• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

विजय माल्या को यूके की कोर्ट में बड़ा झटका, लीगल टीम की तमाम दलीलें खारिज

|

नई दिल्ली। भारत के बैंकों को करोड़ों का चुना लगाकर दे से फरार भगोड़े विजय माल्या की मुश्किलें बढ़ गई है। बुधवार को यूके की हाई कोर्ट माल्या के वकीलों की टीम के कई तर्कों को खारिज कर दिया है। यह सुनवाई लंदन स्थित माल्या के घर को बचाने के लिए हो रही है, जिसकी सुनवाई के दौरान कोर्ट ने बुधवार को माल्या को बड़ा झटका दिया है। कोर्ट ने वकीलों के तमाम तर्को को स्वीकार नहीं किया है। यूके स्थित स्विस और यूबीएस बैंकों ने माल्या के घर को जब्त किए जाने की याचिका दायर की है।

mallya

बैंकों की याचिका पर सुनवाई करते हुए यूके की हाई कोर्ट ने माल्या के वकीलों के इससे जुड़े तर्क को खारिज कर दिया है। आपको बता दें कि बैंको ने याचिका दायर करके सेंट्रल लंदन स्थिति रीजेंट पार्क कॉर्नवॉल टेरेस को अधिग्रहित करने की कोर्ट में अपील की है। दरअसल माल्या के उपर इन बैंकों का भी पैसा बकाया है। इन बैंकों पर माल्या का 20.4 मिलियन पाउंड बकाया है, जोकि माल्या ने बैंकों से लोन के तौर पर लिया था। माल्या की इस संपत्ति का जिक्र यूके की हाई कोर्ट में किया गया था।

आपको बता दें कि ब्रिटेन की एक अदालत ने इससे पहले ऐतिहासिक फैसला देते हुए कहा कि दिल्ली की तिहाड़ जेल सुरक्षित है, यहां भारतीय भगोड़ों को प्रत्यर्पित किया जा सकता है। कोर्ट ने यह आदेश क्रिकेट मैच फिक्सिंग के आरोपी संजीव चावला से संबंधित मामले में दिया है। ब्रिटेन की कोर्ट का ये फैसला विजय माल्या के भारत प्रत्यर्पण के लिहाज से अहम माना जा रहा है। यूके कोर्ट ने फैसला सुनाते हुए कहा कि तिहाड़ जेल परिसर में संजीव चावला को कोई खतरा नहीं है। भारत सरकार की ओर से दिए गए तीसरे आश्वासन के बाद कोर्ट ने ये आदेश सुनाया है।

इसे भी पढ़ें- यूपी: राममंदिर को लेकर एक बार फिर बोले साक्षी महाराज, कहा- सोमनाथ के तर्ज पर सरकार लाए कानून

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Big set back to Vijay Mallya by UK high court argument of legal team rejected.
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X