• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts
Oneindia App Download

यूक्रेन US के पुराने HAWK एयर डिफेंस सिस्टम से जंग लड़ेगा! क्या ऐसे में रूस कीव को रौंद देगा?

रूस ने पिछले दो हफ्तों में यूक्रेन पर जबरदस्त हवाई हमले किए हैं। इन हमलों के कारण यूक्रेन की राजधानी कीव समेत कई शहर लगभग तबाह हो गए हैं।
Google Oneindia News

संयुक्त राज्य अमेरिका(US) यूक्रेन (Ukraine) को हॉक एयर डिफेंस सिस्टम ( HAWK air defence equipment) देने पर विचार कर रहा है। जानकारी के मुताबिक अमेरिकी शस्त्रागार में ये रक्षा उपकरण रखे हुए हैं। ये डिफेंस सिस्टम वियतनाम युद्ध के दौरान 1959 में अमेरिकी सेना में शामिल किया गया था। ये सिस्टम अब अमेरिकी शस्त्रागार में धूल फांक रहे हैं। वहीं,यूक्रेन से मिली खबरों के मुताबिक रूसी हमलों से कीव की हालत खराब हो गई है। वह लगातार ड्रोन और मिसाइल हमलों की आग में झुलसता जा रहा है। वह राख बनने की कगार पर खड़ा है। नाम नहीं बताने के शर्त पर एक अधिकारी ने रॉयटर्स को जंग के बीच अमेरिकी तैयारियों के विषय में जानकारी दी।

रूसी ड्रोन हमलों से परेशान हुआ यूक्रेन

रूसी ड्रोन हमलों से परेशान हुआ यूक्रेन

यूक्रेन रूसी क्रूज मिसाइलों की जद में है। रूसी सेना ने यूक्रेन पर लगातार ड्रोन हमले कर रहा है। देश खंडहर में तब्दील होता जा रहा है। यूक्रेन का आरोप है कि, रूस उसके ऊर्जा संयंत्रों पर हमले कर रहा है। इस वजह से पिछले दिनों यूक्रेन का आधा शहर अंधेरे में डूब गया था। खबर है कि यूक्रेन ब्लैकआउट की दिशा में तेजी से बढ़ता जा रहा है।

एयर डिफेंस सिस्टम मिलेगा

एयर डिफेंस सिस्टम मिलेगा

रूस ने पिछले दो हफ्तों में यूक्रेन पर जबरदस्त हवाई हमले किए हैं। इन हमलों के कारण यूक्रेन की राजधानी कीव समेत कई शहर लगभग तबाह हो गए हैं। यूक्रेन के 50 फीसदी पावर स्टेशन बर्बाद होने से लाखों लोग अंधेरे में रहने को मजबूर हैं। कई इलाकों में पानी की सप्लाई पर भी असर पड़ा है। ऐसे में यूक्रेनी राष्ट्रपति वलोडिमिर जेंलेस्की नाटो देशों से एयर डिफेंस सिस्टम देने की गुहार लगा रहे हैं। चंद दिनों पहले नाटो सम्मेलन में भी यूक्रेन को एयर डिफेंस सिस्टम देने पर चर्चा हुई थी।

हॉक एयर डिफेंस सिस्टम

हॉक एयर डिफेंस सिस्टम

रिपोर्ट के अमेरिकी यूक्रेन को कितने हॉक सिस्टम देगा इसकी अभी तक कोई जानकारी नहीं है। वहीं अमेरिका ने भी इस विषय पर कोई भी बात करने से इनकार कर दिया। HAWK इंटरसेप्टर मिसाइल स्टिंगर मिसाइल सिस्टम का अपग्रेड है। स्टिंगर छोटी दूरी का एयर डिफेंस सिस्टम है, जिनका इस्तेमाल पहले से ही यूक्रेन की सेना कर रही है। वहीं, पुराने हॉक सिस्टम को यूक्रेन को देने पर भी सवाल उठ रहे हैं। पुतिन की सेना यूक्रेन के शहरों पर हमला करने के लिए अडवांस मिसाइलों और ड्रोन का लगातार इस्तेमाल कर रही है। ऐसे में इस बात की संभावना बेहद कम है कि अमेरिका के पुराने हॉक सिस्टम रूसी मिसाइलों को ट्रैक कर पाए।

