजिश की जा रही है। वहीं पीड़िता की भाभी ने कहा कि पहले उसको (पीड़िता) चुपके से जला दिया। अब हम लोगों को भी जहर दे दो।

    Hathras Case: आरोपियों ने जेल से लिखी चिट्ठी, कहा- हमें झूठे केस में फंसाया गया | वनइंडिया हिंदी

    Aligarh sp Alok Singh Says Sandeep Singh gave us a letter for SP Hathras

    हाथरस एसपी को सौंपेंगे पत्र: आलोक सिंह

    अलीगढ़ एसपी आलोक सिंह ने मीडिया को जानकारी देते हुए बताया कि अलीगढ़ जिला जेल में बंद हाथरस कांड के मुख्य आरोपी संदीप सिंह ने एसपी हाथरस के लिए एक पत्र दिया है। जिसे नियमानुसार आगे बढ़ाया दिया गया है। इस पर जांच एजेंसी गौर करेगी। दरअसल, इस पत्र में संदीप सिंह लिखा, 'पीड़िता के साथ मेरी दोस्ती थी। मुलाकात के साथ मेरी कभी-कभी उससे फोन पर बात हो जाती थी। मेरी यह दोस्ती उसके घर वालों को पसंद न थी। घटना के दिन पीड़िता ने मुझे मिलने के लिए खेत में बुलाया था, जब मैं वहां गया तो पीड़िता के साथ उसकी मां और भाई मौजूद थे।'

    आरोपियों ने कि निष्पक्ष जांक की मांग

    पत्र में आरोपी संदीप ने कहा कि पीड़िता के कहने पर मैं अपने घर चला गया। अपने पिता के साथ पशुओं को पानी पिला रहा था, तभी मुझे खबर मिली कि पीड़िता की मां और उसके भाई ने पिटाई की है। उसे गंभीर चोट आई थी। बाद में उसकी मौत हो गई। मैंने कभी भी पीड़िता तो मारा नहीं है और न ही कोई गलत काम किया। संदीप का कहना है कि इस मामले में हम निर्दोष हैं। मेरे रिश्तेदार रवि और शमू को भी फंसाया गया। साथ ही लवकुश का नाम भी डाला गया है। हम चारों निर्दोष हैं और पूरे मामले की निष्पक्ष जांच की मांग करते हैं।

    हाईकोर्ट पहुंचा पीड़ित परिवार, मांगी यह इजाजत

    वहीं, दूसरी तरफ पीड़ित परिवार ने सामाजिक कार्यकर्ता सुरेंद्र कुमार द्वारा इलाहाबाद हाईकोर्ट में एक अर्जी दाखिल की है। अर्जी में पीड़ित परिवार ने लोगों से मिलने जुलने की पूरी छूट दिए जाने और अपनी बात खुलकर रखे जाने की मांग की है। अर्जी में कहा गया है कि पुलिस-प्रशासन की बंदिशों के चलते पीड़ित परिवार घर में कैद सा होकर रह गया है। बंदिशों के चलते तमाम लोग मिलने नहीं आ पा रहे हैं। परिवार किसी से खुलकर अपनी बात नहीं कह पा रहा है। सरकारी अमले पर घर से बाहर नहीं निकलने देने का भी आरोप लगाया गया है।

    ये भी पढ़ें:- हाथरस कांड के आरोपियों ने जेल से एसपी को लिखी चिट्ठी, कहा- ये ऑनर किलिंग का मामला

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    Aligarh sp Alok Singh Says Sandeep Singh gave us a letter for SP Hathras
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X