• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

निर्भया केस: नया डेथ वारंट जारी होने के बाद दोषियों को दिखने लगी मौत, विनय ने जेल की दीवार पर दे मारा सिर

|

नई दिल्ली। निर्भया केस में दिल्‍ली की पटियाला हाउस कोर्ट ने चारों दोषियों को तीसरा डेथ वारंट जारी किया है। डेथ वारंट के मुताबिक 3 मार्च को सुबह 6 बजे चारों दोषियों मुकेश, पवन, विनय और अक्षय को तिहाड़ जेल में फांसी पर लटका दिया जाएगा। कोर्ट के इस फैसले के बाद दोषियों के वकील कानूनी हथकंडे अपनाने में लगे हैं तो वहीं दोषियों के चेहरे पर मौत का खौफ भी साफ दिखाई दे रहा है। चारों में से एक दोषी विनय ने इसी घबराहट में सेल की दीवार पर अपना सिर दे मारा और खुद को नुकसान पहुंचाने की कोशिश की, हालांकि सुरक्षाकर्मियों ने तुरंत ही दोषी को रोक लिया।

    Nirbhaya Case :Accused Vinay Sharma को मौत का खौफ, Tihar Jail में उठाया ये कदम | वनइंडिया हिंदी
    विनय ने खुद को नुकसान पहुंचाने की कोशिश की

    विनय ने खुद को नुकसान पहुंचाने की कोशिश की

    जानकारी के मुताबिक, विनय को प्राथमिक उपचार के बाद दोबारा सेल में बंद कर दिया गया है। इस मामले में जेल प्रशासन का कहना है कि विनय को मामूली चोट आई है। वहीं, सूत्रों के मुताबिक नया डेथ वारंट जारी होने के बाद दोषियों के व्यवहार में बदलाव देखने को मिला है, वे पहले से ज्यादा आक्रामक हो गए हैं। वे अभी भी किसी से ज्यादा बात नहीं करते हैं और अपने सेल में वे गुस्से में दिखाई देते हैं।

    ये भी पढ़ें: अचानक हुनर हॉट पहुंचे पीएम मोदी से स्टॉल वाले अताउर रहमान ने हाथ मिलाने के बाद क्या कहा

    अतिरिक्त सुरक्षाकर्मी की तैनाती की गई

    अतिरिक्त सुरक्षाकर्मी की तैनाती की गई

    विनय ने सेल में खुद को नुकसाने पहुंचाने की कोशिश की, ये खबर मिलते ही जेल प्रशासन सकते में आ गया। विनय को तुरंत अस्पताल ले जाया गया और उसका प्राथमिक उपचार कराया गया। विनय की आक्रामकता को देखते हुए उसके सेल के बाहर अतिरिक्त सुरक्षाकर्मी की तैनाती की गई है। इसके अलावा दोषियों के सेल में अलार्म भी है ताकि आपात स्थिति में तुरंत हालात पर काबू पाया जा सके। दोषियों को सामान्य रखने के लिए लगातार उनकी काउंसिलिंग की जा रही है।

    3 मार्च को दी जानी है फांसी

    3 मार्च को दी जानी है फांसी

    दूसरी तरफ, कोर्ट द्वारा नया डेथ वारंट जारी होने पर दोषियों के वकील एपी सिंह ने कहा था कि उनके पास अभी भी कानूनी विकल्प मौजूद हैं। सिंह ने कहा था कि अक्षय के लिए अभी भी दया याचिका का विकल्प खुला है। विनय के वकील ने कोर्ट से कहा था कि उनका मुवक्किल मानसिक रूप से काफी बीमार है, लिहाजा उसे इस वक्त फांसी नहीं दी जा सकती। तब अदालत ने तिहाड़ जेल के अधीक्षक को कानून के मुताबिक विनय का ख्याल रखने का निर्देश दिया। हालांकि, सुप्रीम कोर्ट ने विनय की मेडिकल रिपोर्ट देखने के बाद इस बात को खारिज कर दिया था।

    मुझे न्याय व्यवस्था पर पूरा भरोसा- निर्भया की मां

    मुझे न्याय व्यवस्था पर पूरा भरोसा- निर्भया की मां

    वहीं दोषियों के खिलाफ डेथ वारंट जारी होने के बाद निर्भया की मां आशा देवी ने कहा कि वो बहुत ज्यादा खुश नहीं हैं। चारों दोषियों के खिलाफ डेथ वारंट जारी होने के बाद निर्भया की मां ने कहा, 'मैं बहुत खुश नहीं हूं क्योंकि यह तीसरी बार है जब इन चारों दोषियों के खिलाफ डेथ वारंट जारी किया गया है। हमने बहुत संघर्ष किया है, इसलिए मैं संतुष्ट हूं कि आखिरकार इन चारों दोषियों के खिलाफ डेथ वारंट जारी कर दिया गया है।' आशा देवी ने कहा, 'मुझे न्याय व्यवस्था पर पूरा भरोसा है और मैं उम्मीद करती हूं कि 3 मार्च को निर्भया के चारों दोषियों को फांसी पर लटका दिया जाएगा।'

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    nirbhaya case one of convict vinay sharma tried to harm himself, hit his head on wall
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X