• search
वाराणसी न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

बनारस के बुनकर सरकार से हुए नाराज, फिर शुरू की अनिश्चितकालीन हड़ताल

|

वाराणसी। बनारस के बुनकर एक बार फिर सरकार से नाराज होकर अनिश्चित कालीन हड़ताल पर चले गए हैं। पिछले सितंबर महीने के बाद एक बार फिर आज से बुनकरों ने सब्सिडी पर बिजली की मांग को लेकर अनिश्चितकालीन हड़ताल शुरू कर दी है। दरअसल, फ्लैट रेट पर बिजली आपूर्ति की मांग पर सरकार की वादाखिलाफी से बुनकरों में नाराजगी है। बुनकरों का कहना है कि एक सितंबर को हड़ताल के बाद अपर मुख्य सचिव नवनीत सहगल से लखनऊ में बुनकरों की वार्ता हुई थी। इस वार्ता में सीएम योगी से चर्चा के बाद उन्होंने पुरानी व्यवस्था के तहत बुनकरों को फ्लैट रेट पर बिजली देने का वादा किया था।

varanasi powerloom workers again on strike demanding electricity bill waiver

वार्ता में बुनकरों के 1 जनवरी से 31 जुलाई 2020 तक पुरानी व्यवस्था के तहत बिजली बिल के भुगतान करने की बात भी हुई थी। नई दरों को 1 अगस्त 2020 से लागू करना था, लेकिन 40 दिन बीत जाने के बाद भी सरकार ने इसपर कोई पहल नहींं की, जिसके कारण एक बार फिर हड़ताल शुरू की गई है।

बता दें, उत्तर प्रदेश बुनकर संघ के अध्यक्ष डॉ. इफ्तिखार अहमद अंसारी के नेतृत्व में प्रतिनिधि मंडल ने मुख्यमंत्री के सचिव एवं हथकरघा उद्योग के प्रमुख सचिव नवनीत सहगल से वार्ता की थी। सचिव ने मुख्यमंत्री से वार्ता कर उन्हें पहली जनवरी से 31 जुलाई तक पुरानी व्यवस्था के तहत ही बिजली बिल भुगतान करने को कहा था, जिसके तहत पहली अगस्त से फ्लैट रेट की तरह ही दी गई नई व्यवस्था के तहत बिल का भुगतान किया जाना था। सरकार द्वारा मांगे माने पर सरदार मकबूल हसन ने बताया था कि बुनकर सभा के अध्यक्ष ने आंदोलन खत्म करने का ऐलान किया है।

COVID-19: यूपी में पिछले 24 घंटे में कोरोना के 2778 नए केस, 41 लोगों की मौत

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
varanasi powerloom workers again on strike demanding electricity bill waiver
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X