जानिए कौन हैं जितिन प्रसाद की भाभी नीलिमा प्रसाद जिनको भाजपा ने दिया टिकट

Posted By: Prashant
Subscribe to Oneindia Hindi

शाहजहाँपुर। यूपी के शाहजहाँपुर मे भारतीय जनता पार्टी ने पूर्व केंद्रीय मंत्री जितिन प्रसाद की भाभी को प्रत्याशी बनाया है। आज बीजेपी प्रत्याशी नीलिमा प्रसाद ने एक प्रेस कांफ्रेंस कर पत्रकारों से मुखातिब हुई और चुनाव मे जीत दर्ज करने बाद महिलाओं और स्वच्छ भारत पर ज्यादा काम करने की बात कही। इस दौरान उन्होंने कहा कि महिलाओं की सुरक्षा के लिए पूरे शहर मे जगह-जगह सीसीटीवी लगवाएं जाएंगे। आपको बता दें कि बीजेपी कार्यकर्ता से प्रत्याशी बनी नीलिमा प्रसाद ने मिरांडा हाउस से ज्यॉग्राफी से ग्रेजुएशन के साथ कुमांयु यूनिवर्सिटी से एमए की शिक्षा ग्रहण की है।

Shahjahanpur congress leader sister In Law holds BJP Hand

दरअसल, बीजेपी ने शाहजहाँपुर की शहर नगरपालिका सीट से राहुल गांधी के बेहद करीबी जितिन प्रसाद के चचेरे भाई कुँवर जयेश प्रसाद की पत्नी नीलिमा प्रसाद पर भरोसा करके अपना प्रत्याशी बनाया है। हालांकि बीजेपी जिसको प्रत्याशी बनाया है वह रॉयल फैमिली से आती हैं और काफी पढ़ी लिखी भी हैं। इस फैमिली की सियासत तो काफी उच्च कोटी थी। लेकिन धीरे-धीरे सियासत इस प्रसाद भवन से खिसकती चली गई।

ऐसे मे जितिन प्रसाद के भाई ने मोदी और योगी लहर को देखते हुए पहले बीजेपी का दामन थामा उसके दो दिन बाद ही जयेश प्रसाद की पत्नी को अपना प्रत्याशी भी घोषित कर दिया। जिसके बाद अंदर खाने बगावत देखने को मिली थी। लेकिन नगर विकास मंत्री सुरेश कुमार ने बगावत हुए नेताओं को समझा बुझाकर एक मंच पर लाने की कोशिश तो की लेकिन आज जब नगरपालिका चैयरमेन नीलिमा प्रसाद ने प्रेस कांफ्रेंस बुलाई तो वहां नगर अध्यक्ष तो नजर आए पर जिला अध्यक्ष नजर नही आए जबकि शहर ये बीजेपी का कोई भी कार्यक्रम होता है तो उस कार्यक्रम मे मुख्य से शामिल होने वाले नेता डीपीएस राठौर भी कहीं दिखाई नही दिए।

ऐसे बीजेपी के नेता लाख दावे कर लें कि बीजेपी मे किसी तरह की बगावत नही है पर हर मंच पर दिखाई देने वाले नेता डीपीएस राठौर कही नजर नही आ रहे थे। क्योंकि डीपीएस राठौर भी जिले मे बीजेपी मे एक अलग पहचान रखते है क्योंकि डीपीएस राठौर बीजेपी के प्रदेश उपाध्यक्ष जेपीएस राठौर के भाई है। डीपीएस राठौर ने भी अपनी पत्नी के लिए टिकट की दावेदारी की थी। ऐसे मे अभी भी ऐसा माना जा रहा है कि शाहजहाँपुर मे बीजेपी मे अभी कुछ सही नही चल रहा है।

दरअसल, जितिन प्रसाद की भाभी नीलिमा प्रसाद ने बताया कि वह ग्रहणी थी लेकिन अब उनके कदम सियासत की ओर बढ़ गए हैं। नीलिमा प्रसाद ने बताया कि उन्होंने मिरांडा हाउस से ज्यॉग्राफी से ग्रेजुएशन आनर किया है साथ ही कुमांयु यूनिवर्सिटी से एमए की शिक्षा हासिल की है। लेकिन अब सियासत मे आने की इच्छा की तो उन्होंने बीजेपी का सबसे अच्छा साथ लगा। इसलिए उन्होंने बीजेपी का दामन थामा है।

उनका कहना है कि जैसे प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का सपना है स्वच्छ भारत ऐसे ही वह शाहजहाँपुर को देश का सबसे साफ शहरों मे देखना चाहती है। अगर जनता ने उन्हें चुना तो वह सबसे पहले स्वच्छ भारत अभियान को प्राथमिकता देंगी। इसके अलावा महिलाओं की सुरक्षा उनकी नजर में काफी अहम है जनता ने अगर उन्हें चुना तो वह पूरे शहर मे जगह जगह पर सीसीटीवी कैमरे लगवा देंगी। साथ ही शहर मे महिलाओं के लिए शौचालय का इंतजाम करवाना। इसके अलावा शहर मे एक भी सड़क कच्ची नहीं रहेगी।

जब बीजेपी प्रत्याशी से पूछा कि आप जितिन प्रसाद की भाभी है जो राहुल के बेहद करीबी भी हैं। ऐसे में बीजेपी मे आने की क्या वजह, उस पर उनका कहना था कि भाभी होने से क्या मतलब वह अपनी पार्टी मे है लेकिन हमे प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी स्वच्छ भारत अभियान काफी ज्यादा अच्छा लगा। इसलिए उन्होंने बीजेपी ने का दामन थामा है। हमे अब बीजेपी के लिए इमानदारी से काम करना है। मेरी जीत पक्की है पार्टी हमारे साथ है।

ये भी पढ़ें- मेयर पद के लिए दो बहुएं आमने-सामने, अपनी-अपनी पार्टियों में है दोनों की जबरदस्त पकड़

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Shahjahanpur congress leader sister In Law holds BJP Hand
Please Wait while comments are loading...