• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

अपनी अंतिम यात्रा में भी देश को बड़ा संदेश दे गईं सुषमा स्वराज

|

नई दिल्ली। भारतीय जनता पार्टी की वरिष्ठ नेता, पूर्व विदेश मंत्री सुषमा स्वराज का पूरे राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार किया गया। बुधवार को लोधी रोड स्थित शवदाह गृह में सुषमा स्वराज का अंतिम संस्कार किया गया।सुषमा स्वराज की बेटी ने अंतिम संस्कार की सभी रस्मों को पूरा किया। सुषमा स्वराज ने अपने अंतिम यात्रा के दौरान भी जाते-जाते देश को बड़ा संदेश दिया। प्रखर प्रवक्ता, लोकप्रिया नेता रहीं सुषमा स्वराज के अंतिम संस्कार के दौरान समाज द्वारा स्थापित मान्यताओं के विपरीत कई रम्सें हुई, जिसने लोगों को नया संदेश दिया।

 बेटी ने निभाई अंतिम संस्कार की रस्में

बेटी ने निभाई अंतिम संस्कार की रस्में

सामाजिक मान्यताओं के मुताबिक बेटा या पति अंतिम संस्कार की रस्में निभाते हैं, लेकिन सुषमा स्वराज की एकलौती बेटी बांसुरी स्वराज ने अपनी मां की अंतिम संस्कार की रस्में निभाई। बांसुरी सुषमा की एकलौती संतान हैं। सुषमा स्वराज के अंतिम संस्कार के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, लालकृष्ण आडवाणी, गृह मंत्री अमित शाह समेत भाजपा के तमाम बड़े नेता अंतिम संस्कार में मौजूद रहे।

अंतिम यात्रा में दिया संदेश

अंतिम यात्रा में दिया संदेश

सुषमा के अंतिम संस्कार के दौरान सबकी आंखें नम थी। अपने चहेते लोकप्रिया नेता को खोने का दर्द सबके चेहरे पर दिख रहा था। इतना ही नहीं बेटी द्वारा सारी रस्में निभाए जाने के बाद उनका इलेक्ट्रिक माध्यम से शवदाह किया गया। बांसुरी स्वराज ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी से ग्रेजुएट हैं और दिल्ली हाईकोर्ट और सुप्रीम कोर्ट में प्रैक्टिस करती हैं।

 राजनाथ सिंह, जेपी नड्डा और पीयूष गोयल ने दिया कंधा

राजनाथ सिंह, जेपी नड्डा और पीयूष गोयल ने दिया कंधा


बीजेपी मुख्यालय से लोधी रोड स्थित शवदाह ले जाने के दौरान केंद्रीय मंत्री राजनाथ सिंह, बीजेपी के कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा, पीयूष गोयल, रविशंकर प्रसाद समेत कई बीजेपी नेताओं ने कंधा दिया। वहीं अमित शाह और जेपी नड्डा ने उनके पार्थिव शरीर पर BJP का झंडा रखा।

 दिल का दौरा पड़ने से निधन

दिल का दौरा पड़ने से निधन


सहस स्वभाव लेकिन सशक्त महिला नेता सुषमा स्वराज लोगों में लोकप्रिय थीं। लोगों की मदद के लिए वो जानी-जाती थी। लंबे वक्त से बीमार चल रही सुषमा स्वराज को मंगलवार एम्स अस्पताल में भर्ती करवाया गया। दिल का दौरा पड़ने के बाद उन्हें एम्स के इमरजेंसी वार्ड में भर्ती करवाया गया, लेकिन उन्हें बचाया नहीं जा सका। बीजेपी पार्टी नेताओं के साथ-साथ विरोधियों ने भी सुषमा के निधन पर गहरी संवेदना जताई।

English summary
Swaraj's daughter Bansuri performed the last rites at Lodhi crematorium, where the mortal remains of the former Union minister were brought from the BJP headquarters.
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X