• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

बगुला भगत बना चीन, बोला '70 सालों में एक इंच विदेशी जमीन पर कब्जा नहीं किया'

|

नई दिल्ली। भारतीय सेना द्वारा पैगोंग सो क्षेत्र में चीनी सेना (PLA) के प्रयासों को असफल करने के बाद चीनी विदेश मंत्रालय ने बगुला भगत वाली कहानी चरित्रार्थ कहते हुए कहा है कि बीझिंग ने पिछले 70 सालों में एक इंच भी किसी विदेशी जमीन पर कब्जा नहीं किया है। यह बयान चीनी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता हुआ चुनयिंग ने दिया है। उन्होंन पूर्वी लद्दाख में वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) पर तनाव के लिए भारत को ही जिम्मेदार ठहरा दिया है।

    India-China Ladakh LAC Tension : अब बौखलाया चीन, Foreign Ministry ने कही ये बात | वनइंडिया हिंदी

    china

    बिहार में कमजोर पड़ता महागठबंधन, जदयू में शरद यादव की घर वापसी को लेकर तेज हुईं अटकलें

    चीनी सीमा सैनिकों ने हमेशा LAC का कड़ाई से पालन किया: चीनी प्रवक्ता

    चीनी सीमा सैनिकों ने हमेशा LAC का कड़ाई से पालन किया: चीनी प्रवक्ता

    बकौल चीनी प्रवक्ता, नए चीन के इतिहास में बीझिंग ने कभी भी दूसरे देश के क्षेत्र में एक इंच भी कब्जा नहीं किया। भारत को चीन की चिंताओं की गंभीरता से लेना चाहिए और सीमा पर शांति कायम करने में योगदान देना चाहिए। चीनी सीमा सैनिकों ने हमेशा LAC का कड़ाई से पालन किया और कभी भी सीमा को पार नहीं किया है।

    पैंगोंग सो क्षेत्र में यथास्थिति बदलने के लिए चीन ने असफल प्रयास किया

    पैंगोंग सो क्षेत्र में यथास्थिति बदलने के लिए चीन ने असफल प्रयास किया

    सोमवार को आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि भारतीय सेना ने पैंगोंग सो क्षेत्र में एकतरफा यथास्थिति बदलने के चीन की सेना (पीएलए) के असफल प्रयास किया। सेना के प्रवक्ता कर्नल अमन आनंद ने बताया कि चीन की सेना ने 29 और 30 अगस्त की रात ''एकतरफा तरीके से पैंगोंग सो के दक्षिणी तट पर यथास्थिति बदलने के लिए उकसावेपूर्ण सैन्य गतिविधि की, लेकिन भारतीय सैनिकों ने उसके प्रयास को असफल कर दिया।

    चीनी सेना ने सोमवार शाम को भारतीय सेना के बयान का खंडन किया

    चीनी सेना ने सोमवार शाम को भारतीय सेना के बयान का खंडन किया

    हालांकि चीनी सेना ने सोमवार शाम को भारतीय सेना के बयान का खंडन किया था, जिसमें दावा किया गया था कि उसके सैनिकों ने एलएसी पार किया था। मंगलवार को एक बार फिर चीनी विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता हुआ चुनयिंग ने इस दावे को दोहराते हुए कहा कि भारतीय पत्र का बयान चीनी पक्षों से अलग हो सकता है, लेकिन केवल यही एक सच्चाई और तथ्य है।

    नए चीन की स्थापना के बाद उसने कभी युद्ध या संघर्ष को नहीं उकसाया

    नए चीन की स्थापना के बाद उसने कभी युद्ध या संघर्ष को नहीं उकसाया

    उन्होंने जोर देकर कहा कि नए चीन की स्थापना के 70 साल बाद, चीन ने कभी किसी युद्ध या संघर्ष को उकसाया नहीं और कभी भी दूसरे देश के क्षेत्र में एक इंच भी कब्जा नहीं किया। एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि कम्युनिकेशन के शायद कुछ मुद्दे हैं और उन्हें लगता है कि दोनों को पक्षों को तथ्यों के साथ चलना चाहिए और सभी द्विपक्षीय संबंधों को बनाए रखने चाहिए और सीमा पर शांति के लिए ठोस उपाय करना चाहिए।

    भारत में सीमा पर सैन्य वृद्धि के बारे में कई मीडिया रिपोर्टें आई हैंः चीन

    भारत में सीमा पर सैन्य वृद्धि के बारे में कई मीडिया रिपोर्टें आई हैंः चीन

    इस दौरान हुआ ने पूर्वी लद्दाख में एलएसी पर भारतीय सैन्य बलों की तैनाती का भी उल्लेख किया है। उन्होंने कहा है कि भारत में सीमा पर सैन्य वृद्धि के बारे में कई मीडिया रिपोर्टें आई हैं। उन्हें लगता है कि दोनों देशों के लोग एक साथ शांति से रहना चाहते हैं और ऐसी भारतीय मीडिया रिपोर्ट लोगों की आकांक्षाओं के अनुरूप नहीं है। प्रवक्ता ने आगे कहा कि पिछले कुछ समय में चीन और भारत के बीच बहु-स्तरीय वार्ता हुई और सीमा पर मतभेदों को शांतिपूर्वक सुलझाने के लिए प्रयास हुए हैं।

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    After the Indian Army foiled the efforts of the Chinese Army (PLA) in the Paigong So area, the Chinese Foreign Ministry has said the story of Heron Bhagat as a character, saying that Beijing has not occupied any foreign land in the last 70 years. . This statement was made by Chinese Foreign Ministry spokesman Hua Chunying. He blamed India for the tension on the Line of Actual Control (LAC) in eastern Ladakh.
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X