• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts
Oneindia App Download

कौन हैं वेदांत पटेल, जो अमेरिकी विदेश विभाग के नियमित प्रवक्ता बनने वाले पहले भारतीय-अमेरिकी बने

अपनी पहली प्रेस ब्रीफिंग के दौरान वेदांत पटेल ने यूक्रेन संकट, जेसलीपीओए और लिज ट्रस के यूनाइटेड किंगडम का प्रधानमंत्री बनने जैसे मुद्दों को कवर किया और अब उनकी अगली प्रेस ब्रीफिंग बुधवार को होने वाली है।
Google Oneindia News

वॉशिंगटन, सितंबर 07: भारतीय मूल के वेदांत पटेल अमेरिकी विदेश विभाग में नियमित प्रवक्ता बन बनकर इतिहास रच दिया है, क्योंकि वो भारतीय मूल के पहले अमेरिकी नागरिक हैं, जो इस पद पर पहुंचे हैं। उनके इस पद पर पहुंचने के बाद व्हाइट हाउस में उनके सहयोगियों ने कहा कि, वो काफी प्रोफेशनल हैं और उनका कम्युनिकेशन काफी साफ और स्पष्ट है। अमेरिकी विदेश विभाग के प्रवक्ता नेड प्राइस के छुट्टी पर जाने के बाद कैलिफोर्निया के 33 वर्षीय पटेल ने मंगलवार को मीडिया के सामने ब्रीफिंग दी और अमेरिका का प्रतिनिधित्व किया।

वेदांत पटेल की पहली प्रेस ब्रीफिंग

वेदांत पटेल की पहली प्रेस ब्रीफिंग

अपनी पहली प्रेस ब्रीफिंग के दौरान वेदांत पटेल ने यूक्रेन संकट, जेसलीपीओए और लिज ट्रस के यूनाइटेड किंगडम का प्रधानमंत्री बनने जैसे मुद्दों को कवर किया और अब उनकी अगली प्रेस ब्रीफिंग बुधवार को होने वाली है। वेदांत पटेल ने पोडियम पर आने की शानदार शुरुआत की। व्हाइट हाउस में वरिष्ठ एसोसिएट कम्युनिकेशंस डायरेक्टर मैट हिल ने ट्वीट करते हुए लिखा, "कुडोस टू" वेदांत पटेल ने आपके पोडियम डेब्यू पर। उन्होंने कहा कि,"विश्व मंच पर संयुक्त राज्य का प्रतिनिधित्व करना एक बड़ी जिम्मेदारी है, और वेदांत ने इसे अत्यंत प्रोफेशनल तरीके और स्पष्ट संचार के साथ किया।" व्हाइट हाउस के पूर्व उप संचार निदेशक पिली तोबर ने कहा कि,"वेदांत पटेल को मंच पर देखकर बहुत अच्छा लगा"। उन्होंने ट्वीट करते हुए लिखा कि, "मेरे दोस्त को एक शानदार शुरुआत के लिए बधाई।" इसी साल अप्रैल महीने ने व्हाइट हाउस की पूर्व प्रवक्ता जेन साकी ने कहा था कि, "मैं अक्सर उनके (वेदांत पटेल) साथ मजाक करती हूं, कि हम उन्हें आसान असाइनमेंट देते हैं। लेकिन, ऐसा नहीं है। यह सिर्फ इसलिए है, क्योंकि वह सुपर टैलेंटेड हैं'।

गुजरात मूल के हैं वेदांत पटेल

गुजरात मूल के हैं वेदांत पटेल

राष्ट्रपति जो बाइडेन ने जिस दिन बतौर राष्ट्रपति व्हाइट हाउस का कामकाज संभाला था, वेदांत पटेल उसी दिन से व्हाइट हाउस में असिस्टेंट प्रेस सेक्रेटरी के तौर पर काम कर रहे हैं। वेदांत पटेल अमेरिका के कैलिफोर्निया यूनिवर्सिटी से ग्रेजुएट हैं और उन्होंने फ्लोरिडा विश्वविद्यालय के वॉरिंगटन कॉलेज ऑफ बिजनेस से एमबीए किया है। 32 साल के वेदांत पटेल व्हाइट हाउस में पत्रकारों के बीच काफी लोकप्रिय हैं और व्हाइट हाउस में उनका डेस्क प्रेस ऑफिस में है, जहां वो आव्रजन और जलवायु परिवर्तन से संबंधित सभी मीडिया प्रश्नों को संभालने का काम करते हैं। वेदांत पटेल गुजरात में पैदा हुए थे और उन्होंने कैलिफोर्निया विश्वविद्यालय से ग्रेजुएशन किया है।

