• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

सरेंडर करने से पहले ताहिर हुसैन बोले, मैंने तो जगराते तक किए मैं दोषी नहीं

|

नई दिल्ली। राजधानी दिल्ली के उत्तर-पूर्वी इलाके में पिछले हफ्ते हुए दंगों में आम आदमी पार्टी के पार्षद ताहिर हुसैन का भी नाम सामने आया था। हिंसा भड़काने और आईबी ऑफिसर अंकित शर्मा की हत्या मामले में फरार चल रहे ताहिर खान को दिल्ली पुलिस ने गुरुवार को सरेंडर करने से पहले गिरफ्तार कर लिया। अपने ऊपर लगे आरोपो में ताहिर खान ने कहा कि वह हिंदू बहुल क्षेत्र में रहता है और वह अपने इलाके में भड़की हिंसा का जिम्मेदार नहीं है। बता दें कि गिरफ्तारी से पहले ताहिर हुसैन ने कोर्ट मे सरेंडर की याचिका दी थी जिसे न्यायालय ने खारिज कर दिया है।

सरेंडर से पहले पुलिस ने किया गिरफ्तार

सरेंडर से पहले पुलिस ने किया गिरफ्तार

इंडिया टुडे कि रिपोर्ट के मुताबिक वह ताहिर हुसैन पर उस समय से नजर बनाए हुए थे जबसे उसका नाम दिल्ली के खजूरी खास इलाके में हुई हिंसा के जुड़ा है, उसने वहां एक मकान भी खरीदा था। सरेंडर होने से पहले ताहिर हुसैन ने इंडिया टुडे से बातचीत की थी जिसमें उसने अपनी आप को निर्दोष बताया था। बता दें कि दिल्ली में 24-25 फरवरी को हुई हिंसा में 46 लोगों की मौत हो गई थी जबकि सैकड़ों घायल हो गए थे। हिंसा के एक सप्ताह बाद आप पार्षद को दिल्ली पुलिस ने कोर्ट में सरेंडर करने से पहले ही एसआईटी ने पार्किंग से गिरफ्तार किया।

    Delhi Violence: Tahir Hussain गिरफ्तार, बोला- मैं बेकसूर, Narco Test को भी तैयार | वनइंडिया हिंदी
    मैं जगरातों का आयोजन करता रहा हूं: ताहिर

    मैं जगरातों का आयोजन करता रहा हूं: ताहिर

    ताहिर हुसैन ने कहा, मैं दोषी नहीं हूं, मुझे खुद अपनी जिंदगी की भीख मांगनी पड़ी। मैंने पुलिस और स्थानीय अधिकारियों को बार-बार फोन किया लेकिन वे बहुत देर से मौके पर पहुंचे। ताहिर हुसैन ने दावा किया कि वह शांति और भाईचारे में यकीन रखता है। उन्होंने आगे कहा, जिस क्षेत्र में मैं रहता हूं, वे सभी मुझे जानते हैं। मैं उस इलाके में 6-7 सालों से रह रहा हूं। मैंने हमेशा हिंदू समुदाय के पक्ष में काम किया है। मैं जगरातों का आयोजन करता रहा हूं, मंडियों में सीसीटीवी लगाए हैं और भंडारे आयोजित किए हैं। मेरे कार्यालय में हिंदू कर्मचारियों की एक बड़ी आबादी है।

    ताहिर पर है चार एफआईआर

    ताहिर पर है चार एफआईआर

    ताहिर हुसैन के खिलाफ चार एफआईआर दर्ज हैं। दो एफआईआर खजूरी खास व दो दयालपुर थाने में दर्ज की गई हैं। एक एफआईआर हत्या, दूसरी शस्त्र अधिनियम व दो दंगा भड़काने व सांप्रदायिक सौहार्द खराब करने की धाराओं में दर्ज की गई हैं। एक एफआईआर एक पुलिसकर्मी की शिकायत पर दर्ज हुई है।

    किसी भी घटना में शामिल होने से लगातार इनकार

    किसी भी घटना में शामिल होने से लगातार इनकार

    दिल्ली हिंसा में शामिल होने का आरोप झेल रहे आप पार्षद ताहिर हुसैन इस तरह की किसी भी घटना में शामिल होने से लगातार इनकार कर रहे हैं। इस मामले में दिल्ली पुलिस ताहिर के बयान के आधार पर भी उनसे पूछताछ करेगी। दिल्ली पुलिस के एसीपी अजीत कुमार सिंगला ने खुलासा किया था कि घटना की जांच के दौरान आरोपी आप पार्षद ताहिर की भी बात सुनी जाएगी।

    दिल्‍ली हिंसा: कोर्ट ने खारिज की सरेंडर याचिका, दिल्ली पुलिस ने किया ताहिर हुसैन को गिरफ्तार

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    Tahir Hussain said before surrender i am living in Hindu localities not responsible for violence
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X