• search
मध्य प्रदेश न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
Oneindia App Download

Serial Killer: बेटे को फांसी की सजा दिलाना चाहते हैं मां-बाप, बोले-बेकसूरों को मारा, सजा मिलना चाहिए

Google Oneindia News

सागर, 4 सितम्बर। मप्र के सागर और भोपाल में पांच दिन में चार सिक्योरिटी गार्ड की हत्या कर सनसनी फैलाने वाले बेरहम हत्यारे के माता-पिता ने दिल पर पत्थर रख लिया है। वे अपने बेटे के लिए फांसी की सजा दिलाने की मांग कर रहे हैं। केसली के केंकरा गांव में बेहद गरीबी में गुजर-बसर करने वाले नन्हेंवीर और उनकी पत्नी सीतादेवी अपने बेटे शिवप्रसाद धुर्वे के लिए फंासी की सजा दिलाना चाहते हैं। चाचा दशरथ का कहना है कि बेकसूर चौकीदारों की हत्या करने वाले के साथ उन्हें कोई हमदर्दी नहीं है।

फांसी पर चढ़ा दें या चौराहे पर टांग दो

फांसी पर चढ़ा दें या चौराहे पर टांग दो

सीरियल किलर शिवप्रसाद की मां सीतादेवी व पिता नन्हेवीर व चाचा दशरथ का कहना है कि बेकसूरों को उसने जिस बेरहमी से मारा है, उसे फांसी की सजा मिलना चाहिए या फिर चैराहे पर टांगकर मौत की सजा देना चाहिए। चाचा दरशथ के अनुसार उसे उन्होंने बचपन से देखा है वह कतई ऐसा नहीं थी, लेकिन 14 साल की उम्र से घर छोड़कर जब से गोवा, पुणे में काम करने गया है, तब से वह बिगड़ गया। उसे बाहर की हवा लग गई और जल्द से जल्द पैसा कमाना चाहता था। उसने गलत रास्ता चुन लिया। गांव में भी उसकी ज्यादा किसी से दोस्ती नहीं है। वह घर में लड़ाई झगड़ करके जाता था। आखिरी बार रक्षाबंधन पर ही आया था। उसके बाद वह पिता से जमीन बेचकर पैसे देने की बात करता था। उसके दिमाग में इतनी खरतनाक सोच थी कि वह बेकसूरों की लगातार हत्याएं करने से नहीं चूका, इनता तो कभी सपने में भी परिवार के सदस्य नहीं सोच सकते थे।

सीरियल किलर शिवप्रसाद धुर्वे को बीते दो दिन से पुलिस रिमांड पर लिए हैं

सीरियल किलर शिवप्रसाद धुर्वे को बीते दो दिन से पुलिस रिमांड पर लिए हैं

सीरियल किलर शिवप्रसाद धुर्वे को बीते दो दिन से पुलिस रिमांड पर लिए हैं। पहले सिविल लाइन पुलिस को उसकी एक दिन की रिमांड मिली थी। दूसरे दिन शनिवार को कैंट थाना पुलिस ने उसे रिमांड पर लिया है। इधर मीडिया हत्यारे शिवप्रसाद के गांव पहुंची तो वहां डर और भय का माहौल नजर आया। पूरा गांव सदमें में है कि उनके गांव के एक युवक ने इतना बड़ा कांड कैसे कर दिया वह भी बेकसूरों को मौत की नींद सुला दिया। जब सीरियल किलर शिवप्रसाद के घर मीडिया पहुंची तो उसके परिवार बेहत गरीबी में गुजरा कर रहा है। शिवप्रसाद लड़कर पिता से नाता तोड़कर करीब 15 दिन पहले घर से भाग गया था। 27 अगस्त से 1 सितम्बर के बीच उसने 5 लोगों पर हमला किया जिसमें से चार की मौके पर ही मौत हो गई। परिजन अवाक और सदमें में हैं कि आखिर उनके बेटे को ये कैसी सनक दौड़ी, ऐसे कैसे वह फेमस होना चाहता था कि बेकसूरों को मारने लगा।

हवालात में पनीर की सब्जी की डिमांड कर रहा सीरियल किलर

हवालात में पनीर की सब्जी की डिमांड कर रहा सीरियल किलर

शिवप्रसाद धुर्वे को तीन दिन में दो थानों की पुलिस रिमांड पर ले चुकी है। पहले सिविल लाइन पुलिस ने उसे रिमांड पर लेकर पूछताछ की थी, तो दूसरे दिन कोर्ट ने कैंट थाना पुलिस को रिमांड पर दिया था। बीती शाम जब उसे कोर्ट से कैंट थाने लेकर पहुंचे और खाना देने की बात आई तो पुलिस से उसने कहा कि वह पनीर की सब्जी खाना चाहता है। पुलिस ने पनीर की सब्जी बुलाकर उसको खाना दिया था। पुलिस की पूछताछ में उसने बताया कि मेरा पूरा प्लान चैपट हो गया।

सागर, भोपाल के बाद इंदौर में हत्याएं करने का इरादा था

सागर, भोपाल के बाद इंदौर में हत्याएं करने का इरादा था

शिवप्रसाद धुर्वे के इरादे काफी खतरनाक थे। वह पुलिस से यह पूछ रहा था कि आखिर उन लोगों ने उसे तलाश कैसे लिए। पुलिस की पूछताछ में वह एक ही बात कह रहा है कि पकड़े जाने के बाद उसका पूरा प्लान चैपट हो गया है। सागर-भोपाल में गार्ड की हत्याएं करने के बाद उसका अगला निशाना इंदौर था। वह कई बड़े शहरों में हत्याएं कर तहलका मचाना चाहता था। बीते रोज एसपी तरुण नायक ने उससे पूछताछ की तो वह ज्यादा कुछ नहीं बता रहा था, हालांकि पुलिसकर्मियों से वह खुलकर बात कर रहा है। मकरोनिया में ओवरब्रिज के नीचे हुई चौकीदार की हत्या के मामले में उसका कहना है कि वह हत्या उसने नहीं कि है, उस समय वह सागर में ही नहीं था।

गोवा और पुणे की पुलिस भी सागर आकर पूछताछ करेगी

गोवा और पुणे की पुलिस भी सागर आकर पूछताछ करेगी

बेरहम हत्यारे सीरियल किलर शिवप्रसाद धुर्वे ने वह गोवा में काफी समय रहा भी है। आशंका है कि उसने गोवा में अपराध किए हों। गोवा के अलावा पुणे पुलिस भी शिवप्रसाद को रिमांड पर ले सकती हैं। पुणे में भी उसने अपराध किए थे। हत्या के प्रयास के एक मामले में वह पुणे में सजा भी काट चुका है। उस समय वह नाबालिग था। बाद में उसके पिता उसे छुड़ाकर सागर लाए थे।

खुलासाः साइको नहीं है Serial Killer , कोर्ट जाते वक्त दिखाने लगा Victory Sign खुलासाः साइको नहीं है Serial Killer , कोर्ट जाते वक्त दिखाने लगा Victory Sign

Comments
English summary
Serial killer: Parents want the son to be hanged, said - kill the innocent, should be punished
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X