• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

Farmer Protest: किसान यूनियन ने कहा- कभी नहीं जाएंगे बुराड़ी, वो पार्क नहीं ओपन जेल है

|

नई दिल्‍ली। कृषि कानून 2020 के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे किसानों ने बुराड़ी जाने से मना कर दिया है। उनका कहना है कि बुराड़ी ओपन जेल जैसा है। किसान संगठन बीकेयू क्रांतिकारी के प्रदेश अध्‍यक्ष सुरजीत सिंह फूल ने कहा कि बातचीत के लिए जो शर्ते रखी गई हैं वो किसानों का अपमान है। हम बुराड़ी कभी नहीं जाएंगे क्‍योंकि वो ओपन पार्क नहीं बल्‍कि ओपन जेल है। बता दें कि हजारों की संख्या में पंजाब-हरियाणा समेत कई राज्यों के किसान दिल्ली कूच किए हैं।

    Farmers Protest: Burari को किसानों ने बताया-'Open Jail', किया ये बड़ा ऐलान | वनइंडिया हिंदी

    Farmer Protest: किसान यूनियन ने कहा- कभी नहीं जाएंगे बुराड़ी, वो पार्क नहीं ओपन जेल है

    दिल्ली बॉर्डर पर किसानों के प्रदर्शन की वजह से आम जतना की परेशानी को देखते हुए सरकार ने बुराड़ी ग्राउंड पर शिफ्ट होने की अपील की थी। एक तरफ जहां दिल्ली के सिंघु और टिकरी सीमा पर हरियाणा और पंजाब के किसान डटे हुए हैं तो वहीं, यूपी सीमा पर भी भारतीय किसान यूनियन (भाकियू) नेता राकेश टिकैत के नेतृत्‍व में किसान हजारों की संख्या में डेरा डाल रखा है। अमित शाह की अपील और पीएम मोदी मन की बात कार्यक्रम में किसानों को नए कृषि कानूनों के फायदे बताए के बावजूद किसान पीछे हटने को तैयार नहीं हैं।

    कोरोना की चपेट में आकर वेंटिलेटर पर मौत से जूझ रही है ये मशहूर अभिनेत्री, मुश्‍किल वक्‍त में पति हुआ फरार

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    We have decided that we will never go to Burari Park as we got proof that it's an open jail: Surjeet S Phul, President, BKU Krantikari
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X