• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

उन्नाव रेप केस: साध्वी निरंजन ज्योति ने लोकसभा में कहा, SP नेता को बचाने की साजिश

|

नई दिल्ली: उन्नाव रेप केस का मामला लगातार तूल पकड़ता जा रहा है। मंगलवार को लोकसभा में भी ये मुद्दा उठा। इस मुद्दे को लेकर लोकसभा में जमकर हंगाना हुआ। बीजेपी ने आरोप लगाया कि पीड़िता की कार को रविवार को जिस ट्रक ने टक्कर मारी थी। वो ट्रक समाजवादी पार्टी के नेता का है। बीजेपी ने कहा किस सपा रेप जैसे संवेदनशील मुद्दे पर राजनीति कर रही है। इस हरकत को किसी भी सूरत में सही नहीं माना जा सकता है।

साध्वी निरजंन ज्योति ने लगाया आरोप

साध्वी निरजंन ज्योति ने लगाया आरोप

बीजेपी की नेता और केंद्रीय मंत्री साध्वी निरंजन ज्योति ने कहा कि इस मामले में ट्रक वाला फतेहपुर का रहने वाला है। इसके साथ ही वह समाजवादी पार्टी का कार्यकर्ता है। उसे बचाने के लिए समाजवादी पार्टी बीजेपी को बदनाम करने की कोशिश कर रही है। वहीं बीजेपी के एक और सासंद जगदंबिका पाल ने कहा कि जिस ट्रक से हादसा हुआ है वह सपा नेता का है, विपक्ष सबूत मिटाने की कोशिश कर रहा है। उन्होंने कहा कि सरकार ने इस मामले में तुरंत कार्रवाई की है और यह हादसा हो सकता है, लेकिन सपा और कांग्रेस इसे बीजेपी की साजिश बता रहे हैं।

अधीर रंजन चौधरी ने साधा निशाना

अधीर रंजन चौधरी ने साधा निशाना

लोकसभा में कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी ने कहा कि उन्नाव की घटना सभ्य समाज के ऊपर कलंक है। रेप मामले की सीबीआई जांच हो रही है फिर भी सरकार पीड़ितों की सुरक्षा नहीं दे पा रही है। उन्होंने आगे कहा कि रेप पीड़िता के कई परिजनों की पहले ही मौत हो चुकी है.। उन्होंने गृह मंत्री से इस मामले में सदन में जवाब देने की मांग की और कहा कि हम किस समाज में रह रहे हैं। पीड़िता के साथ दर्दनाक घटना घट रही है और सरकार को इस पर जवाब देना चाहिए।

सपा कार्यकर्ता का है ट्रक

सपा कार्यकर्ता का है ट्रक

मंगलवार सुबह ये बात सामने आई कि जिस ट्रक से रेप पीड़िता की कार का एक्सीडेंट हुआ है, वो ट्रक समाजवादी पार्टी के नेता नंदू पाल के बड़े भाई देवेंद्र पाल का है। हादसे के बाद से फतेहपुर के जेल रोड पर स्थित देवेंद्र पाल के मकान में ताला लगा है। मीडिया रिपोट्स के मुताबिक देवेंद्र पाल ललौली थाना क्षेत्र के मुत्तोर गांव के रहने वाले हैं।

क्या है पूरा मामला?

क्या है पूरा मामला?

पुलिस ने बताया कि उन्नाव रेप केस की पीड़िता अपने परिवार और वकील के साथ रविवार को रायबरेली जेल में बंद अपने चाचा से मिलने जा रही थी। रास्ते में उसकी कार को एक तेज रफ्तार ट्रक ने जोरदार टक्कर मार दी। हादसे में पीड़िता की चाची और मौसी की मौत हो गई है, जबकि पीड़िता और वकील की हालत गंभीर बनी हुई है। पुलिस ने कहा कि वाहन विपरीत दिशा में आ रहे थे और बारिश की वजह से कम दृश्यता के कारण आपस में टकरा गए। यूपी पुलिस ने सोमवार को बीजेपी नेता और अन्य 9 लोगों के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज किया है।

विधायक पर महिला ने लगाया रेप का आरोप

विधायक पर महिला ने लगाया रेप का आरोप

गौरतलब है कि उन्नाव में माखी पुलिस थाना क्षेत्र में रहने वाली पीड़िता ने आरोप लगाया था कि उन्नाव के बांगरमऊ से चार विधायक के बीजेपी विधायक कुलदीप सेंगर ने साल 2017 में अपने आवास पर उसके साथ बलात्कार किया था। इसके बाद उसके पिता को पुलिस पकड़ ले गई जहां हिरासत के दौरान उनकी मौत हो गई। मौत के पहले कुलदीप सिंह सेंगर के भाई अतुल सेंगर और उनके लोगों ने पुलिस हिरासत में ही पिता की पिटाई की थी। पीड़िता ने जब योगी आदित्यनाथ के आवास के बाहर कथित रूप से आत्मदाह का प्रयास किया था। तब ये मामला सामने आया था। कुलदीप सिंह सेंगर एक साल से जेल में है।

ये भी पढ़ें- उन्नाव रेप केस: BJP विधायक ने जेल से फोन कर कहा, जिंदा रहना चाहते हो तो बयान बदल दो

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Unnao case Survivor:Sadhvi Niranjan Jyoti says its conspiracy to save sp leader
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X