POK के पीएम के बयान से पाक में बवाल, तो क्‍या भारत में शामिल हो जाएगा PoK?

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्‍ली। पाक अधिकृत कश्‍मीर (PoK) के प्रधानमंत्री रजा फारूख हैदर के एक बयान पर पाकिस्‍तान में बवाल मचा हुआ है। रजा फारूख ने शनिवार को कहा कि आजाद जम्‍मू-कश्‍मीर के लोगों को अब यह सोचने की जरूरत नहीं है कि उन्‍हें किस देश से सबसे ज्‍यादा लगाव है। इस बयान को लेकर खलबली इसलिए भी मची है क्‍योंकि हाल ही में नवाज शरीफ को पनामागेट मामले में आरोपी पाए जाने के बाद प्रधानमंत्री पद से हटाया गया है।

 फारूख हैदर ने बदला पैंतरा, तो क्‍या भारत में शामिल हो जाएगा PoK?

उनके पद से हटने के बाद इस तरह के बयान का खासा मलतब निकाला जा रहा है। फारूख के इस बयान को लेकर पाकिस्‍तान के पंजाब असेंबली में उनके खिलाफ एक प्रस्‍ताव पेश किया गया है जिसमें उनके इस्‍तीफे की मांग की गई है। अपने बयान में हैदर ने कहा कि 'मुझे सोचना पड़ेगा, बतौर कश्मीरी कि मैं किस मुल्क के साथ अपनी किस्मत को जोडूं।'

उल्‍लेखनीय है कि पाक अधिकृत कश्‍मीर का जो भी प्रधानमंत्री बनता है उसे पाकिस्‍तान अपने इशारे पर घुमाता है। लेकिन फारूख हैदर ने जिस तरह बगावत के सुर छेड़े हैं उससे साफ जाहिर है कि पीओके के लोग अब पाकिस्‍तान के जुल्‍मों से परेशान हो चुके हैं। गौर करने वाली बात ये है कि पीओके के लोगों का भारत पर भरोसा बढ़ा है।

Anantnag Terrorist loot Bank । वनइंडिया हिंदी

भारत ने जम्मू-कश्मीर में जिस तरह से अलगाववादी नेताओं पर लगाम कसी है। उसके बाद आतंक का कारोबार ठप हो गया है। भारत के इस कदम से भी पीओके की जनता की उम्मीदें बढ़ी हैं। जनता के मूड को देखकर पीओके के प्रधानमंत्री को भी पैंतरा बदलने का ये सही वक्त लगा इसलिए उन्होंने पाकिस्तान के खिलाफ बगावत की आवाज बुलंद कर दी।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
PoK PM Says He’s Not Sure About Remaining With Pakistan.
Please Wait while comments are loading...