पुराना एयर डिफेंस सिस्टम

पुराना एयर डिफेंस सिस्टम

बाइडेन प्रशासन हॉक मिसाइल सिस्टम को ट्रांसफर करने के लिए प्रेसिडेंशियल ड्रॉडाउन अथॉरिटी (पीडीए) का इस्तेमाल कर सकता है। बता दें कि, यह डिफेंस सिस्टम वियतनाम युद्ध के दौरान बनाया गया था, लेकिन इसे कई बार अपग्रेड किया गया है। प्रेसिडेंशियल ड्रॉडाउन अथॉरिटी अमेरिका को आपात स्थिति के जवाब में कांग्रेस की मंजूरी के बिना अपने शस्त्रागार से हथियारों और सर्विसेज को जल्दी से दूसरे देशों को देने की अनुमति प्रदान करता है।

अमेरिका यूक्रेन को सैन्य सुरक्षा दे रहा है

अमेरिका यूक्रेन को सैन्य सुरक्षा दे रहा है

बता दें कि, 24 फरवरी को रूसी आक्रमण के बाद से अमेरिका ने यूक्रेन को लगभग 17 बिलियन अमेरिकी डॉलर की सुरक्षा सहायता प्रदान कर चुका है। वहीं, यूक्रेन भी अमेरिकी सैन्य सहायता के बदौलत रूसी सेना को खारकीव जैसे महत्वपूर्ण शहर से बाहर खदेड़ने में कामयाबी पाई थी। रूस के यूक्रेन से भिड़ने में हौसले पस्त होते दिख रहे हैं। हालांकि, अब फिर से रूस पूरी ताकत के साथ यूक्रेन पर टूट पड़ा है।

रूस ईरानी ड्रोन हमले कर रहा है?

रूस ईरानी ड्रोन हमले कर रहा है?

बता दें कि पिछले कुछ दिनों से रूस यूक्रेन पर ताबड़तोड़ मिसाइल और ईरानी घातक ड्रोन से हमले किए जा रहा है। हालांकि, क्रेमलिन ने उन रिपोर्टों को खारिज कर दिया है जिसमें कहा गया है कि रूस ईरानी हथियारों का इस्तेमाल यूक्रेन के खिलाफ कर रहा है। बता दें कि, जब से क्रीमिया और रूस को जोड़ने वाले पुल को तबाह किया गया है उसके बाद से यूक्रेन की हालत खराब हो गई है। रूस पागलों की भांति कीव के शहरों पर ताबड़तोड़ हमला किए जा रहा है। यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोदिमीर जेलेंस्की ने संयुक्त राष्ट्र के समक्ष रूस को आतंकी देश घोषित करने की बात कही है। वहीं, यूक्रेन जल्द से जल्द नाटो के सदस्य देशों में शामिल होना चाहता है। वहीं, रूस का कहना है कि अगर यूक्रेन नाटो में शामिल होता है तो तीसरा विश्व युद्ध संभव है।

ये भी पढ़ें : यूक्रेन अपनी धरती पर फोड़ेगा 'Dirty Bomb', जंग के 'चक्रव्यहू' में फंसकर रह जाएगा रूस!ये भी पढ़ें : यूक्रेन अपनी धरती पर फोड़ेगा 'Dirty Bomb', जंग के 'चक्रव्यहू' में फंसकर रह जाएगा रूस!

Comments
English summary
The United States is considering retrieving older HAWK air defence equipment from storage to send to Ukraine which is facing a heavy barrage of Russian drone-fired and cruise missiles, Reuters reported on Tuesday, quoting unnamed officials.
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X