• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

दुनिया महामारी से लड़ रही है और पाकिस्तान आतंक का निर्यात करने में व्यस्त है: सेना प्रमुख

|

नई दिल्ली। भारतीय सेना प्रमुख जनरल एमएम नरवने ने शुक्रवार को कश्मीर में नियंत्रण रेखा (एलओसी) पर पाकिस्तान द्वारा लगातार संघर्ष विराम उल्लंघन की निंदा करते हुए कहा कि पूरी दुनिया कोरोनो वायरस महामारी से जूझ रही है, लेकिन पड़ोसी देश पाकिस्तान आंतक का निर्यात के जरिए हड़कंप मचाना बंद नहीं किया है।

    Corona Crisis में भी Pakistan की नापाक हरकत Army Chief Naravane ने लगाई लताड़ | वनइंडिया हिंदी

    narwane

    जनरल एमएम नरवने शुक्रवार को राष्ट्रीय लॉकडाउन के बीच घाटी में सुरक्षा की समीक्षा के लिए दो दिवसीय यात्रा पर क्षेत्र के दौरे पर गए हैं, जहां पाकिस्तान की सेना द्वारा संघर्ष विराम उल्लंघन एक असामान्य रूप से बढ़ गया। घाटी में कोरोना वायरस संक्रमण की श्रृंखला को तोड़ने के लिए लॉकडाउन लागू होने किए जाने के बाद सेना प्रमुख नरवने का क्षेत्र में यह पहला दौरा है, जो शुक्रवार को ही दिल्ली लौट आएंगे।

    Covid19 महामारी के बीच कश्मीर में घुसपैठ के लिए सीमा पर तैयार बैठे हैं 230 आतंकी!

    narwane

    जनरल नरवने ने कहा, "यह बहुत दुर्भाग्यपूर्ण है कि ऐसे समय में जब पूरी दुनिया और भारत इस महामारी के खतरे से जूझ रहे हैं, हमारे पड़ोसी हमारे लिए लगातार परेशानी का सबब बन रहे हैं, जब हम न केवल अपने स्वयं के नागरिकों बल्कि दुनिया के बाकी हिस्सों में मेडिकल टीम भेजकर और दवाओं का निर्यात करने में व्यस्त हैं, लेकिन दूसरी ओर पाकिस्तान केवल आतंक का निर्यात कर रहा है। यह दोनों देशों के अच्छे संबंधों में वृद्धि नहीं करता है।

    narwane

    सेना प्रमुख ने बताया कि गत 5 अप्रैल को कश्मीर घाटी के केरन सेक्टर से घुसपैठ के दौरान हुए मुठभेड़ में पांच कमांडो साथ ही पांच आतंकवादी मारे गए, जिन्होंने आंतकी दल को केरन घाटी से कश्मीर में घुसने से रोका था। सेना ने गत 10 अप्रैल को बताया था कि उसने संघर्ष विराम उल्लंघन की प्रतिक्रिया में LoC के पार कुपवाड़ा के केरन सेक्टर में मौजूद आतंकियों के लॉन्च पैड और गोला बारूद को नष्ट कर दिया था।

    Covid19: भारत ने संयुक्त राष्ट्र की इस टिप्पणी पर कड़ी आपत्ति जताई, जानिए क्या है मामला?

    narwane

    सेना प्रमुख ने बताया कि भारतीय सेना ने अकारण संघर्ष विराम उल्लंघन के जवाब में ऑर्टेलेरी तोपों से पाकिस्तानी ठिकानों को जबर्दस्त निशाना बनाया था और पाकिस्तानी सेना की चौकियों, आतंकी लॉन्च पैड्स और गोला-बारूद को भारी नुकसान पहुंचाया था।

    क्या मलेरिया रोधी दवा हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन की बिक्री भारत में प्रतिबंधित है, जानिए सच्चाई?

    गौरतलब है जम्मू और कश्मीर में पाकिस्तानी सेना द्वारा गोलीबारी में एक महिला और दो बच्चों समेत कुल तीन सिविलियन की मौत हो गई थी और भारत ने तीन सिविलियन की हत्या के लिए पहले ही पाकिस्तान के साथ विरोध दर्ज कराया है।

    narwane

    भारत ने कश्मीर में संघर्ष विराम के उल्लंघन को लेकर सीमांकन में निर्दोष नागरिकों को जानबूझकर निशाना बनाने की कड़े शब्दों में निंदा की, जिसमें कुपवाड़ा के तुमना गांव का स्थानीय निवासी 35 वर्षीय शमीमा बेगम और 17 साल के जावीद अहमद खान, रेड्डी गोकिबाल और आठ साल के जीशान बशीर की मौत हो गई थी।

    narwane

    घटनाक्रम से परिचित लोगों ने कहा कि पाकिस्तानी सेना रेखांकित सीमांकन पर अकारण गोलीबारी और युद्धविराम उल्लंघन का सहारा लेती रहती है और नागरिकों के खिलाफ ऐसे जघन्य अपराधों की जांच करने के लिए इस्लामाबाद को कहती है। पाकिस्तान की सेना ने पिछले दो वर्षों की इसी अवधि की तुलना में इस वर्ष जनवरी-मार्च के दौरान अधिक संघर्ष विराम उल्लंघन किया है।

