• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

केंद्रीय रेल राज्य मंत्री सुरेश अंगड़ी का कोरोना से निधन, जानिए उनका शानदार राजनीतिक करियर

|

नई दिल्ली। केंद्रीय रेल राज्य मंत्री सुरेश अंगड़ी का निधन हो गया। अंगड़ी 65 साल के थे। बुधवार रात दिल्ली स्थित एम्‍स अस्पताल में उनका निधन हुआ। अंगड़ी कोरोना वायरस से संक्रमित थे और उनका एम्स में इलाज चल रहा था। कर्नाटक के बेलगाम से भारतीय जनता पार्टी के सांसद सुरेश अंगड़ी 11 सितंबर को कोरोना से संक्रमित पाए गए थे। उन्होंने ट्वीट करके खुद के कोरोना पॉजिटिव होने की जानकारी दी थी। सुरेश अंगाड़ी कर्नाटक में भाजपाको मजबूत बनाने के लिए बहुत संघर्ष किया था। सुरेश अंगाड़ी के निधन भाजपा के लिए बहुत बड़ी क्षति है।

राज्‍य रेल मंत्री के तौर पर डेढ़ साल का कार्यभार

राज्‍य रेल मंत्री के तौर पर डेढ़ साल का कार्यभार

सुरेश अंगड़ी चन्नबसप्पा ने 31मई,2019 को रक्षा राज्‍य मंत्री पद का कार्यभार संभाला था। सुरेश अंगड़ी चन्नबसप्पा कर्नाटक में भारतीय जनता पार्टी के नेता थे।वे बेलगाम से 17वीं लोकसभा के लिए निर्वाचित हुए थे और उन्होंने रेल राज्‍य मंत्री का कार्यभार संभाला था। 2004 से संसद के सदस्य के रूप में रहे। इसके बाद 2019 से 2020 तक रेल राज्य मंत्री के रूप केंद्रीय मंत्री रहे।

पंजाब में पुतले जलाए जाने पर गुस्‍साईं कंगना रनौत, बोली मैं क्या विपक्षी नेता हूं?

बेलगाम से कानून की डिग्री हासिल की थी

बेलगाम से कानून की डिग्री हासिल की थी

केंद्रीय रेल राज्य मंत्री सुरेश अंगड़ीजन्‍म सोमाव्‍वा और चन्नबसप्पा अंगदी के घर हुआ था। वह बेलगावी जिले के गांव केके कोप्पा और बेलगाम तालुका से थे और उन्‍होंने बेलगाम के एस.एस.एस. समिति कॉलेज ऑफ कॉमर्स से स्‍नातक की शिक्षा प्राप्‍त की। बाद में उन्‍होंने प्रतिष्ठित राजा लखमगौड़ा लॉ कॉलेज, बेलगाम से कानून में स्‍नातक की डिग्री हासिल की। सुरेश अंगड़ी 2 बेटियाँ हैं।

अंगाड़ी चार बार बेलगावी संसदीय क्षेत्र से सांसद रहे

अंगाड़ी चार बार बेलगावी संसदीय क्षेत्र से सांसद रहे

भारतीय जनता पार्टी के सदस्‍य अंगड़ी 1996 में पार्टी की बेलगाम जिला इकाई के उपाध्‍यक्ष बन गए। वह 1999 तक उसी पद पर रहे। 2001 में उन्‍हें पार्टी की जिला इकाई का अध्‍यक्ष नामित किया गया और 2004 में बेलागावी लोकसभा सीट के लिए पार्टी के उम्‍मीदवार नामित होने तक वह इसी पद पर रहे। 2009 के आम चुनाव में वह दूसरे कार्यकाल के लिए सांसद चुन लिए गए। 2014 में वह लगातार तीसरी बार लोकसभा के लिए निर्वाचित हुए। उन्होंने भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के अपने प्रतिद्वंद्वी को बड़े अंतर से हराया और 14 वीं लोकसभा के सदस्य बने थे। वह 2004, 2009, 2014 और 2019 में बेलगावी से लोकसभा के लिए चुने गए थे।

अर्थव्‍यवस्‍था पर दिया था ये बयान

अर्थव्‍यवस्‍था पर दिया था ये बयान

कुछ दिनों पूर्व केंद्रीय रेल राज्यमंत्री सुरेश अंगडी ने कहा था कि देशभर में एयरपोर्ट और ट्रेन भरे हुए हैं और लोग शादियां कर रहे हैं, इससे संकेत मिलता है कि अर्थव्यवस्था ठीक है। साथ ही उन्होंने कहा कि कुछ लोग आर्थिक संकट का दावा करके प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की छवि को खराब करने की कोशिश कर रहे हैं। ये बात उन्‍होंने डेडिकेटेड फ्रेट कॉरिडोर के टूंडला-खुर्जा गलियारे का निरीक्षण के दौरान कही थी।

रेलवे को नुकसान पहुंचाने वालों को गोली मार दो

रेलवे को नुकसान पहुंचाने वालों को गोली मार दो

सुरेश अंगड़ी ने कुछ समय पहले राज्य मंत्री के पद पर रहते हुए हुए ही कहा था कि रेलवे और विकास के लिए हमारे 13 लाख कर्मचारी काम कर रहे हैं। मैं संबंधित जिला प्रशासन और रेलवे अधिकारियों को कहना चाहता हूं कि अगर कोई रेलवे की संपत्ति को नुकसान पहुंचाता है तो उसे देखते ही गोली मार दी जाए। रेल राज्य मंत्री ने हुब्बली में ये बात कही थी। उन्‍होंने कहा था यदि कोई व्यक्ति रेलवे संपत्ति को नुकसान पहुंचा रहा है, तब मैं उस राज्य के मुख्यमंत्री से 'सख्त कार्रवाई करने को कहूंगा, ठीक उसी तरह जैसे कि सरदार वल्लभभाई पटेल ने भारत संघ में हैदराबाद के विलय के दौरान कदम उठाया था।' बता दें सुरेश आंगड़ी नेता होने के साथ शुरू से ही एक संघी थे। उनके निधन पर आरएसएस के लोगों में शोक की लहर है।

रेल राज्यमंत्री के निधन पर राष्ट्रपति, उपराष्ट्रपति, पीएम मोदी ने जाहिर किया दुख

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
केंद्रीय रेल राज्य मंत्री सुरेश अंगड़ी का कोरोना से निधन, जानिए उनका शानदार राजनीतिक करियर
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X