• search
वाराणसी न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

चंद्रग्रहण का साया पड़ने से पहले ही की गई मां गंगा की आरती, 27 साल में ये तीसरा मौका

|
Google Oneindia News

वाराणसी। काशी के गंगा घाट के किनारे होने वाली दैनिक सांध्यकालीन आरती पर चंद्रग्रहण का साया पड़ने से पहले ही दोपहर में मां गंगा की आरती की गई। 27 साल के इतिहास में यह तीसरा मौका है जब मां गंगा की आरती दोपहर में हुई। संयोग की बात ये भी रही कि यह आरती लगातार तीसरे साल भी मां गंगा की आरती दिन में ही की गई। पूर्णिमा के दिन आधी रात बाद 1.31 बजे ग्रहण शुरू होगा जो पूरे भारत मे चंद्र ग्रहण की अवधि 2 घण्टे 59 मिनट और 17 सेकेंड का होगा।

Maa ganga worship before Chandra Grahan at varanasi (Lunar eclipse News)

ज्योतिषियों के मुताबिक, हिन्दू परम्परा के अनुसार ग्रहण शुरू होने से 9 घण्टे पहले ही सूतक काल शुरू होता है। ऐसे में काशी के संकटमोचन,गौरीकेदारेश्वर, संकटमोचन के कपाट बंद कर दिए गए हैं। वहीं, दूसरी ओर काशीविश्वनाथ धाम और अन्नपूर्णा देवी का मंदिर रात्रि 10 बजे के बाद बंद किया जाएगा। दूसरी ओर धार्मिक मान्यताओं के अनुसार सूतक काल में कोई भी धर्मिक कार्य नहीं करना चाहिए।

Maa ganga worship before Chandra Grahan at varanasi (Lunar eclipse News)

आचार्य रणधीर एवं गंगा सेवा निधि अध्यक्ष सुशांत मिश्रा ले बताया कि पिछले दो सालों से मां गंगा की सूतक काल के चलते माँ गंगा की आरती दिन दिन में हो चुकी है।

गुजरात में बिक रहे नकली कीटनाशक, टेस्ट में 259 सैंपल फेल, किसानों की फसलें हो रहीं बरबादगुजरात में बिक रहे नकली कीटनाशक, टेस्ट में 259 सैंपल फेल, किसानों की फसलें हो रहीं बरबाद

Comments
English summary
Maa ganga worship before Chandra Grahan at varanasi (Lunar eclipse News)
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X