• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

LAC पर चीन के साथ हुई झड़प में भारत के 20 सैनिक शहीद: भारतीय सेना

|

नई दिल्ली। लद्दाख में भारत-चीन सेना के बीच तनाव बढ़ता ही जा रहा है, इसी बीच खबर आ रही है कि लद्दाख के गैलवान घाटी में सोमवार की रात भारत और चीन सेना के बीच हुई झड़प में इंडियन आर्मी के 20 जवान शहीद हुए हैं। भारतीय सेना ने इस खबर की पुष्टि की है। भारतीय सेना ने बयान में बताया कि 15-16 जून की रात भारत-चीन की झड़प हुई थी, लाइन ऑफ ड्यूटी पर 17 भारतीय टुकड़ियां जख्मी हुई हैं। वहीं, उप-शून्य तापमान में हमारे जवान देश की सुरक्षा के लिए शहीद हुए हैं, जिनकी संख्या 20 है। भारतीय सेना राष्ट्र की क्षेत्रीय अखंडता और संप्रभुता की रक्षा के लिए दृढ़ता से प्रतिबद्ध है। बता दें कि इससे पहले कर्नल समेत 2 जवानों के शहीद होने की जानकारी थी। लद्दाख में चल रहे सीमा विवाद के बीच भारतीय सेना और चीनी सैनिकों के बीच हुई हिंसक झड़प में गोली चलने की खबर नहीं है लेकिन पत्थरों और लोहे की छड़ से हमला किए जाने की पुष्टि हुई है।

    India China Tension: LAC पार Chinese Helicopter ने हताहत सैनिकों को किया एयरलिफ्ट | वनइंडिया हिंदी
    चीन के 43 सैनिकों के मारे या घायल होने की खबर

    चीन के 43 सैनिकों के मारे या घायल होने की खबर

    न्यूज एजेंसी एएनआई के मुताबिक हिंसक झड़प में चीन के भी 43 सैनिकों के मारे या गंभीर रूप से घायल होने की खबर है। मालूम हो कि यह घटना तब हुई जब लद्दाख के गलवान घाटी के पास दोनों देशों के बीच बातचीत के बाद सबकुछ सामान्य होने की स्थिति आगे बढ़ रह थी। हिंसक झड़क के बाद मंगलवार को केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह के दिल्ली आवास पर विदेश मंत्री एस जयशंकर, सीडीएस बिपिन रावत, सेनाप्रमुख जनरल एमएम नरवाणे के बीच अहम बैठक हुई थी।

    भारतीय विदेश मंत्रालय ने जारी किया बयान

    भारत-चीन सेना के बीच झड़प पर भारतीय विदेश मंत्रालय ने भी एक बयान जारी कर चीन को कड़ी चेतावनी दी है। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अनुराग श्रिवास्तव ने कहा, भारत ने हमेशा वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) का सम्मान किया है, सोमवार की रात वहां पर जो हुआ उससे बचा जा सकता था। मंत्रालय ने आगे कहा, सीमा प्रबंधन के लिए इसके जिम्मेदार दृष्टिकोण को देखते हुए, भारत बहुत स्पष्ट है कि उसकी सभी गतिविधियां हमेशा एलएसी के भारतीय पक्ष में हैं। उन्होंने आगे कहा, सीमा प्रबंधन के लिए इसके जिम्मेदार दृष्टिकोण को देखते हुए, भारत बहुत स्पष्ट है कि उसकी सभी गतिविधियां हमेशा एलएसी के भारतीय पक्ष में हैं। हम चीनी पक्ष से भी यही अपेक्षा करते हैं।

    चीन ने लगाया ये आरोप

    उधर, चीन ने हिंसक झड़प के लिए भारत पर बड़ा आरोप लगया है। चीन के ग्लोबल टाइम्स ने पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (पीएलए) के प्रवक्ता ने कहा, भारतीय सैनिकों ने गालवान घाटी क्षेत्र में वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) को फिर से पार किया और भड़काऊ हमलों की शुरुआत की जिससे गंभीर संघर्ष हुआ और दोनों पक्षों को नुकसान झेलना पड़ा।

    घायल सैनिकों को एयरलिफ्ट कर रहा चीन

    एएनआई की रिपोर्ट के मुताबिक सीमा पर भारत और चीन की तरफ से सुरक्षा बढ़ा दी गई है। LAC पर चीनी चॉपर गतिविधि में वृद्धि हुई है, बताया जा रहा है कि गालवान घाटी में भारतीय सैनिकों के साथ आमने-सामने की हिंसक झड़प में हताहत हुए सैनिकों को एयरलिफ्ट कर अस्पताल ले जाया जा रहा है। बता दें कि शहीद हुए भारतीय जवानों में अभी तक कमांडिंग ऑफिसर (सीओ) कर्नल रैंक के आफिसर समेत तीन सैनिकों के शहीद होने की जानकारी है।

    यह भी पढ़ें: लद्दाख मसले पर रक्षा मंत्री के घर दिन की लगातार दूसरी अहम बैठक खत्म, CDS और सेना प्रमुख रहे मौजूद

    English summary
    sources said 20 Indian soldiers martyred in LAC clash with China
    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X