• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

ठीक हुए आचार्य बालकृष्ण, जानिए पतंजलि समूह से लेते हैं कितनी सैलरी

|

नई दिल्ली। योग गुरु बाबा रामदेव के सहयोगी और पतंजलि आयुर्वेद लिमिटेड के एमडी आचार्य बालकृष्ण ऋषिकेश स्थित एम्स से इलाज कराने के बाद अब पूरी तरह ठीक हैं और हॉस्पिटल से छुट्टी मिलने के बाद पतंजलि योगपीठ लौट आए हैं। आचार्य बालकृष्ण को तबीयत खराब होने के बाद एम्स में भर्ती कराया गया था। ठीक होने के बाद आचार्य बालकृष्ण ने खुद ट्वीट करते हुए बताया, 'हॉस्पिटल की यात्रा पूर्ण करके पतंजलि आ गया हूं, आप सबकी प्रार्थनाओं व शुभकामनाओं के लिए हृदय से कृतज्ञ हूं।' आचार्य बालकृष्ण योगगुरु बाबा रामदेव के साथ पतंजलि योगपीठ हरिद्वार के सह-संस्थापक हैं। आइए जानते हैं कि आचार्य बालकृष्ण की पतंजलि में क्या भूमिका है और वो अपने पद पर रहते हुए पतंजलि से कितनी सैलरी लेते हैं।

पतंजलि समूह के 98.6 फीसदी शेयर आचार्य बालकृष्ण के पास

पतंजलि समूह के 98.6 फीसदी शेयर आचार्य बालकृष्ण के पास

आचार्य बालकृष्ण पतंजलि योगपीठ हरिद्वार में पतंजलि आयुर्वेद लिमिटेड के मैनेजिंग डायरेक्टर के पद पर हैं। पतंजलि समूह के 98.6 फीसदी शेयर आचार्य बालकृष्ण के पास हैं। हालांकि आचार्य बालकृष्ण पतंजलि ग्रुप से एक रुपए की भी सैलरी नहीं लेते। बीते 26 मई को आचार्य बालकृष्ण को संयुक्त राष्ट्र संघ की संस्था यूएनएसडीजी ने दुनिया के 10 सबसे प्रभावशाली लोगों की सूची में शामिल किया था। मार्च 2018 में फोर्ब्स ने उनकी संपत्ति 6.1 बिलियन अमेरिकी डॉलर बताई थी।

आयुर्वेद के प्रचार-प्रसार में जुटे हैं आचार्य बालकृष्ण

आयुर्वेद के प्रचार-प्रसार में जुटे हैं आचार्य बालकृष्ण

मूल रूप से नेपाल के रहने वाले आचार्य बालकृष्ण का आयुर्वेद और जड़ी-बूटियों के बारे में गहन अध्ययन है और वो आयुर्वेद के प्रचार-प्रसार में निरंतर जुटे रहते हैं। आचार्य बालकृष्ण ने आयुर्वेद से संबंधित कई पुस्तकें भी लिखी हैं। शायद यही वजह है कि 4 अगस्त 1972 को जन्मे आचार्य बालकृष्ण के जन्म दिवस को पतंजलि योगपीठ में जड़ी-बूटी दिवस के रूप में मनाया जाता है। आचार्य बालकृष्ण को हाल ही में जेनेवा में यूएनएसडीजी हेल्थकेयर सम्मान भी दिया गया था।

2015-16 में 500 करोड़ था टर्नओवर

2015-16 में 500 करोड़ था टर्नओवर

आचार्य बालकृष्ण और बाबा रामदेव ने 1995 में हरिद्वार में दिव्य योग फार्मेसी की स्थापना की थी। इसके बाद 2006 में दोनों ने मिलकर पतंजलि आयुर्वेद की स्थापना की। पतंजलि आयुर्वेद में आयुर्वेदिक और हर्बल दवाइयां बनाई जाती हैं। आचार्य बालकृष्ण स्वयं बताते हैं कि उन्होंने ऐसे समय में 50-60 करोड़ का लोन लिया था जब उनके नाम पर किसी बैंक में एक खाता भी नहीं था। 2012 में कंपनी ने अपना टर्नओवर 450 करोड़ रुपए घोषित किया, जो 2015-16 में बढ़कर 500 करोड़ हो गया।

लोगों ने उठाए सवाल तो रामदेव ने दिया जवाब

लोगों ने उठाए सवाल तो रामदेव ने दिया जवाब

आचार्य बालकृष्ण को तबीयत खराब होने के बाद जब एम्स में भर्ती कराया गया तो सोशल मीडिया पर लोगों ने कमेंट करते आयुर्वेद पर सवाल खड़े किए। इसके जवाब में स्वयं बाबा रामदेव ने ट्वीट करते हुए कहा, 'जिन लोगों ने आचार्य बालकृष्ण के स्वास्थ्य के लिए चिंता जताई, उसके लिए आभार। जन्माष्टमी पर एक व्यक्ति पेड़ा लेकर आ गया था, उसको खाकर उन्हें कुछ घंटे की बेहोशी आ गई थी। अब स्थिति धीरे-धीरे सामान्य हो रही है। आप सबकी प्रार्थनाओं व भगवान की कृपा से आचार्य शीघ्र स्वस्थ होंगे।'

ये भी पढ़ें- रामदेव के सहयोगी आचार्य बालकृष्ण की बिगड़ी तबीयत, एम्स में कराया गया भर्ती

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Some Facts About Acharya Balkrishna MD Of Patanjali Ayurved.
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X