• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

सरकार बनाने को तैयार है NCP, लेकिन शिवसेना की ये मांग मंजूर नहीं

|

मुंबई। महाराष्ट्र में लागू राष्ट्रपति शासन के बीच कांग्रेस, एनसीपी और शिवसेना की ओर से सरकार बनाने की कोशिश जारी है। मुंबई में तीनों पार्टियों के नेताओं के बीच सरकार गठन को बैठक लगातार जारी है। गुरुवार को खबर आ रही थी कि एनसीपी शिवसेना के साथ सरकार बनाने को तैयार है। हालांकि, शरद पवार की पार्टी शिवसेना की 5 साल के मुख्यमंत्री की मांग से सहमत नहीं है। सूत्रों के हवाले से खबर आ रही है कि एनसीपी भी 50-50 फॉर्मूले के पक्ष में है।

    Maharashtra में बन गई बात,इस formula पर होगा Government का गठन | वनइंडिया हिंदी
    एनसीपी भी 50-50 फॉर्मूले के पक्ष में

    एनसीपी भी 50-50 फॉर्मूले के पक्ष में

    दरअसल, शिवसेना ने भाजपा के सामने यही शर्त रखी थी जिसपर समझौता नहीं हो सका था और बीजेपी-शिवसेना के रास्ते अलग हो गए थे। अब खबर आ रही है कि एनसीपी शिवसेना के साथ सरकार बनाने को इच्छुक है लेकिन ढाई साल के लिए वह अपना सीएम चाहती है। जबकि कांग्रेस भी तीनों दलों के बीच बराबर-बराबर मंत्री पद की मांग कर रही है। ऐसे में एनसीपी की ढाई साल के सीएम की मांग पर फिलहाल पेंच फंसता दिखाई दे रहा है।

    ये भी पढ़ें: अयोध्या: रामजन्मभूमि न्यास प्रमुख के खिलाफ आपत्तिजनक टिप्पणी के आरोप में परमहंस दास हिरासत में लिए गए

    कांग्रेस कैबिनेट में बराबर हिस्सेदारी मांग रही

    कांग्रेस कैबिनेट में बराबर हिस्सेदारी मांग रही

    एनसीपी-कांग्रेस और शिवसेना के नेता पिछले दो दिनों से लगातार बैठक कर रहे हैं और उनके बीच कॉमन मिनिमम प्रोग्राम पर सहमति बन गई है। सूत्रों के हवाले से मिली जानकारी के मुताबिक, अब तक जिन मुद्दों पर सहमति बनी है उनमें किसानों की कर्जमाफी, फसल बीमा योजना की समीक्षा, रोजगार और छत्रपति शिवाजी महाराज और बीआर अंबेडकर स्मारक का मुद्दा शामिल है।

    महाराष्ट्र में नहीं बन पाई है चुनाव के बाद सरकार

    महाराष्ट्र में नहीं बन पाई है चुनाव के बाद सरकार

    इसके पहले, गुरुवार को शिवसेना नेता एकनाथ शिंदे ने महाराष्ट्र में सरकार गठन के लिए कांग्रेस,शिवसेना और एनसीपी की संयुक्त बैठक के बाद मीडिया से बात करते हुए कहा कि, साझा न्यूनतम कार्यक्रम पर चर्चा हुई, एक ड्राफ्ट तैयार किया गया है। तीनों पार्टियों के हाई कमांड को इस ड्राफ्ट को भेजा जाएगा। हाई कमांड ही इसपर आखिरी फैसला लेगा। एकनाथ शिंदे ने कहा था कि दोबारा चुनाव ना हो इसलिए हमने कॉमन मिनिमम प्रोग्राम बनाया है जिसे लेकर हम आगे जाने वाले हैं। जबकि कांग्रेस की ओर से पृथ्वीराज चव्हाण ने कहा कि दो दिनों तक हमारी बातचीत चली। ड्राफ्ट में क्या है इसका खुलासा फिलहाल हम यहां नहीं कर सकते।

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    maharashtra: ncp ready to form the government with shiv sena but with 50-50 agreement
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X