राजीव गांधी की गिफ्ट की हुई घड़ी को जेब में रखते हैं मणिशंकर अय्यर, जानिए उनके विवाद

Written By: Mohit
Subscribe to Oneindia Hindi
Mani Shankar Aiyar कभी Rajeev Gandhi के सबसे करीबी माने जाते थे, जानिए उनके विवाद | वनइंडिया हिंदी

नई दिल्लीः कांग्रेस के वरिष्ठ नेता मणिशंकर अय्यर अपने बयानों की वजह से चर्चा में हैं। विवादित बयान के कारण मणिशंकर अय्यर की प्राथमिक सदस्यता रद्द कर दी गई, लेकिन एक वक्त ऐसा भी था जब कांग्रेस पार्टी में उनकी खूब सुनी जाती थी। वो वक्त था राजीव गांधी के दौर में। मणिशंकर अय्यर को राजीव गांधी के काफी करीब माना जाता था।

राजीव गांधी के करीबी थे मणिशंकर अय्यर

राजीव गांधी के करीबी थे मणिशंकर अय्यर

मणिशंकर की राजीव गांधी से कितनी नजदीकियां दी इस बात का अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि उन्हें राजीव गाँधी ने नेहरू शताब्दी वर्ष की घड़ी गिफ्ट की थी। ये बात खुद मणिशंकर अय्यर ने एक इंटरव्यू के दौरान कही। बता दें, राजीव गांधी प्रधानमंत्री बनने ही वाले थे, तभी मणिशंकर अय्यर ने कांग्रेस का हाथ थामा था। जब राजीव गांधी देश के प्रधानमंत्री थे तो मणिशंकर को उनके काफी करीबी थे।

राजीव गांधी के बाद नहीं रहा पहले जैसा जलवा

राजीव गांधी के बाद नहीं रहा पहले जैसा जलवा

भले ही मणिशंकर अय्यर पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी के करीबी रहे हों लेकिन उनके कई ऐसे बयान आए हैं, जिनके कारण कांग्रेस में उनका कद पहले जैसा नहीं रहा और पार्टी को उनके बयानों की वजह से आलोचना झेलनी पड़ी।

सोनिया गांधी से नाराज थे मणिशंकर अय्यर

सोनिया गांधी से नाराज थे मणिशंकर अय्यर

साल 2010 में उन्होंने बिना नाम लिए सोनिया गांधी पर हमला बोला और कहा, 'आज की अकेली सबसे महत्वपूर्ण संस्था कैबिनेट नहीं बल्कि एनएसी है और इससे जुड़े न होने की बात मुझे बहुत सताती है।' कहा जाता है कि मणिशंकर अय्यर पार्टी में दरकिनार कर दिए जाने से नाराज थे।

मोदी को कहा चायवाला

मोदी को कहा चायवाला

साल 2014 के लोकसभा चुनाव से पहले मणिशंकर ने मोदी को 'चायवाला' कहा। उनका ये बयान कांग्रेस को ले डूबा। लोकसभा चुनाव में भाजपा ने उनके बयान को अपना हथियार बनाया और चाय पर चर्चा जैसे कई प्रोग्राम किए। उनके इस बयान पर उस वक्त मोदी ने कहा- गरीब परिवार से आने वाले और बचपन में चाय बेचने के कारण कांग्रेस पार्टी उन्हें देश का प्रधानमंत्री बनते नहीं देखना चाहती।

मणिशंकर अय्यर के कारण बढ़ी कांग्रेस की मुश्किलें

मणिशंकर अय्यर के कारण बढ़ी कांग्रेस की मुश्किलें

मोदी के प्रधानमंत्री बनने के बाद मणिशंकर अय्यर पाकिस्तान में गए हुए थे और वहां के चैनल पर बोलते हुए मणिशंकर अय्यर ने कहा कि 'इनको हटाइए और हमें ले आइए। और कोई रास्ता नहीं है।' इसके बाद उनकी काफी आलोचना हुई। कांग्रेस पार्टी के इसका जवाब देना मुश्किल रहा।

यह भी पढ़ें-इस लड़की की खूबसूरती के जाल में फंस गए थे मंत्री, PM की भी गई थी कुर्सी

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
mani shankar aiyar has pandit jawaharlal nehru watch, gilfted by rajiv gandhi
Please Wait while comments are loading...

Oneindia की ब्रेकिंग न्यूज़ पाने के लिए
पाएं न्यूज़ अपडेट्स पूरे दिन.