• search
उदयपुर न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
Oneindia App Download

Udaipur Kanhaiya Lal: एनआईए ने अपने हाथ में ली कन्हैया लाल मर्डर केस की जांच, UAPA के तहत दर्ज किया केस

|
Google Oneindia News

उदयपुर, 29 जून: राजस्थान के उदयपुर में मंगलवार 28 जून को टेलर कन्हैया लाल की निर्मम हत्या कर दी गई थी। इस हत्याकांड के बाद उदयपुर जिले में हालात काफी तनावपूर्ण बने हुए हैं। तनावपूर्ण हालातों के देखते हुए राजस्थान सरकार ने पूरे प्रदेश में एक महीने के लिए धारा 144 लागू कर दी है। साथ ही, उदयपुर में 24 घंटे के लिए इंटरनेट सेवाओं को निलंबित कर दिया था। तो वहीं, इस मामले की जांच अब नेशनल इन्वेस्टिगेशन एजेंसी (एनआईए) ने शुरू कर दी है। राष्ट्रीय जांच एजेंसी ने आज इस संबंध में केस दर्ज किया है।

NIA registers a case in incident of lost life of Kanhaiya Lal in Udaipur

दरअसल, केंद्रीय गृह मंत्रालय ने उदयपुर में टेलर कन्हैया लाल की हत्या की घटना को एक आतंकवादी कृत्य मानते हुए एनआईए को मामले की जांच अपने हाथ में लेने का निर्देश दिया था। गृह मंत्रालय की तरफ से आदेश मिलने के बाद एनआईए की टीम उदयपुर पहुंची और कन्हैया लाल मर्डर केस की जांच अपने हाथों में ली। इतना ही नहीं, राष्‍ट्रीय जांच एजेंसी एनआईए ने कन्हैया लाल की नृशंस हत्या के मामले में आतंकवाद विरोधी अधिनियम 'यूएपीए' के तहत फिर से मामला दर्ज किया है। इस बात की जानकारी एनआईए के प्रवक्ता दी है।

बता दें कि नूपुर शर्मा के समर्थन में किए गए पोस्ट के कारण दोनों आरोपियों (रियाज अंसारी और मोहम्मद गौस) ने पेशे से दर्जी कन्हैयालाल की हत्या कर दी थी। इस हत्याकांड के करीब 6 से 7 घंटे के बाद उदयपुर पुलिस ने रियाज अंसारी और मोहम्मद गौस को राजसमंद जिले से गिरफ्तार कर लिया था। इतना ही नहीं, राज्य सरकार ने इस हत्याकांड की जांच के लिए एसआईटी का गठन किया था। तो वहीं, गहलोत सरकार ने सुरक्षा के मद्देनजर पूरे राज्य में एक महीने के लिए धारा 144 लागू कर दी गई थी और इंटरनेट भी बंद कर दिया गया था। वहीं, उदयपुर डीसीपी राजेंद्र भट्ट ने लोगों से शांति बनाए रखने की अपील की थी।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, कन्हैया लाल के हत्यारोपियों के तार आतंकी संगठनों से जुड़े हुए बताए जा रहा है। हत्यारोपियों के तार आतंकी संगठनों से जुड़ होने की जानकारी होने के बाद गृह मंत्रालय ने इस मामला की जांच राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) को अपने हाथ में लेने का निर्देश दिया है। किसी भी संगठन की संलिप्तता और अंतरराष्ट्रीय संपर्क की गहन जांच की जाएगी। जिसके बाद राष्ट्रीय जांच एजेंसी राजस्थान के उदयपुर पहुंच गई और कन्हैयालाल की नृशंस हत्या के मामले में जांच शुरू कर दी है। एनआईए ने गैरकानूनी गतिविधि (रोकथाम) अधिनियम के साथ-साथ भारतीय दंड संहिता की विभिन्न धाराओं के तहत प्राथमिकी दर्ज़ की है।

ये भी पढ़ें:- 'पुलिस ने शिकायत मिलने पर क्यों नहीं की कार्रवाई', उदयपुर की घटना पर बोले केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावतये भी पढ़ें:- 'पुलिस ने शिकायत मिलने पर क्यों नहीं की कार्रवाई', उदयपुर की घटना पर बोले केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत

एफआईआर दर्ज करने के बाद पुलिस, एनआईए, एसआईटी, एफएसएल और एटीएस की टीमें मौके पर पहुंची हैं, जहां कल दो लोगों ने कथित रूप से कन्हैया लाल की हत्या कर दी गई थी।

Comments
English summary
NIA registers a case in incident of lost life of Kanhaiya Lal in Udaipur
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X