    जानिए, दूसरे देशों की तुलना में भारत में प्रति 10 लाख की जनसंख्या में क्या है Covid-19 टेस्टिंग का आंकड़ा?

    narwane

    उल्लेखनीय है पाकिस्तान ने जनवरी और मार्च के बीच 1144 बार संघर्ष विराम का उल्लंघन किया है और सबसे अधिक उल्लंघन (411) पिछले महीने दर्ज किए गए जब Covid -19 मामले वैश्विक स्तर पर चरम पर पहुंचने लगे। पाकिस्तान की सेना ने 2019 में 685 बार संघर्ष विराम का उल्लंघन किया और 2018 में जनवरी से मार्च के बीच 627 बार संघर्ष विराम का उल्लंघन किया।

    मेडिकल कॉलेजों में स्थापित किए जाएंगे Covid-19 टेस्ट सुविधा केंद्र, ICMR ने मांगे आवदेन!

     5 अप्रैल को घाटी के केरन सेक्टर से घुसपैठ कर रहे 5 आंतकी मारे गए

    5 अप्रैल को घाटी के केरन सेक्टर से घुसपैठ कर रहे 5 आंतकी मारे गए

    गत 5 अप्रैल को कश्मीर घाटी के केरन सेक्टर से घुसपैठ के दौरान हुए मुठभेड़ में पांच कमांडो साथ ही पांच आतंकवादी मारे गए, जिन्होंने आंतकी दल को केरन घाटी से कश्मीर में घुसने से रोका था।

    सेना ने कुपवाड़ा के केरन सेक्टर में मौजूद आतंकियों का लांच पैड नष्ट किया

    सेना ने कुपवाड़ा के केरन सेक्टर में मौजूद आतंकियों का लांच पैड नष्ट किया

    सेना ने गत 10 अप्रैल को बताया था कि उसने संघर्ष विराम उल्लंघन की प्रतिक्रिया में LoC के पार कुपवाड़ा के केरन सेक्टर में मौजूद आतंकियों के लॉन्च पैड और गोला बारूद को नष्ट कर दिया था। सेना ने अकारण संघर्ष विराम उल्लंघन के जवाब ऑर्टेलेरी तोपों से पाकिस्तानी ठिकानों को निशाना बनाया था, जिससे पाकिस्तानी सेना की चौकियों, आतंकी लॉन्च पैड्स और गोला-बारूद को नुकसान पहुंचाया था।

    पाकिस्तानी सेना की गोलीबारी में एक महिला और दो बच्चों की मौत हुई थी

    पाकिस्तानी सेना की गोलीबारी में एक महिला और दो बच्चों की मौत हुई थी

    जम्मू और कश्मीर में पाकिस्तानी सेना द्वारा गोलीबारी में एक महिला और दो बच्चों समेत कुल तीन सिविलियन की मौत हो गई थी और भारत ने तीन सिविलियन की हत्या के लिए पहले ही पाकिस्तान के साथ विरोध दर्ज कराया है। भारत ने कश्मीर में संघर्ष विराम के उल्लंघन को लेकर सीमांकन में निर्दोष नागरिकों को जानबूझकर निशाना बनाने की कड़े शब्दों में निंदा की, जिसमें कुपवाड़ा के तुमना गांव का स्थानीय निवासी 35 वर्षीय शमीमा बेगम और 17 साल के जावीद अहमद खान, रेड्डी गोकिबाल और आठ साल के जीशान बशीर की मौत हो गई थी। ।

    पाक ने जनवरी और मार्च के बीच 1144 बार संघर्ष विराम का उल्लंघन

    पाक ने जनवरी और मार्च के बीच 1144 बार संघर्ष विराम का उल्लंघन

    पाकिस्तान ने जनवरी और मार्च के बीच 1144 बार संघर्ष विराम का उल्लंघन किया है और सबसे अधिक उल्लंघन (411) पिछले महीने दर्ज किए गए जब Covid -19 मामले वैश्विक स्तर पर चरम पर पहुंचने लगे। पाकिस्तान की सेना ने 2019 में 685 बार संघर्ष विराम का उल्लंघन किया और 2018 में जनवरी से मार्च के बीच 627 बार संघर्ष विराम का उल्लंघन किया।

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    General MM Narwane has gone on a field visit on Friday on a two-day visit to review security in the valley amid national lockdown, where ceasefire violations by Pakistan's military increased an unusually high. This is the first visit by Army Chief Narwane to the region, who will return to Delhi on Friday after the lockdown was implemented to break the chain of Corona virus infection in the valley.
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X