तानाशाही व अड़ियल रवैया छोड़ पीएम देशहित में सोचे- मायावती

Written By:
Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। बसपा सुप्रीमो मायावती ने नोटबंदी से लोगों को हो रही दिक्कतों पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर जमकर हमला बोला है। मायावती ने कहा कि पीएम को तानाशाही और अड़ियल रवैया छोड़कर देशहित में सोचना चाहिए।

mayawati

नोटबंदी के खिलाफ भाजपा सांसदों ने ही खोला मोर्चा

बिना तैयारी के की नोटबंदी

मायावती ने कहा कि केंद्र सरकार के नोटबंदी के फैसले के पाद पूरे देश की जनता पीड़ित है। केंद्र सरकार ने इस फैसले को लागू करने से पहले इसके लिए कोई भी तैयारी नहीं की।

2000 रुपए की फोटोकॉपी से दुकानदार को चूना लगा गए स्कूली बच्चे

पीएम को सदन में सांसदों को सुनना चाहिए

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को सदन में आना चाहिए और उन्हें उन लोगों को सुनना चाहिए जो इस मुद्दे पर अपनी राय रख रहे हैं। मायावती ने कहा कि इन बातों को सुनने के बाद पीएम को नोटबंदी के फैसले में जो भी कमियां है उसे दूर करना चाहिए।

बैंक कर्मियों की भर्ती की जानी चाहिए थी

बैंक कर्मियों से लिए जा रहे अतिरिक्त काम पर भी मायावती ने केंद्र सरकार को घेरा, उन्होंने कहा कि बैंक कर्मियों से अधिक काम लेने की वजह से उनसे स्वास्थ्य पर असर पड़ रहा है। सरकार को इस फैसले से पहले और बैंक कर्मियों की भर्ती किया जाना चाहिए था।

आजम को सोच-समझकर बोलना चाहिए

वहीं मायावती ने आजम खान पर कोर्ट के फैसले पर टिप्पणी करते हुए कहा कि उन्हें मांफी मांगने की जरूरत नहीं है, अगर उन्होंने सोच समझकर बयान दिया होता तो इस बात की नौबत ही नहीं आती।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Mayawati takes a jibe on PM Narendra Modi over demonetization. She says PM should rethink his decision and solve the public panic.
Please Wait while comments are loading...