आतंकी हमलों पर मोदी सरकार का दावा फेल, RTI से हुआ खुलासा

Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली।एक ओर भारतीय जनता पार्टी के नेता और केंद्र की सरकार में मंत्री यह लगातार दावा कर रहे हैं कि उनकी सरकार में जम्मू और कश्मीर के हालात सुधरें हैं लेकिन हकीकत कुछ और ही है। सूचना के अधिकार में मांगी गई जानकारी के मिले जवाब में केंद्र की मोदी सरकार के दावों को फेल करता नजर आ रहा है। दरअसल, एक आरटीआई कार्यकर्ता को गृहमंत्रालय की ओर से जवाब मिला है कि 3 साल की मोदी सरकार में 812 आंतकी घटनाएं हुई हैं। यह सभी घटनाएं जम्मू और कश्मीर में हुई हैं। आरटीआई में यह खुलासा भी हुआ है कि संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (UPA-2) के आखिरी तीन सालों में पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के कार्यकाल के दौरान जम्मू और कश्मीर में 705 आतंकी घटनाएं हुई थीं। वहीं यह जानकारी भी सामने आई कि मोदी सरकार के दौरान हुए 812 आतंकी घटनाओं में 183 भारतीय सेना के जवान शहीद हुए और 62 नागरिक मारे गए।

terrorist attacks in jammu and kashmir in modi government .आतंकी हमलों पर मोदी सरकार का दावा फेल, RTI से हुआ खुलासा

वहीं पूर्ववर्ती मनमोहन सरकार के आखिरी 3 सालों के 705 घटनाओं के दौरान 105 भारतीय सेना के जवान शहीद हुए और 59 नागरिक मारे गए थे। गृह मंत्रालय से यह सूचना उत्तर प्रदेश स्थित गौतम बुद्ध नगर (नोएडा) निवासी राजन तोमर ने मांगी थी।

राजन की इस आरटीआई के आए जवाब में यह खुलासा भी हुआ कि जहां केंद्र की मौजूदा सरकार ने बीते 3 साल में 1890 करोड़ रुपए की धनराशि आतंकी गतिविधि को खत्म करने के लिए जारी की गई। वहीं मनमोहन सरकार ने आखिरी 3 साल में 850 करोड़ रुपए जारी किए थे।

ये भी पढ़ें: मोदी सरकार ने नौकरशाही में किए बड़े फेरबदल, यूपी के प्रमुख सचिव रहे राहुल भटनागर अब खेल मंत्रालय में

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
terrorist attacks in jammu and kashmir in modi government
Please Wait while comments are loading...

Oneindia की ब्रेकिंग न्यूज़ पाने के लिए
पाएं न्यूज़ अपडेट्स पूरे दिन.