पाकिस्तान के चुनाव आयोग ने हाफिज सईद को दिया तगड़ा झटका

Subscribe to Oneindia Hindi

इस्लामाबाद। भारत की आर्थिक राजधानी मुंबई में 26/11 हमले का मास्टरमाइंड हाफिज सईद चाहता था कि वो राजनीतिक पार्टी बनाए और पूरे देश में चुनाव लड़े। लेकिन उसके इस मंसूबे पर पाकिस्तान के चुनाव आयोग ने पानी फेर दिया है। पाकिस्तान चुनाव आयोग (ECP) ने आतंकी हाफिज सईद की मिल्ली मुस्लिम लीग (MML) को राजनीतिक दल के तौर पर पंजीकृत करने के आवेदन को खारिज कर दिया है। बता दें हाफिज ने जमात उत दावा का नाम बदल कर मिल्ली मुस्लिम लीग (MML) कर लिया था। पाकिस्तान के गृह मंत्रालय ने भी इस बात पर एतराज किया था कि जिस संगठन का आतंकी सगंठनों से संबंध हो, वो कैसे आवेदन कर सकता है। MML ने राजनीतिक दल के रूप में आयोग से मान्यता हासिल करने के लिए आवेदन किया था ताकि वो चुनाव लड़ सके। चुनाव आयोग ने कहा कि MML पहले गृह मंत्रालय से अनुमति पाने के लिए कहा है।

पाकिस्तान के चुनाव आयोग ने हाफिज सईद को दिया तगड़ा झटका

मुख्य चुनाव आयुक्त सरदार रजा खान ने कहा, 'गृह मंत्रालय का पत्र बताता है कि MML को प्रतिबंधित आतंकवादी संगठनों द्वारा समर्थित किया गया है।' पिछले महीने एक विस्तृत पत्र में, मंत्रालय ने ECP को नवगठित MML पर प्रतिबंध लगाने की सलाह दी क्योंकि यह सईद के साथ जुड़ा था, जिसके सिर पर 10 मिलियन अमेरिकी डालर का ईनाम है। जून 2014 में सईद के जुड़े संगठन को को अमेरिका द्वारा पहले ही विदेशी आतंकवादी संगठन घोषित कर दिया गया है।

सुनवाई के दौरान, MML के वकील ने ECP से कहा कि पार्टी को पंजीकृत करने के लिए कहा क्योंकि पंजीकरण के लिए आवेदन करते समय उसने सभी कानूनी प्रक्रियाओं का पालन किया है। इसी साल अगस्त में MML की स्थापना की गई और उसी महीने उसने ECP के समक्ष पंजीकरण करने के लिए आवेदन किया, जिस पर गृह मंत्रालय की राय मांगी थी।

ये भी पढ़ें: पाकिस्तान सरकार हाफिज सईद के खिलाफ नहीं दे रही है सबूत, हाई कोर्ट कर सकता है रिहा

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Pak EC rejects Hafiz saeed 's JuD-linked pol party's mml registration application.

Oneindia की ब्रेकिंग न्यूज़ पाने के लिए
पाएं न्यूज़ अपडेट्स पूरे दिन.