• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts
Oneindia App Download

अरब जगत से अमेरिका की छुट्टी, शी जिनपिंग का सऊदी अरब दौरा, फिर से राष्ट्रपति बनना तय

Google Oneindia News

बीजिंग, 14 अगस्तः चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग की सऊदी अरब की अपेक्षित यात्रा चीन की कम्युनिस्ट पार्टी के महासचिव के रूप में उनके फिर से चुनाव में उनके विश्वास का संकेत हो सकती है, जो सत्ता पर उनकी और पकड़ स्थापित करेगी और उन्हें शाश्वत नेता बनाएगी। द गार्जियन ने सबसे पहले अरब राष्ट्र में भव्य तैयारियों का हवाला देते हुए शी की सऊदी अरब की संभावित यात्रा पर रिपोर्ट दी थी, लेकिन चीनी सरकार ने कथित यात्रा पर अब तक चुप्पी बनाए रखी है। पुष्टि के लिए पूछे जाने पर, चीनी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने गुरुवार को कहा कि उनके पास इस बारे में कोई जानकारी नहीं है।

कोरोना के बाद जिनपिंग का पहला विदेशी दौरा

कोरोना के बाद जिनपिंग का पहला विदेशी दौरा

अगर रिपोर्टों पर यकीन किया जाए, चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग अगले हफ्ते सऊदी अरब की यात्रा पर आ सकते हैं। जिनपिंग जनवरी 2020 में कोरोना के प्रसार के बाद पहली बार किसी विदेशी दौरे पर जाएंगे। सऊदी अरब पर चीन की ऊर्जा निर्भरता बेहत ज्यादा है, खासकर सऊदी क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान द्वारा राज्य में सत्ता हासिल करने के बाद दोनों देशों के संबंधों में पिछले कुछ वर्षों में बेहद तेजी आई है। ऐसे में सऊदी द्वारा शी जिनपिंग के स्वागत में कोई कसर नहीं छोड़ी जा रही है।

शी जिनपिंग के स्वागत में सज रहा रियाद

शी जिनपिंग के स्वागत में सज रहा रियाद

द गार्जियन के मुताबिक रियाद में शी जिनपिंग के उस स्तर के स्वागत की तैयारी चल रही है, जैसा स्वागत डोनाल्ड ट्रंप का तब हुआ था, जब वे अमेरिका के राष्ट्रपति के रूप में पहली बार सऊदी अरब आए थे। इसके साथ ही अखबार ने याद दिलाया कि बीते जून में अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन का फीका स्वागत हुआ, जिसे अमेरिका और सऊदी अरब के रिश्तों में आए तनाव की निशानी माना गया। आम राय है कि निजी तौर पर बाइडन और सऊदी अरब के युवराज प्रिंस मोहम्मद-बिन-सलमान एक दूसरे को पसंद नहीं करते।

शी जिनपिंग के लिए बेहद महत्वपू्र्ण है यात्रा

शी जिनपिंग के लिए बेहद महत्वपू्र्ण है यात्रा

यह यात्रा जितनी प्रिंस सलमान के लिए महत्वपूर्ण है ठीक उतनी ही शी जिनपिंग के लिए भी है। यह यात्रा चीन की घरेलू राजनीतिक स्थिति और अपने राजनीतिक भविष्य में शी के विश्वास पर भी प्रकाश डाल सकती है। यह यात्रा यह दिखाने का प्रयास भी हो सकती है कि उन्हें पार्टी महासचिव के रूप में फिर से चुने जाने के लिए किसी चुनौती का सामना नहीं करना पड़ रहा है और वह पोलित ब्यूरो में अपने वफादारों को शामिल करने में सक्षम हैं।

तीसरी बार चुने जा सकते हैं शी जिनपिंग

तीसरी बार चुने जा सकते हैं शी जिनपिंग

इसके अलावा कई समाचार आउटलेट्स के मुताबिक शी इस साल नवंबर में जी-20 शिखर सम्मेलन में भाग लेने जा रहे हैं। इस शिखर सम्मेलन में वह व्यक्तिगत रूप से बाइडेन संग मुलाकात कर सकते हैं। इसका उपयोग इस बात को हवा देने के लए किया गया है कि शी को यकीन है कि वह इस साल के अंत में होने अपने तीसरे टर्म के लिए फिर से चुने जा रहे हैं। इसके साथ ये एक चेतावनी भी है कि अगर उन्हें तीसरा टर्म न भी मिले तो भी वे इन बैठकों में राज्य के प्रमुख के रूप में जा सकते हैं, क्योंकि उनके अध्यक्ष पद पर निर्णय नेशनल पीपुल्स द्वारा लिया जाएगा जिसका चुनाव अगले साल मार्च 2023 में होना है।

हिमालय के आर-पार रेल चलाने के लिए नेपाल को अरबों का कर्ज देगा चीन, श्रीलंका की तरह बर्बादी तय?हिमालय के आर-पार रेल चलाने के लिए नेपाल को अरबों का कर्ज देगा चीन, श्रीलंका की तरह बर्बादी तय?

Comments
English summary
Xi Jinping's Saudi arab visit will signal his confidence to be re-elected as party boss
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X