• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

बालाकोट एयर स्ट्राइक में भारत मां की बेटियां भी शामिल थीं: राजनाथ सिंह

|

नई दिल्ली। अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस के मौके पर रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि मेरा मानना है कि सशस्त्र बलों की किसी भी शाखा के दरवाजे महिला अधिकारियों के लिए बंद नहीं होने चाहिए। मैं जानता हूं कि शभी शाखाओं में महिलाओं के कमीशन के खिलाफ कुछ हद तक प्रतिरोध होता, लेकिन अब यह प्रतिरोध खत्म हो रहा है। राजनाथ सिंह ने कहा कि महिलाएं वायुसेना की सभी शाखाओं, सेना की 8 शाखाओं और नौसेना की सभी गैर समुद्री शाखाओं में काम कर रही हैं। मैं आप लोगों को भरोसा दिलाना चाहता हूं कि बाकी सभी शाखाओं को भी महिलाओं के लिए खोला जाएगा।

rajnath singh

राजनाथ सिंह ने कहा कि हाल ही में बालाकोट एयर स्ट्राइक की पहली वर्षगांठ मनाई गई, इस अभियान में भी स्क्वॉड्रन लीडर मिन्टी अग्रवाल जैसी भारत की सपूत बेटियां शामिल हुईं थी। अपने अदम्य साहस के लिए युद्ध सेवा मेडल पानी वाली वह पहली महिला अधिकारी हैं। मोदी सरकार में महिला सशक्तिकरण बुनियादी विषय रहा था। महिलाओं को सशक्त करने के लिए भारत सरकार ने कई नीतियां बनाई हैं और कई कार्यक्रम चल रहे हैं। राजनाथ सिंह ने कहा कि अपनी इच्छाशक्ति के लिए दम पर महिलाओं ने बदलते भारत की एक नई तस्वीर को पेश किया है।

रक्षामंत्री ने कहा कि शायद ही आज कोई ऐसा क्षेत्र हो जहां महिलाएं पुरुषों के कंधे से कंधा मिलाकर नहीं चल रही हैं। आज महिलाएं पुरुषों के साथ कदमताल कर रही हैं। आने वाले समय में महिलाओं के रास्ते से अड़चनों को हटाया जाए तो कम से कम 1.5 करोड़ नए व्यवसाथ महिलाएं शुरू कर सकती हैं। इससे देश में करीब 6.4 करोड़ रोजगार पैदा किए जा सकते हैं।

इसे भी पढ़ें- International Women's Day 2020: दिल्ली एयरपोर्ट पर महिलाओं के लिए खास कैब सेवा

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Women were involved in Balakot air strike says Rajnath Singh.
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X