लंबे समय से कर रहे बाइडेन के साथ काम

लंबे समय से कर रहे बाइडेन के साथ काम

व्हाइट हाउस में बाइडेन प्रशासन में शामिल होने से पहले वेदांत पटेल राष्ट्रपति उद्घाटन समिति के एक वरिष्ठ प्रवक्ता थे और राष्ट्रपति बाइडेन के चुनावी अभियान के समय वह एक क्षेत्रीय संचार निदेशक थे। वेदांत ने दिसंबर 2012 से नवंबर 2015 तक पूर्व कांग्रेसी माइक होंडा के उप संचार निदेशक के रूप में अपना करियर शुरू किया था। इसके बाद उन्होंने नवंबर 2015 से जनवरी 2017 तक कांग्रेस के लिए माइक होंडा के संचार निदेशक के रूप में काम किया। उसके बाद, उन्होंने अप्रैल 2017 से नवंबर 2018 तक क्षेत्रीय प्रेस सचिव और AAPI मीडिया के निदेशक के रूप में कार्य किया और नवंबर 2018 से अप्रैल 2019 तक भारतीय अमेरिकी कांग्रेसी प्रमिला जयपाल के लिए संचार निदेशक के तौर पर काम किया।

भारत के साथ बरकरार है रिश्ता

भारत के साथ बरकरार है रिश्ता

अपने एक पुराने ट्वीट में वेदांत ने कहा था, कि वह और उनका परिवार 1991 में अमेरिका आकर बस गए थे। उन्होंने लिखा था कि, "हम यहां 1991 में चले आए और यह उनके (माता-पिता के) बलिदान और कड़ी मेहनत के कारण है, कि मैं यहां व्हाइट हाउस में बैठकर अमेरिका के राष्ट्रपति के लिए काम कर पा रहा हूं।' वेदांत पटेल का जन्म गुजरात में हुआ था और उनका पालन-पोषण कैलिफोर्निया में हुआ।

व्हाइट हाउस मीडिया विंग में भारतीय

व्हाइट हाउस मीडिया विंग में भारतीय

आपको बता दें कि, वेदांत पटेल से पहले प्रिया सिंह 2009 से 2010 तक ओबामा प्रशासन के दौरान पहली भारतीय अमेरिकी व्हाइट हाउस असिस्टेंट प्रेस सेक्रेटरी थीं। वहीं, एक और भारतीय राज शाह ने ट्रंप प्रशासन के दौरान साल 2017 से 2019 तक व्हाइट हाउस के उप प्रेस सचिव के रूप में कार्य किया। कुछ हफ्ते पहले मेघा भट्टाचार्य व्हाइट हाउस की प्रेस शॉप में वेदांत के साथ जुड़ीं हैं। वहीं, कुछ समय पहले तक सबरीना सिंह, जो कैलिफोर्निया की रहने वाली थीं, वह उपराष्ट्रपति कमला हैरिस की उप प्रेस सचिव थीं। लेकिन, अमेरिकी विदेशी विभाग में बतौर प्रवक्ता पोडियम तक पहुंचने वाले वेदांत पहले भारतवंशी हैं।

Opinon: कैसे शेख हसीना ने 'चीन की दीवार' तोड़कर भारत और भारत के बीच लिंक जोड़ा है?Opinon: कैसे शेख हसीना ने 'चीन की दीवार' तोड़कर भारत और भारत के बीच लिंक जोड़ा है?

Comments
English summary
Who is Indian-origin Vedanta Patel, who has become a spokesperson in the US State Department.
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X