• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

Coronovirus के चलते INDIA के नमस्ते के आगे नतमस्तक हुए दुनिया के ये शक्तिशाली नेता

|

नई दिल्‍ली। विश्‍व स्‍वास्‍थ्‍य संगठन (डब्‍लूएचओ) ने कोरोना वायरस को महामारी घोषित कर दिया है। अभी तक इस बात की कोई पुष्टि नहीं हो सकी है कि वायरस कैसे फैल रहा है। मगर माना जा रहा है कि सबसे बड़ी वजह संक्रमित इंसान के संपर्क में आने से वायरस फैल रहा है। अब इस वायरस की वजह से दुनिया भारत की उस परंपरा को स्‍वीकार करने लगी है जो कई सदियों से अभिवादन का हिस्‍सा बना हुआ है, नमस्‍ते। दुनिया के कई पावरफुल नेता अब नमस्‍ते कर रहे हैं और हैंडशेक से बच रहे हैं।

यह भी पढ़ें- चीन ने कहा अमेरिकी सेना लेकर आई थी Corona

ट्रंप बोले नमस्‍ते बहुत आसान

ट्रंप बोले नमस्‍ते बहुत आसान

ट्रंप अब हैलो या हैंडशेक की जगह नमस्‍ते को तरजीह दे रहे हैं। ट्रंप ने कहा है कि भारत बिना संपर्क में आए नमस्‍ते की वजह से कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई में काफी अहम हो गया है। ट्रंप जब व्‍हाइट हाउस में आयरलैंड के प्रधानमंत्री लियो वराडकर से मुलाकात कर रहे थे तो उस समय दोनों नेताओं ने एक-दूसरे का अभिवादन नमस्‍ते के साथ किया। यह बात भी दिलचस्‍प है आयरिश पीएम वराडकर खुद भारतीय मूल के हैं। मुलाकात के बाद प्रेस कॉन्‍फ्रेंस में उन्‍होंने लियो से हाथ मिलाने की जगह नमस्‍ते कहा और अपनी बात रखी। ट्रंप ने कहा, 'मैं हाल ही में भारत से लौटा हूं। मैंने वहां पर किसी से हाथ नहीं मिलाया और यह बहुत आसान था क्‍योंकि वहां पर सब एक-दूसरे से नमस्‍ते के साथ मिलते हैं।' इसके बाद ट्रंप ने दोनों हाथों को जोड़कर नमस्‍ते कहा और फिर जापान की परंपरा के तहत झुक कर अभिवादन किया।

फ्रांस के राष्‍ट्रपति भी सीख कर गए नमस्‍ते

फ्रांस के राष्‍ट्रपति भी सीख कर गए नमस्‍ते

कोरोना वायरस के डर के बीच ही फ्रांस के राष्‍ट्रपति इमैनुएल मैंक्रो ने अपने समकक्षों का अभिवादन हैंडशेक की जगह भारतीय परंपरा 'नमस्‍ते' के साथ करने का फैसला किया है। बुधवार को पेरिस स्थित एलीसी पैलेस में मैंक्रो ने हाथ जोड़कर नमस्‍ते के साथ स्‍पेन के किग फिलिप और रानी लेटजिया का अभिवाददन किया। फ्रांस के राजदूत लेनिन ने ट्वीट किया और लिखा, 'राष्‍ट्रपति मैंक्रो ने तय किया है कि वह अपने सभी समकक्षों का अभिवादन नमस्‍ते के साथ करेंगे, एक ऐसा शोभनीय तरीका जिसके बारे में उन्‍होंने अपने साल 2018 के भारत दौरे में सीखा।' मैंक्रो के अलावा उनकी पत्‍नी फर्स्‍ट लेडी ब्रिगेट ने भी राजा-रानी का स्‍वागत नमस्‍ते से किया।

इजरायली पीएम नेतन्‍याहू भी बोले नमस्‍ते

इजरायली पीएम नेतन्‍याहू भी बोले नमस्‍ते

मैंक्रो और ट्रंप से पहले इजरायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्‍याहू ने भी लोगो से अपील की है कि वे हाथ मिलाने की जगह नमस्‍ते को अपने अभिभावदन करने के अंदाज का हिस्‍सा बनाएं। नेतन्‍याहू ने कुछ दिनों पहले अपने देशवासियों से अपील की थी कि वे सभी कोरोना वायरस के कहर से बचने के लिए भारत की परंपरा नमस्‍ते को चलन में लाएं। पिछले दिनों नेतन्याहू ने अपने देशवासियों को संबोधित किया, उन्होंने कहा कि कोरोना को रोकने के लिए कई कदम उठाने जरूरी हैं। लेकिन कुछ ऐसी चीजें भी हैं, जिन्हें लोगों को अपने जीवन में उतारना होगा। इसमें एक दूसरे को छूना बंद करना होगा, जिसकी शुरुआत हैंडशेक से करनी होगी।

प्रिंस चार्ल्‍स का वीडियो वायरल

नेतन्‍याहू के अलावा अलग पिछले दिनों ब्रिटेन के प्रिंस चार्ल्‍स ने लंदन में आयोजित एक कॉमनवेल्‍थ इवेंट में लोगों का अभिभावन इसी नमस्‍ते किया है। प्रिंस चार्ल्‍स का नमस्‍ते वाला वीडियो सोशल मीडिया पर काफी वायरल हुआ था। 71 साल के प्रिंस चार्ल्‍स जब हर वर्ष आयोजित होने वाले ट्रस्‍ट अवॉर्ड में पहुंचे थे तो उन्‍होंने नमस्‍ते के साथ सबका स्‍वागत किया था। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी कुछ समय पहले लोगों से कहा था कि नमस्‍ते को चलन में लाने की आदत डालें। जो भी वर्ल्‍ड लीडर्स आज नमस्‍ते को चलन में ला रहे हैं वे सभी पीएम मोदी के करीबी हैं। अब तक इस वायरस की चपेट में दुनिया में 4,298 लोगों की मौत हो चुकी है और साथ ही 119,100 लोग इससे संक्रमित हैं।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Coronavirus: How world's powereful leders are saying Namaste instead of shaking hands.
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X